BREAKING NEWS

71वां गणतंत्र दिवस के मोके पर राष्ट्रपति कोविंद राजपथ पर फहराएंगे तिरंगा◾गणतंत्र दिवस पर सैन्य शक्ति, सांस्कृतिक विरासत और सामाजिक-आर्थिक प्रगति का होगा भव्य प्रदर्शन◾अदनान सामी को पद्मश्री पुरस्कार मिलने पर हरदीप सिंह पुरी ने दी बधाई ◾पूर्व मंत्रियों अरूण जेटली, सुषमा स्वराज और जार्ज फर्नांडीज को पद्म विभूषण से किया गया सम्मानित, देखें पूरी लिस्ट !◾कोरोना विषाणु का खतरा : करीब 100 लोग निगरानी में रखे गए, PMO ने की तैयारियों की समीक्षा◾गणतंत्र दिवस : चार मेट्रो स्टेशनों पर प्रवेश एवं निकास कुछ घंटों के लिए रहेगा बंद ◾ISRO की उपलब्धियों पर सभी देशवासियों को गर्व है : राष्ट्रपति ◾भाजपा ने पहले भी मुश्किल लगने वाले चुनाव जीते हैं : शाह◾यमुना को इतना साफ कर देंगे कि लोग नदी में डुबकी लगा सकेंगे : केजरीवाल◾उमर की नयी तस्वीर सामने आई, ममता ने स्थिति को दुर्भाग्यपूर्ण बताया◾ओम बिरला ने देशवासियों को गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं दी◾PM मोदी ने पद्म पुरस्कार पाने वालों को दी बधाई◾भारत और ब्राजील आतंकवाद के खिलाफ आपसी सहयोग बढ़ाने का किया फैसला◾370 के खात्मे के बाद कश्मीर में शान से फहरेगा तिरंगा : अमित शाह◾देशवासियों को बांटने, संविधान को कमजोर करने की हो रही साजिश : सोनिया◾PM मोदी और नेतन्याहू ने फोन पर वैश्विक और क्षेत्रीय मामलों पर चर्चा की◾गांधी शांति यात्रा पहुंची आगरा ◾भारत-नेपाल सीमा पर पहुंचा कोरोना वायरस, बॉर्डर पर होगी स्क्रीनिंग◾ दिल्ली चुनाव : 250 नेता, हर दिन 500 जनसभाएं, इस तरह माहौल बनाने में जुटी है भाजपा◾आर्थिक विकास के लिए संविधान के मुताबिक चलना होगा - कोविंद◾

31 अक्तूबर तक प्रदूषण नियंत्रण मानक पूरा करें होटल, रेस्टोरेंट संचालक : सुशील मोदी

पटना : वायु, जल व ध्वनि प्रदूषण के नियंत्रण और निवारण के लिए अरण्य भवन में हुई बैठक में उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने होटल, रेस्टोरेंट व बैंक्वेट हाॅल संचालकों को स्थापना की अनुमति (ब्ज्म्) के लिए 31 अक्तूबर तक आवेदन देने का निर्देश दिया। ठोस कचरा प्रबंधन के साथ ही जल व ध्वनि प्रदूषण के नियंत्रण के लिए आवश्यक प्रबंध करने,प्लास्टिक थैली का प्रयोग प्रतिबंधित करने व होटल, रेस्टोरेंट को साफ-सुथरा रखने का निर्देश दिया। 

श्री मोदी ने कहा कि सबसे ज्यादा कचरा होटल, रेस्टोरेंट व बैंक्वेट हाॅल से पैदा होता है। तय समय सीमा में गंदा पानी का निस्तारण और जूठन का समुचित प्रबंधन करें। गंदे पानी के उपचार के लिए होटल संचालक एसटीपी या फिल्टर की व्यवस्था करें। नगर निगम के नाले में अगर गंदे पानी को प्रवाहित करते हैं तो उससे तेल व ग्रीस हटाने के लिए मल्टी ग्रेड फिल्टर से साफ करें। 

ध्वनि प्रदूषण के कारण बहरापन व दिल की बीमारी के बढ़ते गंभीर खतरे से अगाह करते हुए कहा कि इसके नियंत्रण के लिए तय मानकों का पालन करें। रात 10 बजे के बाद लाउडस्पीकर और डीजे का शोर नहीं हो। होटल कैम्पस और पार्किंग में मल्टीपल टोन व म्युजिकल हाॅर्न का प्रयोग पूरी तरह से वर्जित हो। ऐसा करने वालों को रोके और नहीं मानने वालों के खिलाफ शिकायत करें। 

उन्होंने कहा कि कि होटल के किचने के धुंए की निकासी की ऐसी व्यवस्था करें कि आसपास के लोगों को परेशानी नहीं हो। जल संरक्षण के लिए बाथरूम में ऐसा नल लगाए कि जिससे पानी की बर्बादी नहीं हो। सौर ऊर्जा के प्रयोग को बढ़ावा देने के साथ ही वर्षा जल संचयन का प्रबंधन करें। होटल के कमरे, काॅरीडोर,परिसर को हरा-भरा रखें। पर्याप्त डस्टवीन की व्यस्था और ग्राहकों को उसमें कूड़ा डालने के लिए प्रेरित करें। प्लास्टिक थैली, थर्मोकोल से बने प्लेट, कटोरी, गिलास आदि का प्रयोग पूरी तरह से प्रतिबंधित करें।