BREAKING NEWS

पंजाब के मुख्यमंत्री ने पाकिस्तान के साथ सीमा व्यापार खोलने की वकालत की◾महाराष्ट्र में आए ओमिक्रॉन के 2 और नए केस, जानिए अब कितनी हैं देश में नए वैरिएंट की कुल संख्या◾देश में 'ओमिक्रॉन' के बढ़ते प्रकोप के बीच राहत की खबर, 85 फीसदी आबादी को लगी वैक्सीन की पहली डोज ◾बिहार में जाति आधारित जनगणना बेहतर तरीके से होगी, जल्द बुलाई जाएगी सर्वदीय बैठक: नीतीश कुमार ◾कांग्रेस ने पंजाब चुनाव को लेकर शुरू की तैयारियां, सुनील जाखड़ और अंबिका सोनी को मिली बड़ी जिम्मेदारी ◾दुनिया बदलीं लेकिल हमारी दोस्ती नही....रूसी राष्ट्रपति पुतिन से मुलाकात में बोले PM मोदी◾UP चुनाव को लेकर प्रियंका ने बताया कैसा होगा कांग्रेस का घोषणापत्र, कहा- सभी लोगों का विशेष ध्यान रखा जाएगा◾'Omicron' के बढ़ते खतरे के बीच MP में 95 विदेशी नागरिक हुए लापता, प्रशासन के हाथ-पांव फूले ◾महबूबा ने दिल्ली के जंतर मंतर पर दिया धरना, बोलीं- यहां गोडसे का कश्मीर बन रहा◾अखिलेश सरकार में होता था दलितों पर अत्याचार, योगी बोले- जिस गाड़ी में सपा का झंडा, समझो होगा जानामाना गुंडा ◾नागालैंड मामले पर लोकसभा में अमित ने कहा- गलत पहचान के कारण हुई फायरिंग, SIT टीम का किया गया गठन ◾आंग सान सू की को मिली चार साल की जेल, सेना के खिलाफ असंतोष, कोरोना नियमों का उल्लंघन करने का था आरोप ◾शिया बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी ने अपनाया हिंदू धर्म, परिवर्तन को लेकर दिया बड़ा बयान, जानें नया नाम ◾इशारों में आजाद का राहुल-प्रियंका पर तंज, कांग्रेस नेतृत्व को ना सुनना बर्दाश्त नहीं, सुझाव को समझते हैं विद्रोह ◾सदस्यों का निलंबन वापस लेने के लिए अड़ा विपक्ष, राज्यसभा में किया हंगामा, कार्यवाही स्थगित◾राज्यसभा के 12 सदस्यों का निलंबन के समर्थन में आये थरूर बोले- ‘संसद टीवी’ पर कार्यक्रम की नहीं करूंगा मेजबानी ◾Winter Session: निलंबन के खिलाफ आज भी संसद में प्रदर्शन जारी, खड़गे समेत कई सांसदों ने की नारेबाजी ◾राजनाथ सिंह ने सर्गेई लावरोव से की मुलाकात, जयशंकर बोले- भारत और रूस के संबंध स्थिर एवं मजबूत◾IND vs NZ: भारत ने न्यूजीलैंड को 372 रन से करारी शिकस्त देकर रचा इतिहास, दर्ज की सबसे बड़ी टेस्ट जीत ◾विपक्ष ने लोकसभा में उठाया नगालैंड का मुद्दा, घटना ने देश को झकझोर कर रख दिया, बिरला ने कही ये बात ◾

बिहार उपचुनाव : JDU का खेल बिगाड़ेंगे रामविलास के 'चिराग', रणनीति बनाने में जुटी है LJP

बिहार विधानसभा चुनाव 2020 में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के प्रमुख घटक दल जनता दल (युनाइटेड) को राज्य के तीसरे नंबर की पार्टी बनने के बाद दो विधानसभा क्षेत्रों में हो रहे उपचुनाव में भी लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के सांसद चिराग पासवान ने जदयू का खेल बिगाड़ने की तैयारी में लगे हैं।

जदयू का खेल बिगाड़ने को लेकर चिराग चुनावी रणनीति बनाने में जुटे हैं

लोजपा के संस्थापक रामविलास पासवान के पुत्र चिराग पासवान पहले ही दोनों सीटों पर चुनाव लड़ने की घोषणा कर चुके हैं। हालांकि पार्टी में हुए विवाद के बाद चुनाव आयोग ने पार्टी के चुनाव चिन्ह 'बंगला' को फ्रीज कर दिया है। इसके बाद भी जदयू का खेल बिगाड़ने को लेकर चिराग चुनावी रणनीति बनाने में जुटे हैं। बिहार के तारापुर और कुशेश्वरस्थान सीट पर उपचुनाव हो रहा है। दोनों सीटों पर जदयू के प्रत्याशी विजयी हुए थे।

पिछले चुनाव की बात करें तो लोजपा ने इन दोनों सीटों पर अपनी अच्छी उपस्थिति दर्ज कराई थी

कुशेश्वरस्थान से विधायक शशिभूषण हजारी तथा तारापुर के विधायक मेवालाल चैधरी के निधन के बाद दोनों सीटों पर उपचुनाव हो रहा है। उपचुनाव में भी दोनों सीटें जदयू के कोटे में गई है तथा जदयू ने यहां से प्रत्याशियों की घोषणा भी कर दी है। वैसे, पिछले चुनाव की बात करें तो लोजपा ने इन दोनों सीटों पर अपनी अच्छी उपस्थिति दर्ज कराई थी।

JDU को मिली थी कड़ी टक्कर 

कुशेश्वरस्थान के बात करें तो यहां जदयू के शशिभूषण हजारी के पक्ष में कुल 53,980 वोट मिले थे जबकि उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी कांग्रेस के अशोक कुमार को 46,758 वोट वोट मिला था। इस विधानसभा क्षेत्र में तीसरे स्थान पर लोजपा की पूनम कुमारी रहीं ,जिनको 13,362 मत वोट मिला था। इसी तरह, तारापुर विधानसभा क्षेत्र में जदयू के मेवालाल चौधरी को कुल 64,468 मत प्राप्त हुए थे तथा उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी राजद के दिव्या प्रकाश को कुल 57,243 मत प्राप्त हुआ था। यहां से लोजपा की प्रत्याशी मीना देवी को कुल 11,264 मत मत प्राप्त हुआ था।

चिराग किसी भी हाल में चुनाव लड़ने की रणनीति बना रहे हैें

सूत्रों का मानना है कि पिछले चुनाव परिणाम को देखते हुए चिराग किसी भी हाल में चुनाव लड़ने की रणनीति बना रहे हैें। सूत्रों का कहना है कि प्रत्याशी कौन होगा का अंतिम निर्णय एक-दो दिनों में तय हो जाएगा। पार्टी की सोच स्पष्ट है कि सतारूढ़ दल को किसी भी सूरत में विधानसभा का सफर तय करने नहीं देंगे। सूत्रों का कहना है कि चिराग नई पार्टी बनाकर भी चुनावी मैदान में उतरने को लेकर विचार कर रहे हैें।

एक साजिश के तहत चिराग पासवान को उपचुनाव से अलग-थलग करने की कोशिश की जा रही है

उन्होंने बताया कि पार्टी उन लोगों पर नजर रखी है जो राजद, जदयू या अन्य पार्टियों से टिकट नहीं मिलने के कारण बगावती तेवर अपनाएंगें। पार्टी अन्य विकल्प पर भी विचार कर रही है। लोजपा (चिराग गुट) के प्रधान महासचिव संजय पासवान ने कहा, "एक साजिश के तहत चिराग पासवान को उपचुनाव से अलग-थलग करने की कोशिश की जा रही है। चिराग पासवान ने किसी कीमत पर अपनी राजनीतिक लड़ाई से पीछे नहीं हटने का फैसला किया है। चिराग विधानसभा के उपचुनाव में तारापुर और कुशेश्वरस्थान सीट से नई पार्टी बनाकर और चुनाव आयोग से नया चिन्ह लेकर उम्मीदवारों को लड़ाएंगे।"

भाई-बेटे में बटी रामविलास पासवान की विरासत, EC ने LJP के दोनों धड़ों के चुनाव चिन्ह और नामों को दी मंजूरी