BREAKING NEWS

मध्य प्रदेश में तीन चरणों में होंगे पंचायत चुनाव, EC ने तारीखों का किया ऐलान ◾कल्याण और विकास के उद्देश्यों के बीच तालमेल बिठाने पर व्यापक बातचीत हो: उपराष्ट्रपति◾वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ का हआ निधन, दिल्ली के अपोलो अस्पताल में थे भर्ती◾ MSP और केस वापसी पर SKM ने लगाई इन पांच नामों पर मुहर, 7 को फिर होगी बैठक◾ IND vs NZ: एजाज के ऐतिहासिक प्रदर्शन पर भारी पड़े भारतीय गेंदबाज, न्यूजीलैंड की पारी 62 रन पर सिमटी◾भारत में 'Omicron' का तीसरा मामला, साउथ अफ्रीका से जामनगर लौटा शख्स संक्रमित ◾‘बूस्टर’ खुराक की बजाय वैक्सीन की दोनों डोज देने पर अधिक ध्यान देने की जरूरत, विशेषज्ञों ने दी राय◾देहरादून पहुंचे PM मोदी ने कई विकास योजनाओं का किया शिलान्यास व लोकार्पण, बोले- पिछली सरकारों के घोटालों की कर रहे भरपाई ◾ मुंबई टेस्ट IND vs NZ - एजाज पटेल ने 10 विकेट लेकर रचा इतिहास, भारत के पहली पारी में 325 रन ◾'कांग्रेस को दूर रखकर कोई फ्रंट नहीं बन सकता', गठबंधन पर संजय राउत का बड़ा बयान◾अमित शाह बोले- PAK में सर्जिकल स्ट्राइक कर भारत ने स्पष्ट किया कि हमारी सीमा में घुसना आसान नहीं◾केंद्र ने अमेठी में पांच लाख AK-203 असॉल्ट राइफल के निर्माण की मंजूरी दी, सैनिकों की युद्ध की क्षमता बढ़ेगी ◾Today's Corona Update : देश में पिछले 24 घंटे के दौरान 8 हजार से अधिक नए केस, 415 लोगों की मौत◾चक्रवाती तूफान 'जवाद' की दस्तक, स्कूल-कॉलेज बंद, पुरी में बारिश और हवा का दौर जारी◾विश्वभर में कोरोना के आंकड़े 26.49 करोड़ के पार, मरने वालों की संख्या 52.4 लाख से हुई अधिक ◾आजाद ने सेना ऑपरेशन के दौरान होने वाली सिविलिन किलिंग को बताया 'सांप-सीढ़ी' जैसी स्थिति◾SKM की बैठक से पहले राकेश टिकैत ने कहा- उम्मीद है कि आज की मीटिंग में कोई समाधान निकलना चाहिए◾राष्ट्रपति ने किया ट्वीट, देश की रक्षा सहित कोविड से निपटने में भी नौसेना ने निभाई अहम भूमिका◾तेजी से फैल रहा है ओमिक्रॉन, डब्ल्यूएचओ ने कहा- वेरिएंट पर अंकुश लगाने के लिए लॉकडाउन अंतिम उपाय◾सिंघु बॉर्डर पर संयुक्त किसान मोर्चा की आज होगी अहम बैठक, आंदोलन की आगे की रणनीति होगी तय◾

कार्तिक पूर्णिमा स्नान के अवसर पर किसी भी आपदा से निपटने के लिए NDRF के बचावकर्मी मुश्‍तैदी से हैं तैनात

कार्तिक पूर्णिमा स्नान को दुर्घटना रहित रखने के संकल्प को चरितार्थ करने के लिए  आज 9वीं बटालियन एनडीआरएफ, बिहटा के लगभग 200 बचावकर्मी 42 रेस्क्यू बोट के साथ पटना के विभिन्न गंगा नदी  घाटों पर अत्‍याधुनिक बाढ़-बचाव उपकरणें के साथ श्री कुमार बालचंद्र, उप कमान्डेंट के नेतृत्व में मुश्‍तैदी से तैनात हो चुकी है। 

 9वीं बटालियन एनडीआरएफ बिहटा (पटना) की 02 टीमें पटना जिला के गंगा घाटों पर  रेस्क्यू मोटर बोट और अत्याधुनिक बाढ़-बचाव उपकरणों के साथ तैनात हैं और 18 नवंबर से लेकर 19 नवम्बर  तक पटना के विभिन्‍न घाटों पर बोटों से लगातार श्रद्धालुओं की सुरक्षा में उपस्थित रहेंगी  जिससे कोई अप्रिय घटना को रोका जा सके।

बटालियन को कमांड कर रहे श्री हरविंदर सिंह, द्वितीय कमान अधिकारी ने बताया कि इस साल कार्तिक पूर्णिमा स्नान  काफी चुनौती पूर्ण है क्योंकि कोरोना महामारी का अंत अभी तक नहीं हुआ है ऐसे में कार्तिक पूर्णिमा स्नान में उमड़ने वाली भीड़ के बीच अपने कर्तव्यों का निर्वाहन एनडीआरएफ के बचावकर्मियों को करना है। इस अवसर पर  9वीं बटालियन एनडीआरएफ के 200 से अधिक बचावकर्मियों को 42 रेस्क्यू मोटर बोटों के साथ दानापुर पीपापुल घाट से पटना सिटी भट्ठा घाट तक गंगा नदी के विभिन्‍न घाटों पर तैनात की गई है। उन्होंने बताया कि दोनो टीमों  में कुशल तैराक, गोताखोर, अत्याधुनिक बाढ-बचाव व संचार उपकरणों से लैस है जिससे कोई भी अप्रिय घटना पर नियंत्रण किया जा सके । 

तैनाती के दौरान पटना के गाँधी घाट पर एनडीआरएफ द्वारा टेक हैडक्वार्टर श्री कुमार बालचंद्र, उप कमान्डेंट के नेतृत्व में स्थापित किया गया है जिससे सभी टीमों तथा जिला प्रशासन में आपसी समन्वय स्‍थापित रहे। सभी टीमों के साथ मेडिकल स्टाफ पर्याप्त मात्रा में आवश्यक दवाईयों के साथ मौजूद रहेंगे एवं गाँधी घाट, भद्र घाट,  तथा दीघा घाट पर एनडीआरएफ के चिकित्सा अधिकारी की मौजूदगी में मैडिकल  कैम्प स्थापित किया जायेगा, इसके अलावा एनडीआरएफ के बचावकर्मी बोटो के द्वारा गंगा नदी के घाटों पर कार्तिक पूर्णिमा स्नान के दौरान पेट्रोलिंग करते हुये मेगाफोन और सीटी के माध्‍यम से स्‍नान कर रहे श्रद्धालुओं को बैरेकेटिंग के अन्‍दर ही स्‍नान करने का अनुरोध करते रहेंगे ताकि कोई अप्रिय घटना न हो सके । 

 उन्‍होने  आगे बताया कि देर रात से एनडीआरएफ की जलीय एम्बुलेंस मेडिकल स्‍टाफ के साथ पटना गंगा नदी घाटों  के किनारे पेट्रोलिंग करती रहेगी ताकि जरूरत पडने पर लोगों को तुरंत चिकित्सा मदद मुहैया कराया जा सके। एनडीआरएफ की एक टीम को दीदारगंज, पटना में अलर्ट पर रखा गया है। *उन्‍हेाने श्रद्धालुओं से भी आग्रह किया  कि गंगा नदी  के वैरेकेटिंग के आगे काफी गहराई है अत: किसी भी स्थिति में स्नान के दौरान बैरेकेटिंग के आगे न जायें  छोटे बच्चों को घाटों पर ना ले जाएं बुजुर्ग महिलाएं व पुरुष  गंगा  घाटों पर जाने से परहेज करें और कोविड प्रोटोकॉल का पालन करें ।