BREAKING NEWS

राष्ट्रपति कोविंद और PM मोदी ने गुरु नानक जयंती की दी शुभकामनाएं◾भारत को गुजरात में बदलने के प्रयास : तृणमूल कांग्रेस सांसद ◾विदेश मंत्री एस जयशंकर ने अपने डच समकक्ष के साथ विभिन्न विषयों पर चर्चा की ◾महाराष्ट्र गतिरोध : राकांपा नेता अजित पवार राज्यपाल से मिलेंगे ◾महाराष्ट्र : शिवसेना का समर्थन करना है या नहीं, इस पर राकांपा से और बात करेगी कांग्रेस ◾महाराष्ट्र : राज्यपाल ने दिया शिवसेना को झटका, और वक्त देने से किया इनकार◾CM गहलोत, CM बघेल ने रिसॉर्ट पहुंचकर महाराष्ट्र के नवनिर्वाचित विधायकों से मुलाकात की ◾दोडामार्ग जमीन सौदे को लेकर आरोपों पर स्थिति स्पष्ट करें गोवा CM : दिग्विजय सिंह ◾सरकार गठन फैसले से पहले शिवसेना सांसद संजय राउत की तबीयत बिगड़ी, अस्पताल में भर्ती◾महाराष्ट्र: सरकार गठन में उद्धव ठाकरे को सबसे बड़ी परीक्षा का करना पड़ेगा सामना !◾महाराष्ट्र गतिरोध: उद्धव ठाकरे ने शरद पवार से की मुलाकात, सरकार गठन के लिए NCP का मांगा समर्थन ◾अरविंद सावंत ने दिया इस्तीफा, बोले- महाराष्ट्र में नई सरकार और नया गठबंधन बनेगा◾महाराष्ट्र में सरकार गठन पर बोले नवाब मलिक- कांग्रेस के साथ सहमति बना कर ही NCP लेगी फैसला◾CWC की बैठक खत्म, महाराष्ट्र में शिवसेना को समर्थन देने पर शाम 4 बजे होगा फैसला◾कांग्रेस का महाराष्ट्र पर मंथन, संजय निरुपम ने जल्द चुनाव की जताई आशंका◾महाराष्ट्र में शिवसेना को समर्थन देने पर कांग्रेस-NCP ने नहीं खोले पत्ते, प्रफुल्ल पटेल ने दिया ये बयान◾BJP अगर वादा पूरा करने को तैयार नहीं, तो गठबंधन में बने रहने का कोई मतलब नहीं : संजय राउत◾महाराष्ट्र सरकार गठन: NCP ने बुलाई कोर कमेटी की बैठक, शरद पवार ने अरविंद के इस्तीफे पर दिया ये बयान ◾संजय राउत का ट्वीट- रास्ते की परवाह करूँगा तो मंजिल बुरा मान जाएगी◾शिवसेना सांसद अरविंद सावंत ने मंत्री पद से इस्तीफे की घोषणा की◾

बिहार

नीतीश ने माफिया राज को बढ़वा देने के लिए अपनाया बंदी का फॉर्मूला : अनिल

जनतांत्रिक विकास पार्टी (जविपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनिल कुमार ने बिहार की नीतीश सरकार पर राज्य में माफियाराज को बढ़वा देने का आरोप लगाते हुये आज कहा कि इसके लिए बंदी का फॉर्मूला अपनाया जा रहा है। 

श्री कुमार ने यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कुर्सी मोह में बिहार का सत्यानाश कर दिया है। शराबबंदी, बालू बंदी, दहेज बंदी, मिट्टी बंदी और अब पान मसालों की ब्रांड बंदी कर राज्य में माफियाराज को बढ़वा दिया है, क्योंकि बंदी के बावजूद भी इनकी बिक्री सरेआम हो रही है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने तीन साल पहले शराबबंदी लागू की लेकिन बिहार में कौन सा ऐसा गांव या मुहल्ला है, जहां शराब नहीं मिलती है। 

जविपा अध्यक्ष ने कहा कि नीतीश सरकार ने बालू-गिट्टी बंदी की जिसके बाद इनकी कीमत चार गुना बढ़ गई और माफियाओं के जरिये अकूत धन की कमाई की जा रही है। एक ओर शराब को बिकवाने में शासन-प्रशासन को लगा रखा है वहीं माफिया बालू-गिट्टी को ऊंची कीमत पर बेच रहे हैं। उन्होंने सवालिया लहजे में कहा कि अब पान मसाला पर पाबंदी लगाई है, वह भी महज 12 ब्रांड पर, तो इन 12 ब्रांड के तंबाकू उत्पाद के अलावा अन्य पर रोक क्यों नहीं लगाई गई। क्यों यह बंदी महज एक सालों की है। क्या यह चुनावी साल में धन उगाही के लिए है। 

श्री कुमार ने कहा कि दरअसल मुख्यमंत्री श्री कुमार का पहला कार्यकाल वह था, जब बिहार में कोई काम नहीं हो रहा था। वे सत्ता में आये तो लगा कुछ काम हुआ। लेकिन, अगले ही कार्यकाल से उन्होंने अपनी कुर्सी सुरक्षित रखने की जद्दोजहद शुरू कर दी। 

नतीजा दूसरे कार्यकाल के अंत तक जिस जंगलराज को कोस कर सरकार में आये, उसके के सहयोग से महाजंगलराज कायम किया। तीसरी बार उसी लालू यादव के साथ मिलकर सरकार बनाई और कुर्सी पर खतरा देख कर फिर से उस भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के साथ जनादेश का अपमान कर चल गए। 

जविपा अध्यक्ष ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री कुमार के कुर्सी बचाओ अभियान के कारनामों में बिहार की हालत खराब हो चुकी है। हत्या, लूट, बलात्कार, चोरी, डकैती, मॉब लिंचिंग जैसी घटनाओं में जबरदस्त इजाफा हुआ है। अस्पताल में चिकित्सक और नर्स नहीं है। उन्होंने कहा कि अब माफियाराज से छुटकारा पाने का वक्त आया गया है।