BREAKING NEWS

आज का राशिफल (02 फरवरी 2023)◾Budget 2023-24 : गृह मंत्रालय के 1.96 करोड़ रुपये के बजट से सीएपीएफ को बड़ा हिस्सा मिला◾Budget 2023-24 : '3 साल में 400 वंदे भारत रेक में से 75 का निर्माण 2023 में करने का वादा'◾Budget 2023-24 : उच्च शिक्षा के लिए 44,094.62 करोड़ रुपये, यूजीसी, आईआईटी, केंद्रीय विश्वविद्यालयों का आवंटन बढ़ा◾Budget 2023-24 : कर छूट के कारण राजस्व में नुकसान सांकेतिक होगा - अर्थशास्त्री◾Budget 2023-24 : बजट महिला सशक्तिकरण, हरित विकास पर केंद्रित - सीतारमण◾Budget 2023-24 : प्रधानमंत्री आवास योजना के लिए आवंटन 66 प्रतिशत बढ़ाकर 79,000 करोड़ रुपये किया गया◾Budget 2023-24 : सीतारमण के सबसे छोटे बजट भाषण के दौरान PM ने 124 बार मेज थपथपाई◾Budget 2023-24 : बजट में सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के लिए 4692 करोड़ रुपये का आवंटन◾छत्तीसगढ़: कोयला लेवी घोटाले केस में ED ने पूरक आरोपपत्र दाखिल किया◾नफरत और दुर्व्यवहार के कारण पाकिस्तान टीम को कभी कोचिंग देने के बारे में नहीं सोचा: वसीम अकरम◾राहुल गांधी बोले- ‘मित्रकाल बजट’ से साबित हुआ कि सरकार के पास भविष्य के निर्माण की कोई रूपरेखा नहीं◾Peshawar Mosque Attack: आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई तेज, 17 संदिग्ध गिरफ्तार◾दिल्ली: LG सक्सेना ने 6 फरवरी को मेयर चुनने के लिए MCD सदन का सत्र बुलाने को मंजूरी दी ◾एयर मार्शल एपी सिंह ने भारतीय वायुसेना के उप प्रमुख का पद संभाला◾UP News: मुजफ्फरनगर में तीन वर्ष की बच्‍ची से दुष्कर्म और हत्या के दोषी को फांसी की सजा◾Britain: वेतन बढ़ाने की मांग को लेकर शिक्षकों व सार्वजनिक क्षेत्र के कर्मचारियों की हड़ताल◾चाहे कितनी भी हो आमदनी इन देशों में नहीं देना पड़ता टैक्स◾खाने को मौैहताज पाकिस्तान में गाड़ी की बड़ी कीमतें 26 लाख की हुई वैगनर , तीन लाख की स्पलेंडर ◾PM नरेंद्र मोदी ने कहा- बजट विकसित भारत के संकल्प को पूरा करने के लिए एक मजबूत नींव का निर्माण करेगा◾

अग्निपथ योजना देश के नवजवानों को अग्नि में झोंकने की योजना: डॉ. कन्हैया कुमार

पटना, (पंजाब केसरी) :  अग्निपथ योजना वो खतरनाक योजना है जिसकी आड़ में सेना में स्थाई भर्तियां बंद की जा रही हैं। ये देश के नौजवानों  के साथ बड़ा धोखा है। मातृभूमि की रक्षा के लिए अपना सबकुछ न्यौछावर करने के लिए तैयार देश की युवा पीढ़ी को अपमानित किया जा रहा है। मोदी सरकार चुपके-चुपके देश की सुरक्षा को ठेके पर देने की तैयारी कर रही है। ये बातें कांग्रेस के वरिष्ठ नेता डॉ कन्हैया कुमार ने कहीं।  

अग्निवीरों को भाजपा कार्यालयों में नौकरी देने जैसा वक्तव्य अपमानित करने वाला - कन्हैया कुमार कांग्रेस नेता

बिहार कांग्रेस मुख्यालय सदाकत आश्रम में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में डॉ कन्हैया कुमार मोदी सरकार पर जमकर बरसे। कन्हैया कुमार ने कहा कि भाजपा के लोग कह रहे हैं कि अग्निवीरों को भाजपा कार्यालयों में चौकीदार की चौकरी दी जाएगी। ये वक्तव्य राष्ट्रभक्ति की भावना से ओतप्रोत नवजवानों को अपमानित करने वाला है। कन्हैया कुमार ने प्रधानमंत्री के प्रेस कॉनफ्रेंस नहीं करने पर भी सवाल उठाए। 

राजनीतिक सवाल खड़ा होता हैं तो पीएम मोदी सेना को आगे खड़ा कर देते हैं 

कन्हैया कुमार ने कहा कि जब भी कोई बड़ा राजनैतिक सवाल खड़ा होता है मोदी सरकार सेना को आगे कर देती है। अग्निपथ योजना की घोषणा सरकार ने की और विरोध हुआ तो तीनों सेनाओं के प्रमुखों को मीडिया के सामने भेज दिया गया। 

 पीएम मोदी नो रैंक नो पेंशन ओनली टेंशन स्कीम वाली योजना लेकर आए हैं  

कन्हैया कुमार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वन रैंक वन पेंशन स्कीम वाले वादे की याद दिलाते हुए कहा कि अब मोदी नो रैंक नो पेंशन ओनली टेंशन स्कीम लेकर आए हैं। लाखों नजवान और उनके परिवार वाले टेंशन में हैं। कन्हैया कुमार ने ये भी कहा कि देश के पहले सीडीएस जनरल विपिन रावत ने सेना में रिटारमेंट की उम्र ब़ढ़ाने के लिए सरकार को चिट्ठियां लिखीं थीं। सरकार ने उनकी एक ना सुनी और अब तो उल्टा स्थाई भर्तियां ही बंद कर दी गईं। 

अग्निवीर योजना में चार साल का कार्यकाल साजिश का हिस्सा 

जो अग्निपथ योजना लाई गई उसके लिए चार साल की कार्यकाल भी साजिश का हिस्सा है। इसमें शामिल लोगों को ग्रेच्युटी समेत कई अन्य योजनाओं का लाभ नहीं मिलेगा।  इस मौके पर पूर्व केंद्रीय मंत्री और बिहार कांग्रेस के प्रभारी भक्त चरण दास ने कहा कि देश के नवजवानों की ताकत को चंद पूंजिपतियों का ग़ुलाम बनाया जा रहा है। अग्निवीर योजना देशभक्ति की भावना के साथ मजाक है। इसी के साथ उन्होंने सोमवार को विधानसभावार इस योजना के विरोध में आयोजित शांतिपूर्ण सत्याग्रह में ज्यादा से ज्यादा लोगों के शामिल होने की अपील की।  इस मौके पर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष डॉ मदन मोहन झा, प्रवक्ता जया मिश्रा, असित नाथ तिवारी, कुमार आशीष और ज्ञान रंजन मौजूद थे।