वेनेजुएला में सैन्य अदालत ने 50 प्रदर्शनकारियों को हिरासत में लिया : गैर सरकारी संगठन


कराकस : वेनेजुएला की सैन्य अदालतों ने राष्ट्रपति निकोलस मादुरो की संकटग्रस्त सरकार के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन में शामिल कम से कम 50 नागरिकों को हिरासत में लेने का आदेश दिया है। गैर सरकारी संगठन ‘फोरो पेनाल’ (आपराधिक न्याय फोरम) से संबद्ध वकील अल्फ्रेडो रोमेरो ने कल समाचार एजेंसी एएफपी से कहा कि संदिग्ध नागरिकों से संबंधित सेना की सुनवाई कई दिन तक चलती है।

हिरासत में लिये गये नागरिकों का प्रतिनिधित्व करने वाले रोमेरो ने कहा, ”वेनेजुएला की सैन्य अदालतों में अभी तक 75 लोगों को पेश किया गया है। इनमें से पचास लोग हिरासत में ही हैं।” सरकार के अधिकारियों ने गिरफ्तारी या संदिग्ध नागरिकों के खिलाफ सैन्य प्रक्रिया की पुष्टि नहीं की है। फारो पीनल के कानूनी विशेषज्ञ लुईस बेटेनकोर्ट के अनुसार गुएरिको राज्य में 50 लोगों को हिरासत में लिया गया है। उन्होंने बताया कि दंगा रोधी सैनिकों ने कल हजारों प्रदर्शनकारियों पर आंसू गैस के गोले दागे। संविधान में सुधार के लिये मादुरो के प्रयासों के खिलाफ कई दिनों से विरोध प्रदर्शन जारी है।

अधिकारियों के मुताबिक, एक अपै्रल से जारी हिंसक विरोध प्रदर्शनों और झड़पों में अभी तक 36 लोगों की मौत हो गयी और सैकड़ों लोग जख्मी हो गये हैं।

(एएफपी)