BREAKING NEWS

चीन में कोरोना वायरस का कहर जारी, मरने वालों की संख्या 2000 के पार◾मनमोहन ने की Modi सरकार की आलोचना, कहा - सरकार आर्थिक मंदी को स्वीकार नहीं कर रही है◾अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की भारत यात्रा के मद्देनजर J&K में सुरक्षा बल सतर्क◾राम मंदिर का मॉडल वही रहेगा, थोड़ा बदलाव किया जाएगा : नृत्यगोपाल दास ◾मुंबई के कई बड़े होटलों को बम से उड़ाने की धमकी, ई-मेल भेजने वाला लश्कर-ए-तैयबा का सदस्य◾‘हिंदू आतंकवाद’ की साजिश वाली बात को मारिया ने 12 साल तक क्यों नहीं किया सार्वजनिक - कांग्रेस◾सरकार को अयोध्या में मस्जिद के लिए ट्रस्ट और धन उपलब्ध कराना चाहिए - शरद पवार◾संसदीय क्षेत्र वाराणसी में फलों फूलों की प्रदर्शनी देख PM मोदी हुए अभिभूत, साझा की तस्वीरें !◾दुनिया भर में कोरोना वायरस का प्रकोप, विश्व में अब तक 75,000 से अधिक लोग वायरस से संक्रमित◾आर्मी हेडक्वार्टर को साउथ ब्लॉक से दिल्ली कैंट ले जाया जाएगा : सूत्र◾INDO-US के बीच व्यापार समझौता ‘अटका’ नहीं है : डोनाल्ड ट्रंप ने कहा - जल्दबाजी में यह नहीं किया जाना चाहिये◾कन्हैया ने BJP पर साधा निशाना , कहा - CAA से गरीबों एवं कमजोर वर्गों की नागरिकता खत्म करना चाहती है Modi सरकार◾महंत नृत्य गोपाल दास बने श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष , नृपेंद्र मिश्रा को निर्माण समिति की कमान◾पंजाब में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले सिद्धू के AAP में जाने की अटकलें , भगवंत बोले- कोई वार्ता नहीं हुई◾पंजाब में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले नवजोत सिद्धू AAP में जाने की अटकलें , भगवंत बोले- कोई वार्ता नहीं हुई◾प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अगले माह जाएंगे बांग्लादेश दौरे पर◾विनायक दामोदर सावरकर पर बड़े विमर्श की तैयारी, अमित शाह संभालेंगे कमान◾अगले 5 साल में खोले जाएंगे 10,000 नए एफपीओ, मंत्रिमंडल ने दी योजना को मंजूरी◾केंद्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में 22वें विधि आयोग के गठन को मंजूरी दी◾देश विरोधी नारों के मामले को लेकर केजरीवाल बोले - कन्हैया के चार्जशीट पर निर्णय के लिए विधि विभाग से कहेंगे◾

बिहार में बाढ़ के कारण 72 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित, अब तक 102 लोगों की मौत

बिहार के कई जिलों में बाढ़ का विकराल रूप जारी है। राज्य के 12 जिलों में आई बाढ़ से अब तक 102 लोगों की मौत हो चुकी है जबकि करीब 72 लाख लोग प्रभावित हुए हैं। मुजफ्फरपुर, दरभंगा सहित कई क्षेत्रों में लोग सड़क पर शरण लिए हुए हैं। नेपाल और तराई क्षेत्रों में रुक-रुककर हो रही बारिश के बाद बाढ़ का संकट गहरा हो गया है। 

बिहार राज्य आपदा प्रबंधन विभाग के एक अधिकारी ने सोमवार को बताया कि बिहार के 12 जिले शिवहर, सीतामढी, मुजफ्फरपुर, पूर्वी चंपारण, मधुबनी, दरभंगा, सहरसा, सुपौल, किशनगंज, अररिया, पूर्णिया एवं कटिहार में अब तक 102 लोगों की मौत हुई है जबकि 72 लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं। 

दरभंगा के एक गांव के स्थानीय लोगों को बारिश के बाद क्षेत्र में आई बाढ़ के कारण काफी कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है। एक ग्रामीण ने बताया, "एक सप्ताह से अधिक समय हो गया है हमारे घरों में बाढ़ आए हुए। हम रेलवे ट्रैक के पास रहने के लिए बाध्य हैं। हमें अभी तक सरकार कोई भी मदद प्राप्त नहीं हुई है। 

बाढ़ प्रभावित इन 12 जिलों में कुल 133 राहत शिविर चलाए जा रहे हैं जहां 1,14,921 लोग शरण लिए हुए हैं। बाढ़ प्रभावित इलाकों में लोगों के भोजन की व्यवस्था के लिए 776 सामुदायिक रसोइयां चलाई जा रही हैं। इधर, बिहार जल संसाधन विभाग से सोमवार को मिली जानकारी के अनुसार, बिहार की कई नदियां बूढी गंडक, बागमती, कमला बलान और महानंदा नदी विभिन्न स्थानों पर रविवार सुबह खतरे के निशान से ऊपर बह रही हैं। 

विभाग के मुताबिक कोसी के जलस्तर में भी वृद्धि देखी गई है। कोसी का जलस्तर वीरपुर बैराज के पास सोमवार की सुबह आठ बजे 1.41 लाख क्यूसेक था जो 10 बजे बढकर 1.44 लाख क्यूसेक हो गया। गंडक नदी का जलस्तर भी बाल्मीकिनगर बैराज के पास बढ़ा है। मुजफ्फरपुर, दरभंगा और पूर्णिया में नए क्षेत्रों में बाढ़ के पानी का फैलाव हो रहा है। दरभंगा के सदर प्रखंड के कई पंचायतों में बाढ़ का पानी प्रवेश कर गया है।

कई सरकारी कार्यालय भी बाढ़ के पानी में डूबे हैं, जिस कारण सरकारी कार्य में भी व्यवधान आ रहा है। बिहार के आपदा प्रबंधन मंत्री लक्ष्मेश्वर राय ने दावा करते हुए कहा कि राहत और बचाव कार्य जारी हैं। उन्होंने कहा कि राहत समाग्री पहुंचाने के लिए अब हेलीकॉटर का भी इस्तेमाल किया जाएगा। उन्होंने माना कि कई नए क्षेत्रों में भी बाढ़ के पानी का प्रवेश हुआ है।