BREAKING NEWS

Coronavirus : महाराष्ट्र में 24 घंटे के भीतर 25 मौतें, राज्‍य में 1,364 लोग संक्रमित ◾कोविड-19 : राजधानी दिल्ली में कोरोना के 51 नए मामले, राज्य में संक्रमितों की संख्या 720 तक पहुंची◾डॉक्टरों के साथ दुर्व्यवहार करने वालों के खिलाफ की जाएगी सख्त कार्रवाई : CM केजरीवाल◾शिया वक्फ बोर्ड ने तबलीगी जमात पर लगाया गंभीर आरोप, कहा- 1 लाख से ज्यादा लोग मारने की बनाई थी योजना◾कोरोना वायरस : स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- देश में आवश्यक उपकरणों का स्टॉक मौजूद, PPE और वेंटिलेटर की खरीद शुरु◾देश में कोरोना फैलने के लिए अनिल देशमुख ने दिल्ली पुलिस को ठहराया जिम्मेदार◾कोरोना संकट से जारी जंग में मदद के तौर पर केंद्र सरकार ने राज्यों के लिए आपात पैकेज की दी मंजूरी◾महाराष्ट्र कैबिनेट ने उद्धव ठाकरे को MLC बनाने का लिया निर्णय, राज्यपाल को भेजेंगे प्रस्ताव ◾कोरोना संकट : ओडिशा सरकार ने 30 अप्रैल तक बढ़ाई लॉकडाउन की अवधि, केंद्र से किया ये अनुरोध◾गुजरात में कोरोना के 55 नए मरीज, अकेले अहमदाबाद के 50 लोग हुए संक्रमित◾PM मोदी ने किया ट्रम्प का समर्थन, कहा- मुश्किल वक्त ही दोस्तों को लाती है करीब◾जमात प्रमुख मौलाना साद के ठिकाने का हुआ खुलासा, पुलिस फिलहाल नहीं करेगी पूछताछ ◾झारखंड में कोरोना वायरस से 1 की मौत, मरीजों की संख्या एक दिन में तिगुनी हुई ◾Coronavirus : अमेरिका में मरने वालों की संख्या 14000 के पार, 11 भारतीयों के मौत की पुष्टि◾चीन में कोविड-19 के 63 नए मामलें सामने आए, अबतक करीब 3,335 लोगों की हुई मौत ◾पूरे विश्व कोरोना वायरस का कहर जारी, अब तक वायरस से संक्रमितों की संख्या 15 लाख से अधिक हुई ◾कोविड-19 : देश में 5,734 संक्रमित मामलों की पुष्टि वहीं 166 लोगों की अब तक मौत◾Covid-19 : दवा मिलने पर भारत के फैसले से डोनाल्ड ट्रम्प के सुर बदले नजर आए, कहा- थैंक्यू PM मोदी ◾कोरोना संकट : सरकार ने 20 करोड़ महिलाओं के जनधन खातों में पांच-पांच सौ रूपये की सहायता राशि डाली ◾देश में कोरोना का कहर जारी, वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या पांच हजार के पार,140 से ज्यादा लोगों की मौत◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaLast Update :

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

केंद्र सरकार आरक्षण विरोधी है : माधव आनंद

रालोसपा के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव माधव आनंद ने कहा कि केंद्र सरकार दलित और पिछड़ा विरोधी रवैया अपनाकर मूल्क के मूल निवासियों के साथ भेदभाव की नीति अपना रही है और उनको आरक्षण से वंचित करने के लिए नित्य नए-नए पैतरें और कानून बनाने की चाल चल रही है। 

इन्होंने  प्रोन्नति में आरक्षण समाप्त किए जाने की कार्रवाई को अविलंब  अधिसूचना जारी वापस लागू  किए जाने की मांग की है और इसके लिए संविधान में दिए हुए प्रावधानों के अनुसार फैसला लिए जाने की अपील की है। 

साथ ही साथ यूपीएससी की परीक्षा में पिछड़े वर्गों के उम्मीदवारों के साथ किए जा रहे भेदभाव तथा उनको चयनित होने के बाद भी निकालें जाने की कार्यवाही की घोर शब्दों में निंदा की और आगे कहा कि बिहार सरकार शिक्षकों तथा शिक्षा के स्तर को गिराने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है और जिस तरह से शिक्षको के ऊपर दमनात्मक कार्रवाई कर रही है यह किसी भी दृष्टिकोण से ठीक नहीं है।