BREAKING NEWS

कोरोना वायरस : देश में मृतकों का आंकड़ा 20 हजार के पार, संक्रमितों की संख्या सवा सात लाख के करीब ◾पुलवामा में एनकाउंटर के दौरान सुरक्षा बलों ने 1 आतंकी मार गिराया, सेना का एक जवान भी हुआ शहीद ◾चीन मुद्दे पर US ने एक बार फिर किया भारत का समर्थन, कहा- अमेरिकी सेना साथ खड़ी रहेगी◾विश्वभर में कोविड-19 मरीजों की संख्या 1 करोड़ 15 लाख से अधिक, मरने वालों का आंकड़ा 5 लाख 3 हजार के पार ◾US में कोरोना संक्रमितों की संख्या 29 लाख के पार, अब तक 1 लाख 30 हजार से अधिक लोगों ने गंवाई जान◾गृह मंत्रालय से विश्वविद्यालयों को मिली हरी झंडी, परीक्षाएं कराने की मिली अनुमति◾महाराष्ट्र में कोरोना के 5,368 नए मामले आये सामने, 204 और मरीजों की मौत◾वांग - डोभाल बातचीत के बाद बोला चीन - LAC पर सैनिकों को पीछे हटाने का काम जल्द से जल्द किया जाना चाहिए ◾दिल्ली में कोरोना मरीजों का आंकड़ा 1 लाख के पार, देशभर में 7 लाख से ऊपर पहुंची संक्रमितों की संख्या◾कांग्रेस का पलटवार - चीन के खिलाफ मजबूत होती सरकार तो नड्डा को ‘झूठ’ नहीं बोलना पड़ता◾निलंबित DSP देविंदर सिंह समेत छह लोगों खिलाफआतंकी गतिविधियों के लिये NIA द्वारा चार्जशीट दायर ◾चीन के पीछे हटने से एक दिन पहले NSA डोभाल और चीनी विदेश मंत्री के बीच हुई थी बातचीत◾सेना के पीछे हटने पर बोला चीन- दोनों देशों के बीच तनाव कम करने के लिए उठाया गया कदम◾CM केजरीवाल बोले-दिल्ली में अब रोज 20 से 24 हजार हो रहे है कोरोना टेस्ट, मृत्यु दर में आई कमी ◾गलवान घाटी में 1-2 किमी तक पीछे हटी चीनी सेना, झड़प वाले स्थान पर बना बफर जोन◾विकास दुबे के संपर्क में आए तीन और पुलिसकर्मी सस्पेंड, हिस्ट्रीशीटर अब भी पकड़ से दूर◾साउथ चाइना सी में अमेरिकी युद्धपोत की तैनाती पर चीन ने दी धमकी, US नेवी ने उड़ाई ड्रैगन की खिल्ली◾राहुल रक्षा मामले की एक भी बैठक में नहीं हुए शामिल, लेकिन सशस्त्र बल पर उठा रहे हैं सवाल : नड्डा◾श्यामाप्रसाद मुखर्जी की जयंती आज, पीएम मोदी समेत इन नेताओं ने ऐसे किया याद◾दुनियाभर में कोरोना संक्रमितों की संख्या 1 करोड़ 14 लाख से अधिक, अब तक 5 लाख 33 हजार लोगों की हुई मौत ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

बिहार में डबल इंजन की सरकार के बावजुद प्रवासी श्रमिक मौत की गोद में सोने को मजबूर: राजेश राठौड़

पटना : बिहार प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता राजेश राठौड़ ने लॉकडाउन के दौरान बिहार लौट रहे प्रवासी श्रमिकों की मौत को लेकर बड़ा प्रश्न उठाया है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता ने सवाल दागते हुए पूछा है कि आखिर बिहार लौट रहे प्रवासी श्रमिकों के सडकों-ट्रेनों में हो रही मौत का जिम्मेदार कौन है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार यह बताए की जनता आखऱि इन मौतों के पीछे प्रधानमंत्री अथवा मुख्यमंत्री किसको जिम्मेदार माने। 


बिहार प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता राजेश राठौड़ ने कहा कि बिहार में नीतीश कुमार की सरकार है तथा देश में नरेंद्र मोदी के सरकार हैं। बिहार में तो भाजपा-जदयू दोनों की डबल इंजन की सरकार चल रही है। इसके बावजूद बिहार लौट रहे प्रवासी श्रमिक असमय मौत के गोद में सोने को विवश हैं। लॉकडाउन का फैसला देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का था। वहीं प्रवासी श्रमिकों को सकुशल बिहार में उनके गांव तक पहुंचाने की जिम्मेदारी केंद्र तथा राज्य सरकार की संयुक्त रूप से थी। दोनों ही सरकारों ने भली-भांति अपनी जिम्मेदारियों को नहीं निभाया। उल्टा इस महा आपदा की घड़ी में भी दोनों सरकारी बस जनता को भरमाने के प्रयास में लगी रही। जिसका नतीजा यह हुआ कि बड़ी संख्या में अपने गांव को लौट रहे प्रवासी श्रमिक कहीं सडक़ दुर्घटना तो कहीं भूख प्यास के कारण असमय काल के गाल में समा गए। 


राजेश राठौड़ ने कहा कि इन मौतों के लिए अभी तक केंद्र सरकार तथा राज्य सरकार ने जांच कराने के बाद भी नहीं कही है। इतना ही नहीं श्रमिकों के मौत का चार लाख कीमत लगा कर राज्य सरकार तो अपने कर्तव्य की इतिश्री कर लिया है। प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि आज सत्ता में बैठे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को यह भूलना नहीं चाहिए कि देश तथा राज्य की जनता आने वाले समय में इन्हें किसी हाल में माफ  नहीं करेगी।