24 साल की उम्र में मामूली रेलवे क्लर्क से बना करोड़पति ये शख्स, जानिए कैसे


इंसान की किस्मत का पासा कब पलट जाए ये कोई नहीं कह सकता, आपने कई ऐसे किस्से सुने होंगे जब एक इंसान फर्श से अर्श तक पहुंचे हो। कुछ लोग मानते है ऐसा होने में इंसान के भाग्य का सबसे बड़ा हाथ है पर सफलता के शीर्ष पर पहुँचने के लिए जो मेहनत होती है उस पर भी नज़र डालना बेहद जरूरी है।

आज हम आपको बताने वाले है एक ऐसे इंसान ने जिसने रेलवे में एक छोटे से क्लर्क की नौकरी से अपनी जिंदगी में आगे बढ़ने की शुरुआत की लेकिन अपनी मेहनत के दम पर आज वो करोड़पति शख्सियत है। हम बात कर रहे है बेंगलुरु की कबड्डी टीम के प्लेयर ‘मोहित चिल्लर’ की , जिन्हे इस साल इन्हे ऑक्शन में करीब 60 लाख रूपए में खरीदा गया है।

कब्बड्डी प्रो लीग के प्रतिष्ठित खिलाडियों में से एक मोहित चिल्लर मात्र २४ साल की उम्र में करोड़पति बनने वाले पहले कब्बड्डी खिलाडी है। मोहित कब्बड्डी प्रो लीग से पहले रेलवे में एक क्लर्क के पद पर कार्यरत थे लेकिन कब्बड्डी के प्रति उनका जूनून और बेहतरीन प्रदर्शन ने उन्हें आज इस मुकाम तक पहुँचाया है।

मोहित दिल्ली के छोटे से गांव नजिमपुर के रहने वाले है और काम उम्र से ही उनका रुझान कब्बड्डी की तरफ काफी था और गांव के सीनियर खिलाडियों से ये कबड्डी का प्रशिक्षण लेते हुए बड़े हुए है।

मोहित ने कड़े संघर्ष के बाद भारतीय कबड्डी टीम में अपना स्थान बनाया और वर्ष 2016 में साउथ एशियाई खेलों में भारत को कब्बड्डी का गोल्ड दिलाने में मोहित का अहम् योगदान था। उनके इस बेहतरीन प्रदर्शन के चलते उन्हें प्रो कबड्डी लीग में इस बार इतनी बड़ी इनामी राशि के साथ खरीदा गया है।