BREAKING NEWS

भारत ड्रोन का इस्तेमाल वैक्सीन पहुंचाने के लिए करता है, केंद्रीय मंत्री ने साधा पाकिस्तान पर निशाना ◾सोमवार से दिल्ली में फिर खुलेंगे स्कूल, उपमुख्यमंत्री सिसोदिया ने दी जानकारी◾UP: प्रतिज्ञा रैली में BJP पर जमकर गरजी प्रियंका, बोली- 'इनका काम केवल झूठा प्रचार करना'◾राजनाथ ने मायावती और अखिलेश पर तंज कसते हुए कहा- उप्र को न बुआ और न बबुआ चाहिए, सिर्फ बाबा चाहिए◾कांग्रेस नेता आजाद ने केंद्र पर साधा निशाना, कहा- केंद्र शासित प्रदेश बनने से DGP को थानेदार और सीएम को MLA... ◾ट्रेक्टर मार्च रद्द करने के बाद इन मुद्दों पर अड़ा संयुक्त किसान मोर्चा, कहा - विरोध जारी रहेगा ◾ओमिक्रोन कोरोना का डर! PM मोदी बोले- अंतरराष्ट्रीय उड़ानें शुरू करने के फैसले की फिर हो समीक्षा◾अक्षर और अश्विन की फिरकी के जाल में फंसा न्यूजीलैंड, पहली पारी में 296 रनों पर सिमटी कीवी टीम ◾'जिहाद यूनिवर्सिटी': पाकिस्तान का वो मदरसा जिसके पास है अफगानिस्तान में काबिज तालिबान की डोर◾अखिलेश यादव ने किए कई चुनावी ऐलान, बोले- अब जनता BJP का कर देगी सफाया ◾संसद में बिल पेश होने से पहले किसानों का बड़ा फैसला, स्थगित किया गया ट्रैक्टर मार्च◾दक्षिण अफ्रीका में बढ़ते नए कोरोना वेरिएंट के मामलों के बीच पीएम मोदी ने की बैठक, ये अधिकारी हुए शमिल ◾कोरोना के नए वैरिएंट को राहुल ने बताया 'गंभीर' खतरा, कहा-टीकाकरण के लिए गंभीर हो सरकार◾बेंगलुरू से पटना जा रहे विमान की नागपुर एयरपोर्ट पर इमरजेंसी लैंडिंग, 139 यात्री और क्रू मेंबर थे सवार ◾कृषि कानूनों को रद्द करने की घोषणा के बाद आंदोलन का कोई औचित्य नहीं : नरेंद्र सिंह तोमर ◾NEET PG काउंसलिंग में देरी को लेकर रेजिडेंट डॉक्टर्स की हड़ताल, दिल्ली में ठप पड़ी 3 अस्पतालों की OPD सेवांए◾नवाब मलिक ने किया दावा, बोले- अनिल देशमुख की तरह मुझे भी फंसाना चाहते हैं कुछ लोग◾वृन्दावन के बांके बिहारी मंदिर में श्रद्धालुओं को जबरन चंदन-टीका लगाकर मांगते थे दक्षिणा, प्रशासन ने लगाई रोक ◾दिल्ली : MCD कर्मियों को मुर्गा बनाने वाले पूर्व MLA आसिफ मोहम्मद खान गिरफ्तार◾छत्तीसगढ़ : दंतेवाड़ा में नक्सलियों ने उखाड़ा रेलवे ट्रैक, पटरी से उतरे 3 इंजन और 20 डिब्बे ◾

बिहार : NDA में न्यूनतम साझा कार्यक्रम को लेकर कवायद शुरू, जनता से किए वादे होंगे पूरे

बिहार में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन की सरकार बनने के बाद अब सरकार ने न्यूनतम साझा कार्यक्रम बनाने की कवायद प्राारंभ कर दी है। सरकार बने एक पखवाड़े से ज्यादा का समय बीत जाने के बाद अब उन वादों पर अमल करने की तैयारी शुरू हो चुकी है, जो चुनाव के दौरान जनता से किए गए थे।

सूत्रों का कहना है कि राजग में शामिल घटक दलों की जल्द ही एक बैठक होगी, जिसमें सभी पार्टी के घोषणा पत्रों के मुताबिक योजनाओं को मूर्त रूप देने की कोशिश की जाएगी। सूत्रों का कहना है कि राजग में शामिल दल जदयू और भाजपा के अलावा विकासशील इंसान पार्टी और हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा ने चुनाव के पूर्व अलग-अलग घोषणा पत्र जारी करते हुए चुनाव मैदान में उतरे थे। इन घोषणा पत्रों में जनता से अलग-अलग वादे किए गए थे।

सूत्र कहते हैं कि चारों दल मिल बैठकर अपने-अपने घोषणा पत्रों के महत्वपूर्ण एजेंडों को मिलाकर न्यूनतम साझा कार्यक्रम बनाएंगे, जिसे सरकार अमलीजामा पहनाने में जुट जाएगी। जदयू के एक नेता कहते हैं कि जब भी एक से अधिक दलों की सरकार सत्तारूढ़ होती है तो मित्र दलों में टकराव को टालने के लिए न्यूनतम साझा कार्यक्रम बनाया जाता है। इसका मकसद मिल-जुलकर काम करना होता है।

जदयू नेता संजय सिंह ने दावा करते हुए कहा कि सभी दलों के नेता आपस में बैठकर विकास कार्य की नई रणनीति बनाएंगे और विकास का नया इतिहास रचा जाएगा। उन्होंने कहा कि पिछले 15 सालों से बिहार विकास के पथ पर आगे बढ़ रहा है, जिसे और गति दी जाएगी। उल्लेखनीय है कि हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी इस साल हुए विधानसभा चुनाव के पूर्व राजद नेतृत्व वाले महागठबंधन को समन्वय समिति नहीं बनाने के कारण ही छोड़कर राजग के साथ आ गए थे, जिसका उनको लाभ भी मिला।

राज्यसभा उपचुनाव में सुशील मोदी का निर्विरोध जीतना लगभग तय, निर्दलीय प्रत्याशी का नामांकन हुआ रद्द