अमेरिका-सऊदी अरब केे बीच अब तक का सबसे बड़ा हथियार समझौता


दुबई : अमेरिका और सऊदी अरब ने रिश्तों में गर्माहट लाने के लिए 350 अरब डॉलर के व्यापार समझौते पर हस्ताक्षर किये हैं जिसमें 110 अरब डॉलर का अब तक का सबसे बड़ा हथियार समझौता भी शामिल हैं। अपने पहले विदेश दौरे पर सऊदी अरब पहुंचे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने सऊदी के किंग सलमान की मौजूदगी में समझौते पर हस्ताक्षर किये। व्हाइट हाउस का मानना है कि सऊदी के साथ 110 अरब डॉलर का किया गया हथियार समझौता अमेरिका का अब तक का सबसे बड़ा हथियार समझौता है।

हथियार समझौता ईरान के दुष्प्रभाव का जवाब : यूएस
श्री ट्रंप के साथ सऊदी दौर पर गए अमेरिकी विदेश मंत्री रेक्स टिलरसन ने कहा कि सऊदी अरब के साथ हुआ हथियार समझौता ईरान के दुष्प्रभाव का जवाब देने के लिए किया गया है। श्री टिलरसन ने संवाददाताओं से कहा, “रक्षा प्रणाली और सेवाओं का ये पैकेज सऊदी अरब और समूचे खाड़ी क्षेत्र की दीर्घकालिक सुरक्षा को मत्रबूती प्रदान करेगा।” राष्ट्रपति ट्रंप अरब इस्लामी अमेरिकी शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे और यहां पर वह इस्लाम के बारे में अपने विचार रखेंगे। वह इस्लाम के शांतिपूर्ण दर्शन पर बोलेंगे। श्री ट्रंप के साथ उनकी बेटी इवांका और दामाद जेरेड कुशनर भी आए हैं।

राष्ट्रपति ट्रंप ऐसे समय में आठ दिन के विदेशी दौरे पर हैं जब अमेरिका में संघीय जांच ब्यूरो (एफबीआई) के निदेशक जेम्स कोमी को पद से हटाने का मामला गर्माता जा रहा है। श्री ट्रंप सऊदी के बाद इजराइल, फिलस्तीन, वेटिकन सिटी और सिसली भी जाएंगे।