BREAKING NEWS

J&K के बाद मोदी सरकार का एक और बड़ा कदम, 2 केंद्र शासित प्रदेशों का होगा विलय◾प्रधानमंत्री 25 नवम्बर को गुमला में रैली को करेंगे संबोधित◾सरकार चाहे कोई बनाए, किसानों का काम हम पूरा करेंगे : गडकरी ◾झारखंड : नक्सली हमले में एएसआई समेत 4 पुलिसकर्मी शहीद ◾कांग्रेस ने झारखंड चुनाव के लिए उम्मीदवारों की आखिरी सूची जारी की◾शेख हसीना के साथ बैठक सौहार्दपूर्ण रही : ममता ◾राजनाथ ने डीआरडीओ और घरेलू रक्षा उद्योगों के बीच सामंजस्य बनाने की अपील की ◾चुनावी बॉन्ड पर सरकार के पास जवाब नहीं : प्रियंका गांधी वाड्रा◾ कांग्रेस नेता अहमद पटेल बोले- बैठक अभी अधूरी है, कल हम फिर करेंगे बैठक ◾BHU में प्रो. फिरोज खान नियुक्ति विवाद पर छात्रों का धरना समाप्त,विरोध जारी◾राज्यसभा में उठा जेएनयू में फीस बढ़ोतरी का मुद्दा ◾TOP 20 NEWS 22 NOV : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾कांग्रेस, NCP और शिवसेना गठबंधन पर बोले गडकरी- वे महाराष्ट्र को एक स्थिर सरकार नहीं दे पाएंगे◾मुंबई में शिवसेना ने मारी बाजी, किशोरी पेडनेकर बीएमसी की नई मेयर चुनीं गईं◾प्रकाश जावड़ेकर बोले- बीजिंग से कम समय में दिल्ली में प्रदूषण से निपट लेंगे◾CM केजरीवाल का बड़ा ऐलान, बोले-पानी और सीवर के नए कनेक्शन पर देने होंगे 2,310 रुपये ◾NCP ने ली भाजपा की चुटकी, कहा- 'शरद पवार ने राजनीति के चाणक्य को दी मात'◾महाराष्ट्र : सरकार गठन को लेकर मुंबई में शाम 4 बजे होगी शिवसेना, NCP और कांग्रेस की बैठक◾संसद परिसर में कांग्रेस ने 'Electoral Bond' के खिलाफ किया प्रदर्शन◾गठबंधन पर संजय निरुपम तंज, कहा- 'तीन तिगाड़े काम बिगाड़े' वाली सरकार चलेगी कब तक?◾

बिहार

बिहार : विधायक अनंत सिंह की जेल में बेचैनी में गुजरी रात

 annat singh

बिहार के पटना जिले के मोकामा क्षेत्र से बाहुबली विधायक अनंत सिंह की पटना के बेऊर जेल में रविवार की रात बेचैनी भरी रही। हालांकि इस जेल में उन्हें पूर्व विधायक राजवल्लभ यादव और राजद के पूर्व सांसद विजय कृष्ण जैसे नेता भी मिल गए हैं। इन तीनों को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का धुर विरोधी माना जाता है। पटना पुलिस ने रविवार को अनंत को बाढ़ अदालत में पेश किया था, जहां से उन्हें 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया था।

बेऊर जेल में कैदी नंबर 13617 बने 'छोटे सरकार' अनंत को डिवीजन वॉर्ड में रखा गया है। जेल सूत्रों का कहना है कि विधायक की डिविजनल वार्ड में पहली रात बेचैनी में कटी। वह गर्मी व मच्छरों से परेशान रहे। रात में उन्होंने दाल, रोटी और भिंडी की भुजिया खाई।उल्लेखनीय है कि अनंत सिंह के पैतृक गांव नदवां में उनके आवास पर पुलिस ने 16 अगस्त को छापेमारी कर एक एके-47 और हैंड ग्रेनेड बरामद किए थे। इसके बाद बाहुबली विधायक फरार हो गए।

G-7 शिखर सम्मेलन में PM मोदी ने कहा- कश्मीर द्विपक्षीय मुद्दा, किसी तीसरे की जरूरत नहीं

उन्होंने शुक्रवार को दिल्ली की एक अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया। पटना पुलिस वहां से उन्हें रविवार को पटना लाई तथा बाढ़ की अदालत में पेश किया। अदालत के आदेश के अनुसार अनंत सिंह को न्यायिक हिरासत में बेऊर जेल भेज दिया गया। पटना पुलिस के उच्च पदस्थ सूत्रों ने बताया कि पुलिस उन्हें रिमांड पर लेकर पूछताछ करने की तैयारी कर रही है।

श्रद्धांजलि सभा में बोली प्रज्ञा ठाकुर- विपक्ष कर रहा मारक शक्ति का इस्तेमाल

इधर, बेऊर जेल के सूत्रों ने सोमवार को बताया कि अनंत सिंह को बेऊर जेल में चौकी, बिछावन तथा कुर्सी व टेबल दिए गए हैं। वहां उनके साथ दुष्कर्म के मामले में सजा काट रहे पूर्व विधायक राजबल्लभ यादव तथा राजद के पूर्व सांसद विजय कृष्ण भी कैद हैं। सूत्रों का दावा है कि अनंत का दोनों नेताओं ने जेल वार्ड में स्वागत किया था। सूत्रों के मुताबिक, खाना खाने के बाद अनंत सिंह रातभर बेचैनी में करवटें बदलते रहे। वह रातभर गर्मी व मच्छरों से परेशान रहे।

 सूत्रों का कहना है कि विधायक ने जेल प्रशासन से मच्छर भगाने वाली टिकिया की मांग की थी परंतु यह उपलब्ध नहीं हो सका। विधायक सोमवार की सुबह जल्दी उठे और चाय की मांग की। उल्लेखनीय है कि इससे पहले वर्ष 2015 में भी अनंत एक मामले में बेऊर जेल में बंद रहे थे।