BREAKING NEWS

अरुणाचल प्रदेश में चीन के गांव को बसाए जाने की रिपोर्ट पर सियासत तेज, राहुल ने PM पर साधा निशाना ◾देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना के नए मामले 10 हजार से कम, 137 लोगों ने गंवाई जान ◾कांग्रेस मुख्यालय में आज राहुल गांधी की प्रेस कॉन्फ्रेंस, कृषि कानूनों पर जारी करेंगे बुकलेट◾दुनियाभर में कोरोना का प्रकोप लगातार जारी, मरीजों का आंकड़ा 9.55 करोड़ तक पहुंचा◾TOP 5 NEWS 19 JANUARY : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾विदेशी आतंकियों की मौजूदगी से आतंकवाद विरोधी प्रयास हो रहे कमजोर : टी. एस. तिरुमूर्ति◾गुजरात : सूरत में सड़क किनारे सो रहे प्रवासी मजदूरों को ट्रक ने कुचला, 13 लोगों की मौत ◾शुभेंदु अधिकारी ने ममता के गढ़ में चुनाव लड़ने का किया ऐलान बोले- 50 हजार वोटों से हारेंगी, नहीं तो छोड़ दूंगा राजनीति ◾किसान संगठनों और सरकार के बीच दसवें दौर की वार्ता अब बुधवार को होगी◾‘तांडव’ की टीम ने बिना शर्त माफी मांगी, कहा-भावनाएं आहत करने का कोई इरादा नहीं ◾सुशासन सरकार में पुलिस दोषियों के बजाये निर्दोष को जेल भेजने का काम करती है :तेजस्वी ◾आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह को मिली जिंदा जलाकर मारने की धमकी ◾एम्स निदेशक की जनता से अपील - मामूली साइड इफेक्ट से मत डरें, वैक्सीन आपको मारेगी नहीं ◾SC की टिप्पणी के बाद बोले किसान संगठन - ट्रैक्टर रैली निकालना किसानों का संवैधानिक अधिकार है◾बढ़ते क्राइम को लेकर तेजस्वी ने राज्यपाल से की मुलाकात, कहा- बिहारियों की बलि मत दिजीए CM नीतीश ◾नंदीग्राम से विधानसभा चुनाव लड़ेंगी ममता बनर्जी, कहा- दल बदलने वालों की नहीं है चिंता ◾केंद्र ने माल्या प्रत्यर्पण मामले में दी SC को सूचना, कहा- ब्रिटेन ने डिटेल सांझा करने से किया इंकार ◾'तांडव' वेब सीरीज विवाद को लेकर लखनऊ से मुंबई रवाना हुई UP पुलिस की टीम◾भारतीय किसान यूनियन के प्रधान गुरनाम सिंह चढूनी को संयुक्त किसान मोर्चा ने किया सस्पेंड◾SC की टिप्पणी पर बोले राकेश टिकैत-हम झगड़ा नहीं, गण का उत्सव मनाएंगे◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

नड्डा ने तेजस्वी को बताया 'जंगलराज का युवराज', कहा-पलायन के लिए जनता से मांगे माफी

बिहार विधानसभा चुनाव के तीसरे चरण का प्रचार अपने आखिरी दौर में है। प्रचार के अंतिम बीजेपी के अध्यक्ष जेपी नड्डा ने गुरुवार को दरभंगा के हायाघाट में एक चुनावी रैली को संबोधित किया। नड्डा ने रैली में राजद नेता तेजस्वी यादव के 10 लाख नौकरी देने के वादे पर हमला किया। उन्होंने तेजस्वी को ‘जंगलराज के युवराज’ बताते हुए कहा कि उन्हें बिहार की जनता से माफी मांगनी चाहिए।

नड्डा ने कहा, ‘‘जंगलराज के युवराज तेजस्वी यादव कोरोना वायरस संक्रमण की शुरुआत में बिहार के बजाय दिल्ली में थे। वह विपक्ष के नेता बनते हैं लेकिन विधानसभा के बजट सत्र में एक भी दिन नहीं जाते थे। विधानसभा में विपक्ष के नेता की अनुपस्थिति जनता के साथ धोखा है। इसलिए ऐसे लोगों को आराम दीजिए।’’ 

नड्डा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संक्रमण के समय में गरीबों की चिंता की और छठ तक राशन की व्यवस्था की।  बीजेपी अध्यक्ष ने कहा, ‘‘बिहार में आज से 15 साल पहले कभी विकास की चर्चा नहीं होती थी लेकिन आज प्रधानमंत्री मोदी के कारण चुनाव में जंगलराज के युवराजों को विकास की चर्चा करनी पड़ रही है। ये (विपक्ष के नेता) सत्ता से दूर हो गए हैं, बेरोजगार हो गए हैं, इनकी सबसे बड़ी चिंता यही है।’’ 

भोपाल : मैक्रों के खिलाफ प्रदर्शन करने वाले कांग्रेस विधायक मसूद के अवैध निर्माण पर चला बुलडोजर

उन्होंने कहा, ‘‘आज ये 10 लाख रोजगार देने की बात कर रहे हैं...., लालू जी के राज में लाखों लोग बिहार से पलायन कर गए, उसका जवाब कौन देगा? राजद के जंगलराज में बिहार में रंगदारी, रंगबाजी, लूट-खसोट होती थी। लालू के राज में शहाबुद्दीन को संरक्षण मिलता था। इन्होंने प्रदेश में अराजकता फैलाई।’’ 

महागठबंधन के नेता पर घड़ियाली आंसू बहाने का आरोप लगाते हुए नड्डा ने कहा, ‘‘अपने कारनामों के लिए इन्हें बिहार की जनता से माफी मांगनी चाहिए।’’ नड्डा ने कहा, ‘‘यह चुनाव बिहार के भविष्य का है। हमें तय करना है कि हमें राज्य को किस ओर ले जाना है।’’ राजग को जनादेश देने की अपील करते हुए बीजेपी अध्यक्ष ने कहा, ‘‘एक तरफ विकास करने वाले लोग हैं और दूसरी ओर वे लोग हैं, जिन्होंने बिहार को विनाश की ओर ले जाने में कोई कसर नहीं छोड़ी।’’ 

नड्डा ने कहा,‘‘15 साल पहले बिहार में डॉक्टर, इंजीनियर और ठेकेदार अपना काम नहीं कर पाते थे। तब यहां केवल रंगदारी, रंगबाजी, लूट खसोट ही चलती थी।’’ राम मंदिर का उल्लेख करते हुए नड्डा ने कहा कि राम मंदिर के मामले में एक पक्ष के वकील कपिल सिब्बल ने सुप्रीम कोर्ट में इसे लटकाने का प्रयास किया। 

उन्होंने कहा, ‘‘देश के सभी लोग चाहते थे कि अयोध्या में श्रीराम जन्मभूमि पर भव्य राम मंदिर बने लेकिन कांग्रेस ने इसे लटकाने, अटकाने और भटकाने का काम किया। मोदी दोबारा प्रधानमंत्री बने, तब प्रतिदिन सुनवाई हुई, रामजन्मभूमि के पक्ष में फैसला आया और अब वहां भव्य राममंदिर बन रहा है।’’ 

नड्डा ने कहा कि पहले लोग केवल नारे लगाते थे कि एक देश में दो विधान दो निशान नहीं चलेंगे, लेकिन जब मोदी सरकार आई तब अनुच्छेद 370 को निरस्त किया गया। बीजेपी अध्यक्ष ने अपने संबोधन के दौरान प्रधानमंत्री के 1.25 लाख करोड़ रुपये के विशेष पैकेज के खर्च होने का ब्यौरा दिया और कहा कि आधारभूत ढांचे के विकास के लिए अतिरिक्त 40 हजार करोड़ दिए गए।