BREAKING NEWS

महा गतिरोध : सोनिया-पवार की मुलाकात अब सोमवार को होगी ◾शीतकालीन सत्र के बेहतर परिणामों वाला होने की उम्मीद : मोदी◾मुसलमानों को बाबरी मस्जिद के बदले कोई जमीन नहीं लेनी चाहिये - मुस्लिम पक्षकार◾GST रिटर्न दाखिल करने की प्रक्रिया को सरल बनाने को लेकर वित्त मंत्री ने की बैठकें ◾भारत ने अग्नि-2 बैलिस्टिक मिसाइल का किया सफल परीक्षण◾विपक्ष में बैठेंगे शिवसेना के सांसद ◾आसियान रक्षा मंत्रियों की बैठक में हिस्सा लेने बैंकाक पहुंचे रक्षा मंत्री राजनाथ◾किसानों की आवाज को कुचलना चाहती है भाजपा सरकार : अखिलेश◾उत्तरी कश्मीर में पांच संदिग्ध आतंकवादी गिरफ्तार ◾‘शिवसेना राजग की बैठक में भाग नहीं लेगी’ ◾TOP 20 NEWS 16 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾रामलीला मैदान में मोदी सरकार की ‘जनविरोधी नीतियों’ के खिलाफ विपक्ष करेगी बड़ी रैली ◾झारखंड विधानसभा चुनाव : भाजपा ने तीन उम्मीदवारों की चौथी सूची की जारी◾सबरीमला मंदिर के कपाट खुले, पुलिस ने 10 महिलाओं को वापस भेजा◾राफेल पर CM अरविंद केजरीवाल का प्रकाश जावड़ेकर को जवाब, ट्वीट कर कही ये बात ◾दिल्ली: राफेल डील में SC से क्लीन चिट के बाद AAP कार्यालय के पास भाजपा का प्रदर्शन◾नवाब मलिक ने फड़णवीस पर साधा निशाना, कहा- हार चुके सेनापति को अपनी हार स्वीकार करनी चाहिए◾गोवा में मिग 29 K लडाकू विमान दुर्घटनाग्रस्त, दोनों पायलट सुरक्षित◾योगी ने स्वाती सिंह को किया तलब, सीओ को धमकाने का ऑडियो हुआ था वायरल◾संजय राउत का BJP पर शायराना वार, लिखा- 'यारों नए मौसम ने अहसान किया...'◾

बिहार

बिहार : चमकी बुखार से 1 और बच्चे की मौत, मरने वालों की संख्या बढ़कर 154 हुई

 बिहार : मुजफ्फरपुर जिले में एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (एईएस) से एक और बच्चे की बुधवार को मौत के साथ इस बीमारी से प्रदेश में मरने वाले बच्चों की संख्या बढ़कर 154 हो गयी है। 

मुजफ्फरपुर जिला प्रशासन से प्राप्त जानकारी के मुताबिक निजी केजरीवाल अस्पताल में एईएस (चमकी बुखार) से पीड़ित एक बच्चे की बुधवार को मौत हो जाने के साथ गर्मी के इस मौसम में एईएस से इस अस्पताल में मरने वाले बच्चों की संख्या अब 21 हो गयी है । 

मुजफ्फरपुर जिला स्थित श्रीकृष्ण मेडिकल कालेज अस्पताल में एईएस से अब तक 111 बच्चों की मौत हो चुकी है। 

स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी आंकड़ों के अनुसार गर्मी के इस मौसम में अब तक एईएस से बिहार के 23 जिलों में कुल 729 बच्चे प्रभावित हुए हैं और इस रोग की चपेट में आकर 154 बच्चों की मौत हो गयी है।