भारत ने पाकिस्तान को 124 रनों से रोंदा


बर्मिंघम : 04 जून (वार्ता)ओपनरों रोहित शर्मा(91) और शिखर धवन(68) के शानदार अर्धशतकों के बाद कप्तान विराट कोहली (नाबाद 81) और सिक्सर किंग युवराज सिंह(53) के आतिशी पचासे से गत चैंपियन भारत ने पाकिस्तान को आईसीसी चैंपियंस ट्राफी के वर्षा बाधित ग्रुप बी मुकाबले में रविवार को एकतरफा अंदाज में डकवर्थ लुईस नियम के तहत 124 रन के बड़े अंतर से रौंद दिया। भारत ने 48 ओवर में तीन विकेट पर 319 रन का विशाल स्कोर बनाया लेकिन डकवर्थ लुईस नियम के तहत पाकिस्तान को पहले 48 ओवर में 324 रन बनाने का लक्ष्य दिया गया। लेकिन फिर पाकिस्तान की पारी के दौरान बारिश आने से लक्ष्य को 41 ओवर में 289 कर दिया गया। पाकिस्तान की टीम 33.4 ओवर में 164 रन पर ढेर हो गयी। भारत की पाकिस्तान के खिलाफ चैंपियंस ट्राफी में चार मुकाबलों में यह दूसरी जीत है और उसने 2009 से आईसीसी टूर्नामेंटों में पाकिस्तान के खिलाफ अपराजित रहने का अपना रिकार्ड कायम रखा। चैंपियंस ट्राफी के जिस मैच को महामुकाबला माना जा रहा था उसे भारत ने अपने बल्लेबाजों और गेंदबाजों के महापराक्रम से एकतरफा बना दिया। पाकिस्तान की टीम पूरे मैच के दौरान भारतीय टीम के सामने टिक नहीं सकी।

रोहित ने पाकिस्तान कके खिलाफ अपना सर्वश्रेष्ठ स्कोर बनाया और 119 गेंदों पर 9। रन में सात चौके और दो छक्के लगाये। शिखर ने भी तीखे तेवर दिखाते हुये 65 गेंदों पर 68 रन में छह चौके और एक छक्का लगाया। कप्तान विराट ने पाकिस्तान के खिलाफ अपना आक्रामक रूख यहां भी बरकरार रखते हुये 68 गेंदों पर नाबाद 8। रन में छह चौके और तीन छक्के उड़ाये। युवराज ने विस्फोटक अंदाज में खेलते हुये 32 गेंदों में आठ चौकों और एक छक्के की मदद से 53 रन ठोक डाले। हार्दिक पांड्या को छह गेंदे खेलने का मौका मिला जिसमें उन्होंने तीन छक्के उड़ाते हुये नाबाद 20 रन ठोक दिये। पाकिस्तानी बल्लेबाज भारतीय तेज गेंदबाजों और लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद, जडेजा के सामने टिक नहीं सके। उमेश यादव ने 30 रन पर तीन विकेट, रवींद, जडेजा ने 43 रन पर दो विकेट, हार्दिक पांड्या ने 43 रन पर दो विकेट और भुवनेश्वर कुमार ने 23 रन पर एक विकेट लिया। ओपनर अत्रहर अली ने सर्वाधिक 50 रन और मोहम्मद हफीज ने 33 रन बनाये। जडेजा ने इन दोनों ही बल्लेबाजों को पवेलियन भेजा और शोएब मलिक (15) को अपने सीधे थ्रो से रनआउट किया। हार्दिक पांड्या ने पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद (15) और इमाद वसीम (शून्य) के विकेट झटके। भुवनेश्वर कुमार ने पारी की शुरूआत में अहमद शहत्राद (12) को पगबाधा किया जबकि उमेश यादव ने बाबर आत्रम (आठ) को जडेजा के हाथों कैच कराया। उमेश यादव ने 34वें ओवर में मोहम्मद आमिर और हसन अली के विकेट तीन गेंदों के अंतराल में झटक लिये। वहाब रियाज चोटिल होने के कारण बल्लेबाजी करने नहीं उतरे और पाकिस्तान की पारी 164 रन पर सिमट गयी। भारत की पारी के दौरान तीन बार वर्षा आई।

पहली बार 9.5 ओवर में बारिश आयी तब भारत का बिना किसी विकेट के नुकसान के 46 रन था। दूसरी बार 33.1 ओवर में बारिश आयी और तब भारत का स्कोर एक विकेट पर 173 रन था। इस समय खेल शुरू होने पर ओवरों की संख्या घटाकर 48 कर दी गयी। 47.4 ओवर के समय फिर बारिश आने लगी लेकिन अंपायरों ने बची दो गेंदे पूरी करा दीं। विराट ने आखिरी गेंद पर शानदार चौका जड़ा और भारत का स्कोर 319 रन पहुंच गया। भारत ने आखिरी चार ओवरों में युवराज के नुकसान पर 72 रन ठोक डाले। भारत के एकदिवसीय इतिहास में यह तीसरा मौका है जब उसके शीर्ष चार बल्लेबाजों ने अर्धशतक बनाये हैं। इससे पहले के दो आंकड़े इंग्लैंड के खिलाफ हैंडिग्ले में 2007 में और इंदौर में 2006 में थे। रोहित ने पाकिस्तान के खिलाफ अपना सर्वश्रेष्ठ स्कोर बनाया। रोहित ने शिखर के साथ पहले विकेट के लिये 24.3 ओवर में 136 रन की साझेदारी की। यह दोनों के बीच चैंपियंस ट्राफी में तीसरी शतकीय साझेदारी है और उन्होंने टूर्नामेंट में सर्वाधिक शतकीय साझेदारी का नया रिकार्ड बना दिया है। पाकिस्तान के कप्तान सरफराज अहमद ने टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण करने का फैसला किया जिसका भारतीय बल्लेबाजों ने जमकर फायदा उठाया। भारतीय बल्लेबाजों ने अपनी पारी में 27 चौके और 10 छक्के उड़ाये। रोहित का थोड़ा दुर्भाज्ञ रहा कि जब वह अपने शतक से नौ रन दूर थे कि एक तेज सिंगल  चुराने की कोशिश में बाबर आत्रम के थ्रो से रन आउट हो गये। पिछले कुछ समय से फार्म की तलाश में जूझ रहे रोहित ने आखिर उस समय अपनी फार्म हासिल कर ली जब भारत को इसकी जरूरत थी। रोहित और शिखर की शुरूआत धीमी रही और भारत 10.4 ओवर में 50 रन तक पहुंच सका। लेकिन इसके बाद दोनों बल्लेबाजों ने गति पकड़ी और आसानी से रन बटोरे। रोहित ने अपना अर्धशतक 50 गेंदों में और शिखर ने 48 गेंदों में पूरा किया। शिखर को शादाब खान ने अजहर अली के हाथों कैच कराया। भारत का पहला विकेट गिरने के बाद कप्तान विराट मैदान में उतरे और रोहित तथा विराट ने दूसरे विकेट के लिये 12.1 ओवर में 56 रन की साझेदारी की। यह साझेदारी धीमी रही जिससे लग रहा था कि भारत के लिये 260 तक पहुंचना भी मुश्किल हो जाएगा। लेकिन रोहित के आउट होने के बाद मैदान में उतरे युवराज ने भारतीय पारी का नक्शा ही बदल दिया।

विराट और युवराज के बीच तीसरे विकेट के लिये मात्र 9.4 ओवर में 93 रन की साझेदारी हुई जिसमें युवराज का योगदान 53 रन था। पाकिस्तानी फील्डरों ने युवराज और विराट दोनों को एक एक जीवनदान दिया जो उनके लिये काफी महंगा साबित हुआ। युवराज को उनके आठ रन के निजी स्कोर पर हसन अली ने शादाब की गेंद पर जीवनदान दिया जबकि विराट को उनके 44 के स्कोर पर जीवनदान मिला जिसका दोनों ने पूरा फायदा उठाया। युवी के मुकाबले हालांकि रोहित और विराट के स्कोर बड़े थे लेकिन जिस अंदाज में उन्होंने अपना अर्धशतक जड़ा उससे वह मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार ले उड़े। 44 ओवर की समाप्ति तक भारत का स्कोर 247 रन था। इस ओवर की आखिरी गेंद पर फख़र जमान ने विराट को जीवनदान दिया। उस समय विराट का स्कोर 44 रन था और गेंदबाज वहाब रियात्र थे। 45वें ओवर में युवराज ने हसन अली पर दो चौके और विराट ने एक छक्का मारा। इस छक्के से विराट ने जैसे अपना हाथ खोल दिया। 46वें ओवर में विराट ने वहाब की पहली दो गेंदों पर चौका और छक्का लगाया जबकि चौथी गेंद पर युवराज ने चौका जड़ दिया। युवराज 47वें ओवर की दूसरी गेंद पर हसन अली का शिकार बन गये लेकिन विराट ने इस ओवर में एक चौका और एक छक्का लगाया। आखिरी ओवर में ऑलराउंडर
हार्दिक पांड्या ने इमाद वसीम की पहली तीन गेंदों पर जबरदस्त छक्के जड़े जिसने भारत को रॉकेट की तेत्री से 319 रन तक पहुंचा दिया। डकवर्थ लुईस नियम के तहत पाकिस्तान के लिये लक्ष्य 324 रन रखा गया। पाकिस्तान के दो तेज गेंदबाज इस दौरान चोटिल हो गये। मोहम्मद आमिर अपने नौवें ओवर की पहली गेंद फेंककर पवेलियन लौट गये जबकि वहाब भी अपने नौवें ओवर की पांचवीं गेंद फेंकने के बाद चोटिल हो गये। पाकिस्तान के लिये हसन अली ने 70 रन पर एक विकेट और शादाब ने 52 रन पर एक विकेट लिया। वहाब ने 87 और
इमाद ने 66 रन लुटाये।

(वार्ता)

Choose A Format
Poll
Voting to make decisions or determine opinions
Story
Formatted Text with Embeds and Visuals
List
The Classic Internet Listicles
Video
Youtube, Vimeo or Vine Embeds
Thanks for loving our story. Like our Facebook page to get more stories.