चरित्रहीन हैं इमरान खान


इस्लामाबाद  क्रिकेटर से नेता बने तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी के नेता इमरान खान पर सनसनीखेज आरोप सामने आए हैं। पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के चीफ इमरान पर उन्हीं की पार्टी की एक महिला नेता ने अश्लील मैसेज भेजने का आरोप लगाया है।

तहरीक-ए-इंसाफ की महिला नेता आयशा गुलालई ने इमरान पर आरोप लगाने के बाद पार्टी और नैशनल असेंबली, दोनों की सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है। आयशा ने इमरान खान पर पार्टी की महिला नेताओं के उत्पीडऩ का आरोप लगाया है। हालांकि पीटीआई ने इन आरोपों को खारिज करते हुआ कहा है कि आयशा ने पैसे के लिए पाकिस्तान मुस्लिम लीग-नवाज (पीएमएलएन) को अपनी आत्मा बेच दी है।

साउथ वजीरिस्तान के आदिवासी इलाके से आने वाली आयशा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में आरोप लगाया कि पीटीआई से जुड़ी महिलाओं की इज्जत सुरक्षित नहीं है। पार्टी छोडऩे की घोषणा करते हुए आयशा ने कहा, मेरी ईमानदारी मेरे लिए सबसे अधिक मायने रखती है और जब बात सम्मान और इज्जत की हो मैं समझौता नहीं कर सकती।

आयशा ने मैसेज की जानकारी देने से इंकार करते हुए कहा, वे इतने घटिया हैं कि कोई भी उन्हें बर्दाश्त नहीं कर सकता। खान पर निशाना साधते हुए आयशा ने कहा कि वह मानसिक समस्या से जूझ रहे हैं और अपने से बेहतर लोगों से उन्हें जलन होती है। आयशा ने खैबर-पख्तूनख्वा की पीटीआई सरकार और चीफ मिनिस्टर परवेज खट्टक पर भी भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं। आयशा ने इमरान खान को चरित्रहीन बताते हुए दो नंबर का पठान कहा है। आयशा ने इमरान पर आरोप लगाया कि उन्होंने पाकिस्तान को इंग्लैंड समझ रखा है।

हालांकि पार्टी को छोड़ते हुए आयशा ने पीएमएलएन में शामिल होने से इनकार किया, लेकिन नवाज की तारीफ भी कर दी। आयशा ने कहा कि नवाज शरीफ भ्रष्ट हो सकते हैं लेकिन महिलाओं की इज्जत नहीं करने का आरोप आप उन पर नहीं लगा सकते। आयशा ने नवाज को खानदानी आदमी बताया।

आयशा गुलालई संघ शासित आदिवासी इलाके (फाटा) से महिलाओं के लिए रिजर्व सीट पर नैशनल असेंबली के लिए चुनी गई थीं। पीटीआई के प्रवक्ता फवाद चौधरी ने आयशा के आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि उन्होंने पैसों के लिए अपनी आत्मा पीएमएलएन को बेच दी है। चौधरी ने कहा, लोगों को खरीदना पीएमएलएन की पुरानी तरकीब है और उन्होंने (आयशा) खुद को बेच दिया। उनका इस्तेमाल किया गया है और उन्हें 24 घंटे में भुला दिया जाएगा।