BREAKING NEWS

भाजपा ने जय श्रीराम का नारा लगाकर नेताजी का अपमान कियाः ममता बनर्जी ◾किसान संगठनों का ऐलान - बजट के दिन संसद की तरफ करेंगे कूच, यह पूरे देश का आंदोलन है◾गणतंत्र दिवस की पूर्व संध्या पर सम्बोधन में बोले कोविंद - किसानों के हित के लिए सरकार पूरी तरह समर्पित ◾प्रदूषण फैलाने वाले पुराने वाहनों पर लगाया जायेगा ‘ग्रीन टैक्स’, गडकरी ने दी मंजूरी◾पंजाब के CM अमरिंदर सिंह ने किसानों से शांतिपूर्ण तरीके से ट्रैक्टर परेड निकालने की अपील की ◾कृषि कानूनों को डेढ़ साल तक निलंबित रखने का फैसला सरकार की 'सर्वश्रेष्ठ' पेशकश : नरेंद्र सिंह तोमर◾मुंबई की किसान रैली में बोले पवार - राज्यपाल के पास कंगना के लिए समय है, किसानों के लिए नहीं◾टीकों के खिलाफ अफवाहों को रोकने और उन्हें फैलाने वालों के खिलाफ केंद्र द्वारा सख्त कार्रवाई के निर्देश ◾प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की गलत नीतियों के कारण देश में आर्थिक असमानता बढ़ी : कांग्रेस ◾PM की मौजूदगी में तानों का करना पड़ा सामना, BJP का नाम होना चाहिए ‘भारत जलाओ पार्टी’ : CM ममता ◾प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रीय बाल पुरस्कार विजेताओं से किया संवाद, जीवनी पढ़ने की दी सलाह ◾राहुल के आरोपों पर बोले CM शिवराज, कांग्रेस के माथे पर देश के विभाजन का पाप◾किसानों ने ट्रैक्टर परेड के लिए तैयार किया ब्लू प्रिंट, चाकचौबंद व्यवस्था के साथ ये है गाइडलाइन्स◾PM की वजह से देश हो गया एक कमजोर और विभाजित भारत, अर्थव्यवस्था हुई ध्वस्त : राहुल गांधी ◾महाराष्ट्र में किसानों का हल्ला बोल, कृषि कानून विरोधी रैली में उतरेंगे शरद पवार-आदित्य ठाकरे ◾सिक्किम में चीनी घुसपैठ को भारतीय सैनिकों ने किया नाकाम, चीन के 20 सैनिक जख्मी◾करीब 15 घंटे तक चली भारत और चीन के बीच वार्ता, टकराव वाले स्थानों से सैनिकों को पीछे हटाने पर हुई चर्चा ◾मध्य और उत्तर भारत में कड़ाके की ठंड का प्रकोप जारी, कश्मीर में न्यूनतम तापमान में गिरावट◾Covid-19 : देश में 13203 नए मामलों की पुष्टि, पिछले आठ महीने में सबसे कम लोगों की मौत ◾TOP 5 NEWS 25 JANUARY : आज की 5 सबसे बड़ी खबरें ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर की गाड़ी पर पटना यूनिवर्सिटी के छात्रों ने किया पथराव

जदयू के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर की गाड़ी पर पथराव करने का मामला सामने आया है। घटना पटना यूनिवर्सिटी में वाईस चांसलर के आवास के बाहर हुई। हालांकि पथराव में वे बाल-बाल बच गए लेकिन उनकी गाड़ी का शीशा चकनाचूर हो गया। पटना यूनिवर्सिटी (पीयू) में 5 दिसंबर को छात्रसंघ चुनाव होना है।

3 दिसंबर की शाम को 5 बजे के बाद छात्रसंघ का चुनाव प्रचार समाप्त हो गया था। इसके बाद जेडीयू के नेता प्रशांत किशोर पटना यूनिवर्सिटी पहुंचे और वीसी से मुलाकात की थी। बाद में वीसी आवास के बाहर से छात्रों को जबरन हटाया गया और किसी तरह पुलिस की सुरक्षा में प्रशांत किशोर को बाहर निकाला गया और उनके ड्राइवर ने तेजी से उनकी गाड़ी को वहां से निकाला।

प्रशांत किशोर जब वीसी रासबिहारी सिंह के साथ बैठक कर रहे थे तब चीफ इलेक्शन ऑफिसर के सलाहकार प्रोफेसर रामशंकर आर्य भी बैठक में मौजूद थे। बताया जा रहा है किप्र शांत किशोर कुलपति के दफ्तर से बाहर निकले थे तभी एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने उनकी गाड़ी पर पथराव कर दिया। एबीवीपी का आरोप है कि प्रशांत किशोर छात्रसंघ चुनाव को प्रभावित करने की कोशिश कर रहे हैं।

लोकसभा चुनाव 2019 : एक बार फिर साथ दिखेगी नरेंद्र मोदी-प्रशांत किशोर की जोड़ी

इस घटना के बाद प्रशांत किशोर ने ट्वीट करके एबीवीपी पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट किया है, 'एबीवीपी गुंडे और असामाजिक तत्वों से कुछ अच्छा करने की जरूरत है, जो कि आजकल बिहार में आपका चेहरा बन गए हैं। पटना यूनिवर्सिटी के छात्रसंघ चुनाव में संभावित हार की घबराहट मेरी गाड़ी पर पत्थर मारने से कम नहीं होगी।'

The news about my injury is false. I'm fine, thanks for the concern. @ABVPVoice u need to do better than let few hooligans & antisocial elements become your face in Bihar. पटना यूनिवर्सिटी के छात्रसंघ चुनाव में संभावित हार की घबराहट मेरी गाड़ी पर पत्थर मारने से कम नहीं होगी।

— Prashant Kishor (@PrashantKishor) December 3, 2018

इसके साथ ही उन्होंने ट्वीट में लिखा है, 'मेरे जख्मी होने की खबर सही नहीं है। मैं ठीक हूं, मेरी चिंता करने के लिए शुक्रिया। 'जहां एक ओर यूनिवर्सिटी कैंपस में प्रशांत किशोर को लेकर ड्रामा चल रहा था, वहीं बीजेपी विधायकों का एक प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल लालजी टंडन से मुलाकात कर चुनाव में धांधली की शिकायत कर रहा था।

बता दें कि 5 दिसंबर को पीयू के छात्र संघ का चुनाव होना है। वीसी से उनकी यह मुलाकात तीन घंटे तक हुई है। छात्र संघ चुनाव को देखते हुए वहां मौजूद कई छात्रों का आरोप है कि प्रशांत किशोर वीसी पर दबाव बनाने के लिए वहां पहुंचे थे। ताकि छात्र जदयू के उम्मीदवारों को चुनाव में मदद दिला सकें। हालांकि इस बवाल के बाद 10 छात्रों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है।

विश्वविद्यालय के छात्रों ने वीसी आवास पर सीएम नीतीश और पीके के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। नाराज छात्र पीके गो बैक के नारे लगाते रहे। छात्र संगठनों ने 2 घंटे तक वीसी आवास का घेराव किया। प्रशांत किशोर ने इस मामले में सफाई दी है।