BREAKING NEWS

LIVE : शीला दीक्षित का आज होगा अंतिम संस्कार, कांग्रेस मुख्यालय के लिए निकला पार्थिव शरीर ◾कारगिल शहीदों की याद में दिल्ली में हुई ‘विजय दौड़’, लेफ्टिनेंट जनरल ने दिखाई हरी झंडी◾ आज सोनभद्र जाएंगे CM योगी, पीड़ित परिवार से करेंगे मुलाकात ◾शीला दीक्षित की पहले भी हो चुकी थी कई सर्जरी◾BJP को बड़ा झटका, पूर्व अध्यक्ष मांगे राम गर्ग का निधन◾पार्टी की समर्पित कार्यकर्ता और कर्तव्यनिष्ठ प्रशासक थीं शीला दीक्षित : रणदीप सुरजेवाला ◾सोनभद्र घटना : ममता ने भाजपा पर साधा निशाना ◾मोदी-शी की अनौपचारिक शिखर बैठक से पहले अगले महीने चीन का दौरा करेंगे जयशंकर ◾दीक्षित के बाद दिल्ली कांग्रेस के सामने नया नेता तलाशने की चुनौती ◾अन्य राजनेताओं से हटकर था शीला दीक्षित का व्यक्तित्व ◾जम्मू कश्मीर मुद्दे के अंतिम समाधान तक बना रहेगा अनुच्छेद 370 : फारुक अब्दुल्ला ◾दिल्ली की सूरत बदलने वाली शिल्पकार थीं शीला ◾शीला दीक्षित के आवास पहुंचे PM मोदी, उनके निधन पर जताया शोक ◾शीला दीक्षित कांग्रेस की प्रिय बेटी थीं : राहुल गांधी ◾जीवनी : पंजाब में जन्मी, दिल्ली से पढाई कर यूपी की बहू बनी शीला, फिर बनी दिल्ली की मुख्यमंत्री◾शीला दीक्षित ने दिल्ली एवं देश के विकास में दिया योगदान : प्रियंका◾शीला दीक्षित के निधन पर दिल्ली में 2 दिन का राजकीय शोक◾Top 20 News 20 July - आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने शीला दीक्षित के निधन पर जताया दुख ◾दिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित का निधन, PM मोदी सहित कई नेताओं ने जताया दुख◾

बिहार

राष्ट्रीय कार्यकारिणी में सम्प्रदायिक ताकतों के खिलाफ 2020 के मुख्यमंत्री के उम्मीदवार तेजस्वी यादव होगे

 पटना : राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक होटल मौर्या में आयोजित की गयी। बैठक में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव, तेजप्रताप यादव, पूर्व मुख्यमंत्री श्रीमती राबड़ी देवी समेत बिहार और बाहर से आये सभी सदस्य ने राजनीतिक प्रस्ताव लाकर कहा गया कि लोकसभा चुनाव में मुझे अच्छे परिणाम मिले हों या नहीं, मगर हमारे सभी 19 उम्मीदवार 71  लाख से अधिक वोट लाने में कामयाब रहे। केन्द्र में मोदी-2 की सरकार है, धर्म और सम्प्रदाय के नाम पर मॉब लिङ्क्षचग की घटनाएं बढ़ रही है और लोगों के मन में भय का माहौल पैदा किया जा रहा है। इससे हमारे देश की एकता व अखंडता पर खतरा बढ़ सकता है। 

आज सर्वसम्मति से प्रस्ताव पारित किया गया कि अगले विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ही होंगे। देश और राज्य में गंभीर चुनौतियां है। विरोधी पक्ष को परेशान करने के लिए आईटी, ईडी एवं सीबीआई जैसे केन्द्रीय एजेंसी को खुलेआम दुरूपयोग किया जा रहा है। ेकेन्द्र सरकार केन्द्रीय एजेंसी का खुलेआम दुरूपयोग कर विरोधियों को तबाह कर रही है। अब मीडिया में भी सेंसरशिप लागू किया जा रहा है। 

राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद याद की जिम्मेवारी काफी बढ़ गयी है। उन शक्तियों के निशाने पर हमारे राष्ट्रीय अध्यक्ष और उनका परिवार है। विभाजनकारी शक्तियों के खिलाफ राजद, कांग्रेस और जदयू ने मिलकर बिहार में महागठबंधन बनाया था और नीतीश कुमार महागठबंधन का सम्मान न कर वे भारतीय जनता पार्टी से हाथ मिला लिया। वहीं हमलोगों ने बिहार में 20 महीनों तक सरकार अच्छे ढंग से चलाने का काम किया। 

आरएसएस की गोद में बैठकर राज्य के सत्ता पाने वाले नीतीश कुमार एक सोंची समझी रणनीति के तहत बिहार के धर्मनिरपेक्ष जनता को गुमराह करने का प्रयास कर रहा है। बिहार में सत्ता संरक्षण में घोटाले पर घोटाले हो रहे हैं, जैसे- सृजन घोटाला, शौचालय, छात्रवृति, महादलित विकास मिशन, तटबंध जननी, उप डाकघर घोटाले राज्य सरकार का असली चेहरा उजागर करता है। बिहार में कानून-व्यवस्था नियंत्रण से बाहर जा चुकी है, लूट, हत्या, सामूहिक बलात्कार की घटनाएं आम हो गयी है। अब विकास की गति दम तोडऩे लगी है, शिक्षा स्वास्थ्य की स्थिति चरमरा गयी है, विद्यालय- महाविद्यालय के शिक्षकों की भारी कमी है। 

राजनीतिक एजेंडा में कहा गया कि भाजपा के साथ जबसे जदयू ने सरकार बनाया है राज्य की सुरक्षा व्यवस्था पंगू हो गयी। चमकी बुखार ने राज्य में स्वास्थ्य व्यवस्था की पोल खोल दी। सरकारी की उपेक्षा के कारण सैकड़ों बच्चों की मौत हो गयी है। कल पेश किये गये रेलवे बजट किसानों के भरोसे को तोडऩे वाला है।

 नौजवानों को नौकरी नहीं है, देश और खासकर बिहार में जल की गंभीर संकट है। नहर, पाइन, नदी सभी सुखे पड़े हुए हैं, अधिकांश नल बंद है, मगर राज्य सरकार इस गंभीर संकट को देखते हुए मूकदर्शक बनी हुई है। आज अनुसूचित जाति, जनजाति, पिछड़ा, अल्पसंख्यक बीच चौराहे पर खड़े हैं। आज भी 56 प्रतिशत  लोग भूमिहीन हैं, 2 करोड़ 37 लाख परिवार एक कच्चे घर में रहते हैं, 9.16 करोड़ परिवार दीहारी मजदूरी करता है, 44.84 लाख परिवार घरेलू नौकरी कर रहा है, 4.08  लाख परिवार कूड़ा बिनने, 6.68 लाख परिवार भीख मांग रहे हैं। 

आखिर ये कौन लोग हैं सच्चाई यह है कि बजट का अधिकांश हिस्सा 10 प्रतिशत लोगों के हित को ध्यान में रखकर खर्च किया जा रहा है। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, संविधान निर्माता डा. भीमराव अम्बेबडकर, महात्मा ज्योति राव फूले, रामा स्वामी नायकर, डा. राम मनोहर लोहिया, जननायक कर्पूर ठाकुर, जयप्रकाश नारायण के प्रेरणा से राष्ट्रीय जनता दल आगे बढ़ा है। हमलोग जाति और धर्म पर विभेद नहीं करते हैं। 

लालू प्रसाद यादव बिहार में जब सत्ता संभाला उस समय जाति उन्माद चरम पर था। मगर उन्होंने भीमराव अम्बेडकर के सपने को जमीन पर उतारा। राष्ट्रीय परिषद की बैठक में राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव की उपस्थिति में लिये गये निर्णय केअनुार बिहार विधानसभा के प्रतिपिक्ष केनेता तेजस्वी यादव हैं उन्हीं के नेतृत्व में 2020 में बिहार विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे।

सदस्यता अभियान 9 अगस्त से शुरू होकर 5 जनवरी 2010 को शुल्क जमा करने की अंतिम तिथि होगी। 15 जनवरी से राज्य कार्यालय में सदस्यता जमा करने की अंतिम तिथि, केन्द्रीय कार्यालय में शुल्क जमा करने की अंतिम तिथि 20 जनवरी, जिला कार्यालय में सदस्यता प्रकाशन की तिथि 30 जनवरी, सदस्यता संबंधी विवाद एवं अन्य शिकायत को लेकर 12 फरवरी को विचार किया जा सकता है। 

प्राथमिक एवं प्रखंड इकाई सदस्यों की सूची 15 फरवरी से 25 फरवरी तक, प्रखंड डेलीगेट प्रकाशन की सूची 26 फरवरी, प्रखंड इकाई जिला परिषद चुनाव की तिथि 28 फरवरी से 2 मार्च तक, जिला डेलीगेट के प्रकाशन की सूची 26 फरवरी, प्रखंड इकाई जिला परिषद सदस्यों के चुनाव की तिथि 28 फरवरी से 2 मार्च तक, जिला डेलीगेटों  प्र्रकाशन की सूची 3 मार्च, जिला इकाई राज्य परिषद सदस्यों के चुनाव की तिथि 5 मार्च से 15 मार्च तक, राज्य परिषद सूची प्रकाशन की तिथि 16 मार्च, प्रदेश अध्यक्ष राज्य कार्यकारिणी, राष्ट्रीय परिषद सदस्यों की चुनाव की तिथि 18 मार्च से 25 मार्च तक, राष्ट्रीय सदस्यों के प्रकाशन सूची 30 मार्च, राष्ट्रीय अधिवेशन 14 अप्रैल, 2010 को, राष्ट्रीय परिषद, राष्ट्रीय अध्यक्ष के खुला अधिवेशन 14 अप्रैल, 2010 में। संगठन चुनाव के प्रभारी जगदानंद सिंह एवं चितरंजन गगन होंगे।

इस अवसर पर प्रदेश अध्यक्ष रामचन्द्र पूर्वे, चितरंजन गगन, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी, कांति सिंह, विधायक राजेश कुमार, अब्दुलबारी सिद्दीकी, समीर कुमार महासेठ, गुलजारा देवी, विधायक गुलाब यादव, शिवचन्द्र राम, चन्द्रिका राय, सुरेन्द्र यादव, बर्षा रानी, स्वीटी सीमा हेम्ब्रम, डा. रामानंद यादव, श्रीमती प्रेमा चौधरी, विजय प्रकाश