BREAKING NEWS

शोपियां सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ के दौरान 3 आतंकवादियों को मार गिराया, एक ने किया आत्मसमर्पण◾आज का राशिफल ( 06 मई 2021)◾चार देशों से 11 ऑक्सीजन कंटेनर, 350 ऑक्सीजन सिलेंडर ला रही है वायुसेना ◾भाजपा सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने दिया विवादित बयान, ममता बनर्जी को बताया ताड़का ◾जयशंकर डिजिटल तरीके से जी7 की बैठक में शामिल, कहा कोविड के खिलाफ जंग में भूमिका निभाएगा भारत ◾महाराष्ट्र में संक्रमण से 920 मरीजों की मौत, 57640 नए केस ◾संक्रमण के मामलों में आ रही है गिरावट पर बोले चिदंबरम- कोरोना की जांच की संख्या हुई कम◾कोरोना संकट : भारतीय नौसेना ने विदेशों से ऑक्सीजन और चिकित्सा आपूर्ति लाने के लिए नौ युद्धपोत तैनात किए◾कोरोना के मामलों में गिरावट के बावजूद लापरवाही न करें, हम तीसरी लहर के लिये कर रहे है तैयारी : CM ठाकरे◾तमिलनाडु : राज्यपाल पुरोहित ने डीएमके अध्यक्ष एमके स्टालिन को मुख्यमंत्री के रूप में किया नियुक्त◾दिल्ली में कब तक जारी रहे लॉकडाउन, CM केजरीवाल बोले - जनता खुद देख रही है कि मुसीबत कितनी बड़ी है◾गृह मंत्रालय ने ममता सरकार से हिंसा पर मांगी रिपोर्ट, कहा - नहीं भेजने पर गंभीरता से लिया जाएगा एक्शन ◾बंगाल में एक लाख लोगों ने हिंसा के डर से छोड़ा घर, खून से सने है ममता बनर्जी के हाथ : जे पी नड्डा ◾कोविड-19 : उत्तर प्रदेश में 24 घंटों में संक्रमण के 31,165 नए मामले सामने आए, 357 संक्रमितो की मौत ◾कोविड-19 मरीजों का अब होगा एंटीबॉडी कॉकटेल से इलाज, भारत में इस्तेमाल के लिए मिली मंजूरी◾SC ने मुंबई के ऑक्सीजन प्रबंधन की तारीफ करते हुए केंद्र और दिल्ली सरकार से कहा - BMC से लें सीख ◾कोरोना संकटकाल में कोई भी गरीब बिना राशन के नहीं रहेगा : CM शिवराज◾केरल में कोरोना के 41 हजार से अधिक नए मामले की पुष्टि, संक्रमण से 58 की मौत◾सरकार के प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार की चेतावनी, देश में कोरोना की तीसरी लहर भी आएगी ◾भारत और चीन के संबंध मुश्किल दौर से गुजर रहे है : विदेशमंत्री एस जयशंकर◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

शिक्षा के इतिहास में मील का पत्थर साबित होगी नई शिक्षा नीति : सुशील कुमार मोदी

आईसीएआर सभागार में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद व विद्या भारती की ओर से नई शिक्षा नीति-2020 पर आयोजित राज्यस्तरीय निबंध प्रतियोगिता के शुभारंभ समारोह को सम्बोधित करते हुए उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि 28 वर्षों के बाद नरेन्द्र मोदी की सरकार द्वारा घोषित नई शिक्षा नीति-2020 शिक्षा के इतिहास में मील का पत्थर साबित होगी।

इससे स्कूली शिक्षा से बाहर 2 करोड़ बच्चों को शिक्षा के दायरे में लाने, ड्राॅपआउट रोकने व पाठ्यक्रम के बोझ को कम करने के साथ ही व्यावसायिक शिक्षा को बढ़ावा देने में मदद मिलेगी। श्री मोदी ने कहा कि नई शिक्षा नीति के तहत जीडीपी के कुल खर्च 4.3 को बढ़ा कर 6 प्रतिशत तक करने के लक्ष्य है।

5 वीं कक्षा तक के बच्चों को उनकी मातृभाषा में शिक्षा दी जाएगी। 3 से 5 वर्ष की आयु के बच्चों को पहली बार प्री स्कूल शिक्षा से जोड़ा जाएगा। बच्चों को मध्याह्न भोजन के साथ सुबह का जलपान भी दिया जाएगा। यूजीसी व एआईसीटी वैगरह को खत्म कर ‘हाइयर एजुकेशन कमिशन ऑफ इंडिया’ के गठन के साथ ही एम.फिल को समाप्त करने की अनुशंसा की गई है।

अब उच्च शिक्षा 3 के बजाय 4 वर्षीय होगी। अगर काई छात्र एक वर्ष पढ़ता है तो उसे सर्टिफिकेट, 2 वर्ष में डिप्लोमा व 3 वर्ष पूरा करने पर बैचलर की डिग्री मिलेगी और वह शोध कार्य के साथ चैथा वर्ष पूरा करेगा। छात्र बीच की अवधि में भी अपने विषयों की अदला-बदली कर सकेंगे।

व्यावसायिक शिक्षा को वर्तमान के 5 फीसदी से बढ़ा कर 2024 तक 50 प्रतिशत तक ले जाने का लक्ष्य है। मालूम हो कि अमेरिका में जहां 19 से 24 आयुवर्ग के 52 फीसदी वहीं जर्मनी में 75 फीसदी छात्र व्यावसायिक शिक्षा से आच्छादित है। शिक्षक बनने वालों के लिए 2030 के बाद चार वर्षीय इंटेग्रेटेड बीएड कोर्स अनिवार्य किया जाएगा। नई शिक्षा नीति देश की संस्कृति, परम्परा और इतिहास से जहां प्रेरित है वहीं दुनिया के साथ संतुलन बनाने में भी सफल साबित होगी।