BREAKING NEWS

हिमाचल प्रदेश : कांग्रेस के दो विधायकों ने की भाजपा की सदस्यता ग्रहण, मुख्यमंत्री जयराम ने किया स्वागत◾थाईलैंड के विदेश मंत्री के साथ एस. जयशंकर ने की खास बातचीत, जानिए किन मुद्दों पर हुई चर्चा ◾दिल्ली में रोहिंग्या मुसलमानों को फ्लैट देने का नहीं दिया कोई निर्देश : केंद्रीय गृह मंत्रालय ◾दिल्ली के बक्करवाला के अपार्टमेंट में भेजे जाएंगे रोहिंग्या शरणार्थी, पुलिस सुरक्षा भी कराई जाएगी मुहैया : हरदीप सिंह पुरी◾अब रोहिंग्या शरणार्थियों के पास होगा रहने का ठिकाना, केंद्र के फैसले पर AAP हमलावर, BJP नाखुश◾उज्जीवन स्मॉल फाइनेंस बैंक ने किया ब्याज दरों में इजाफा, वरिष्ठ नागरिकों के लिए दर 0.50 प्रतिशत से बढ़कर 0.75◾MP मंत्री तुलसीराम की कार को ट्रक ने मारी टक्कर, बाल-बाल बचा परिवार ◾उत्तर प्रदेश की 10 हजार बेटियों को दी जाएगी 'Self Defense' की ट्रेनिंग : यूपी सरकार ◾राजस्थान : रामदेवरा मेले में आने लगे श्रद्धालु, 35 लाख से अधिक भक्तों के आने की उम्मीद◾बीजेपी ने पार्टी के संसदीय बोर्ड में किया बड़ा बदलाव, गडकरी और चौहान को हटाकर इन नोताओं को किया शामिल ◾गुजरातः चुनावों से पहले कांग्रेस के दो नेता भाजपा में शामिल, बीजेपी ने किया भगवा अंगवस्त्र और टोपियां देकर स्वागत ◾CM केजरीवाल ने की ‘मेक इंडिया नंबर 1’ अभियान की शुरुआत, कहा-इसका राजनीति से कोई संबंध नहीं◾कचरा बनी बागमती, मानी जाती है नेपाल की सबसे पवित्र नदी ◾विदेश मंत्री एस जयशंकर ने कहा- भारत ने रूस से तेल खरीदने के अपने रुख का कभी बचाव नहीं किया◾राजस्थान में बिगड़ती कानून व्यवस्था के लिए कौन जिम्मेदार? जानिए क्या कहती है जनता◾कार्तिकेय सिंह के अरेस्ट वारंट पर बोले CM नीतीश, मुझे मामले की जानकारी नहीं◾Mann Ki Baat :PM मोदी ने 'मन की बात' की 28वीं कड़ी के लिए मांगे सुझाव, 28 अगस्त को होगा प्रसारण◾दलित छात्र की मौत को लेकर पायलट ने अपनी ही सरकार को दी नसीहत, BJP ने पूर्व उपमुख्यमंत्री का किया समर्थन◾बिलकिस बानो केस के दोषियों की रिहाई को लेकर राहुल का तंज, कहा-PM की कथनी और करनी को देख रहा है देश◾Yamuna Water Level : दिल्ली में यमुना नदी का जल स्तर एक बार फिर खतरे के पार पहुंचा◾

बिहार : केंद्रीय मंत्री प्रधान और नीतीश की दूसरी मुलाकात के निकाले जाने लगे निहितार्थ

बिहार में सत्ताधारी गठबंधन भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और जनता दल (युनाइटेड) के रिश्ते में खंटास के बीच भाजपा के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री धर्मेद्र प्रधान के पटना पहुंचने और मुख्यमंत्री आवास पहुंचकर नीतीश कुमार से मुलाकात को लेकर कई तरह की चर्चा होने लगी है। लोग इन दोनों नेताओं के मुलाकात को लेकर निहितार्थ भी निकाल रहे हैं। हालांकि इस मामले को लेकर दोनों दलों के नेता खुलकर कुछ भी नहीं बोल रहे हैं। इस बीच, भले ही प्रधान ने भाजपा और जदयू के रिश्ते में आई कड़वाहट को दूर करने के लेकर कहा कि दलों के रिश्ते में कोई गतिरोध नहीं है। लेकिन सबसे बड़ा सवाल प्रधान की पटना यात्रा को लेकर उठाए जा रहे हैं।

प्रधान की डेढ़ महीने में दूसरी पटना यात्रा को राष्ट्रपति चुनाव से भी जोड़कर देखा जा रहा है, लेकिन सवाल उठाया जा रहा है कि चुनाव में जब जदयू ने द्रौपदी मुर्मू को समर्थन देने की घोषणा कर ही दी है तो फिर प्रधान को दूसरी बार पटना आने की क्या जरूरत पड़ी। ऐसे में प्रधान के दौरे को जदयू-भाजपा के बीच आई खटास को दूर कर मिठास घोलने के प्रयास के रूप में देखा जा रहा है।

हाल के दिनों में देखा जाए तो राजग के इन दोनों सहयोगियों के बीच विभिन्न मुद्दों को लेकर मतभेद दिखा है, जिसके बाद जदयू के साथ राजद की नजदीकियां भी चर्चा में रही हैं। जाति आधारित जनगणना हो या जनसंख्या नियंत्रण दोनों दलों के नेता आमने-सामने दिखे। अग्निपथ योजना के दौरान तो पार्टी के बड़े नेता भी खुलकर सामने आ गए। ऐसे में प्रधान की यात्रा को इन्हीं घटनाओं से जोडकर देखा जा रहा है।

प्रधान हालांकि मंगलवार की देर शाम भाजपा के प्रदेश कार्यालय भी पहुंचे और भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के साथ बैठक की। इस दौरान उन्होंने साफ तौर कहा कि भाजपा और जदयू के बीच कोई गतिरोध नहीं है। पत्रकारों से चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार के नेतृत्व में हम बिहार में सेवा कर रहे हैं। प्रधान ने तो नीतीश कुमार को राजग का नेता बताते हुए यहां तक कह दिया कि नीतीश कुमार 2025 तक मुख्यमंत्री बने रहेंगे।

प्रधान के इस बयान को ऐसे नेताओं के लिए संदेश माना जा रहा है जो सार्वजनिक मंचों से सरकार पर सीध आरोप लगाते रहे हैं। उन्होंने कहा कि राजनीतिक पार्टियों में कभी-कभी भिन्न मत हो जाते हैं, लेकिन बिहार में हमें सेवा करने के लिए जो जनादेश मिला है, उसे हम पूरा कर रहे हैं।