BREAKING NEWS

देशभर में कोरोना के 1,06,737 सक्रिय मामले, रिकवरी दर 47.99 फीसदी हुई : स्वास्थ्य मंत्रालय ◾फिल्ममेकर बासु चटर्जी के निधन पर राष्ट्रपति कोविंद और पीएम मोदी ने जताया शोक ◾ विजय माल्या का प्रत्यर्पण जल्द होने की संभावना कम, ब्रिटेन सरकार ने कानूनी मुद्दे का दिया हवाला ◾मोदी-मॉरिसन ऑनलाइन शिखर बैठक के बाद भारत, ऑस्ट्रेलिया ने महत्वपूर्ण रक्षा समझौते किये ◾केंद्र ने 2200 से अधिक विदेशी जमातियों को किया ब्लैक लिस्ट, 10 साल तक भारत यात्रा पर रहेगा बैन◾दिल्ली बॉर्डर सील मामले में SC ने तीनों राज्यों को NCR में आवागमन के लिए कॉमन नीति बनाने के दिए निर्देश◾वर्चुअल समिट में PM मोदी ने ऑस्ट्रेलिया के साथ भारत के संबंधों को मजबूत करने के लिए जाहिर की प्रतिबद्धता ◾राहुल के साथ बातचीत में राजीव बजाज ने कहा- लॉकडाउन से देश की अर्थव्यवस्था तबाह हो गई◾केरल में हथिनी की हत्या पर केंद्र गंभीर, जावड़ेकर बोले-दोषी को दी जाएगी कड़ी सजा◾कांग्रेस को मिल सकता है झटका,पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले AAP का दामन थाम सकते हैं सिद्धू ◾World Corona : दुनियाभर में करीब 4 लाख लोगों ने गंवाई जान, संक्रमितों का आंकड़ा 65 लाख के करीब ◾देश में कोरोना से संक्रमितों की संख्या 2 लाख 17 हजार के करीब, अब तक 6000 से अधिक लोगों की मौत◾प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और ऑस्ट्रेलिया के पीएम स्कॉट मॉरिसन आज वर्चुअल शिखर सम्मेलन में लेंगे हिस्सा◾US में वैश्विक महामारी का कहर जारी, संक्रमितों का आंकड़ा 18 लाख के पार ◾लद्दाख सीमा पर कम हुआ तनाव, गलवान और चुसूल में दोनों देश की सेनाएं पीछे हटीं◾नोएडा में भूकंप के झटके हुए महसूस , रिक्टर स्केल पर तीव्रता 3.2 मापी गई◾दिल्ली में कोरोना ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, बीते 24 घंटों में 1513 नए मामले आये सामने ◾कोविड-19: अब तक 40 लाख से अधिक नमूनों की जांच की गई , 48.31 फीसदी मरीज स्वस्थ ◾महाराष्ट्र में 24 घंटे में कोरोना से 122 लोगों की मौत, संक्रमितों की संख्या 74,860 हुई◾गृह मंत्रालय ने विदेशी कारोबारियों, स्वास्थ्यसेवा पेशेवरों और इंजीनियरों को भारत आने की अनुमति दी ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

संविधान विरोधी काला कानून को बिहार में लागू नहीं होने देंगे- राबड़ी देवी

पटना: बीते दिन बिहार विधानसभा में सर्वसम्मति से नेशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजन (एनआरसी) के खिलाफ प्रस्ताव पारित हो गया, जिसके साथ पूरी तरह से स्पष्ट हो गया कि नीतीश सरकार राज्य में एनआरसी लागू नहीं करेगी। साथ ही नेशनल पॉपुलेशन रजिस्टर (एनपीआर) को लेकर भी विधानसभा में सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित हुआ। एनपीआर को 2010 के आधार पर कराने का प्रस्ताव पारित किया गया, जिसमें मात-पिता की डिटेल देना जरूरी नहीं होगा।

इस प्रस्ताव पर बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री और राजद नेता राबड़ी देवी ने अपनी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि राजद सीएए, एनआरसी, एवं एनपीआर जैसे काले कानून को बिहार और देश में लागू नहीं होने देगी। 

राबड़ी देवी ने आगे कहा कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव ने अपने दल के साथियों एवं राजद के बहादुर कार्यकर्ताओं के साथ जिस मजबूती से इन मुद्दों पर सदन एवं सदन से बाहर सडक़ों पर संघर्ष किया और सरकार को मजबूर किया उसी के परिणाम स्वरूप बिहार सरकार को विधानसभ में एनआरसी के खिलाफ प्रस्ताव को सर्वसम्मति से पारित करना पड़ा।

साथ ही राबड़ी देवी ने एनपीआर पर कहा कि एनपीआर के फार्म में बिना कोई संशोधन किए 2010 के तर्ज पर 2020 में जनगणना कराने के लिए प्रस्ताव विधानसभा में पारित कराया जाना संविधान एवं देश की जनता की जीत हैं। राबड़ी ने आगे कहा कि राजद जनता के लिए समर्पित हैं और देश के किसी नागरिक के साथ अन्याय नहीं होने देगी। नेता प्रतिपक्ष ने इस लड़ाई को जिस मुस्तैदी और मजबूती से लड़ा वह सराहनीय है। साथ ही उन्होंने नीतीश सरकार द्वारा पेश किया गया राज्य का बजट2020-21 की आलोचना करते हुए बजट को पूरी तरह से दिशाहीन बताया और कहा कि इस बजट में किसी भी तरह की कोई दृष्टि नहीं दिखाई दे रही है।