BREAKING NEWS

केंद्र का बड़ा फैसला, PM सहित कैबिनेट मंत्रियों और सांसदों के वेतन में 30 फीसदी की होगी कटौती◾कोरोना की चपेट में आई मुकेश अंबानी की संपत्ति, 2 महीने में 28 प्रतिशत गिरकर हुई 48 अरब डॉलर◾कांग्रेस प्रवक्ता बोले- पेट्रोल-डीजल पर मुनाफा जनता के साथ साझा करें सरकार◾मौलाना साद को क्राइम ब्रांच ने भेजा दूसरा नोटिस, पहले नोटिस में नहीं दिए थे सवालों के जवाब◾BJP स्थापना दिवस पर PM मोदी बोले- कोरोना महामारी के खिलाफ लड़ाई में जीत हो यही देश का लक्ष्य और संकल्प है◾BJP विधायक ने PM मोदी की सोशल डिस्टेंसिंग की अपील की उड़ाई धज्जियां, समर्थकों के साथ सड़क पर निकाला जुलूस◾इंसानों के बाद जानवरों पर कोरोना की मार, न्यूयॉर्क के चिड़ियाघर की बाघिन हुई संक्रमित ◾कोविड-19 : देश में संक्रमितों की संख्या 4000 के पार, 109 लोगों की अब तक मौत◾BJP स्थापना दिवस पर PM मोदी, नड्डा और शाह ने कार्यकर्ताओं को दी शुभकामनाएं, कहा- एकजुट होकर देश को कोविड-19 से करें मुक्त◾भोपाल में कोविड-19 से 52 वर्षीय व्यक्ति की हुई मौत, कोरोना से मरने वालो का आकंड़ा 14 हुआ ◾ब्रिटेन के PM बोरिस जॉनसन कोरोना वायरस से संबंधी जांचों के लिए अस्पताल में हुए भर्ती ◾अमेरिका में कोरोना वायरस से संक्रमितो की संख्या 3,37,274 हुई, पिछले 24 घंटो में 1200 लोगों ने गवाई जान ◾प्रधानमंत्री मोदी के आह्वान पर उनकी मां ने भी दीया जलाया◾लॉकडाउन: दिल्ली पुलिस ने शब-ए-बारात के दिन मुस्लिम समुदाय के लोगों से घरों में रहने का आग्रह किया◾PM मोदी की अपील पर देश भर में घरों के बल्ब और ट्यूबलाइट बंद होने से बिजली ग्रिड पर नहीं पड़ा कोई असर, सबकुछ सामान्य◾कश्मीर से कन्याकुमारी तक लोगों ने कोरोना से लड़ने का लिया संकल्प◾कोविड 19 : कोरोना के खिलाफ एकजुट दिखा भारत, मोदी की अपील पर देशवासियों समेत कई बड़े नेताओं ने जलाए दीये ◾रक्षा प्रमुख अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत ने दिल्ली में कोविड-19 शिविर का किया दौरा◾उपराज्यपाल ने स्वास्थ्य विभाग को दिए निर्देश, कहा- ऐसे निजी अस्पतालों की करे पहचान जहां हो सके कोविड-19 का इलाज ◾स्वास्थ्य मंत्रालय : देश में कोरोना संक्रमितों की संख्या 3,577 तक पहुंची, अब तक 83 लोगों की मौत ◾

बिहार के लोग भीख नहीं मॉगते, काम करके आगे बढ़ते हैं : नीतीश कुमार

पटना : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने आज होटल मौर्या में आयोजित शिखर सम्मेलन 2019: बिहार के समापन समारोह में भाग लिया। शिखर सम्मेलन में बिहार के विकास एवं जनकल्याणकारी योजनाओं से जुड़े हर एक सवालों का मुख्यमंत्री ने जबाब दिया। सवाल-जबाब के क्रम में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि हमने बिहार के हित में एनडीए के साथ गठबंधन किया। उन्होंने कहा कि एनडीए से असंतोष का कोई सवाल ही नहीं उठता।

2014 में जब एनडीए से अलग होकर हमलोगों ने चुनाव लड़ा था, तब स्थिति दूसरी थी। उन्होंने कहा कि वर्ष 2015 में महागठबंधन का नाम मैंने ही दिया था। मुख्यमंत्री ने कहा कि राम मंदिर एवं समान नागरिक संहिता पर हमारी पार्टी का स्टैंड पहले जैसा ही है। उन्होंने कहा कि राम मंदिर का निर्माण आपसी सहमति से हो या कोर्ट के फैसले से हो। उन्होंने कहा कि बिहार को केन्द्र का भरपूर सहयोग मिला और पहले की तुलना में बिहार में एनडीए भी मजबूत हुयी है। उन्होंने जोर देकर कहा कि जब-जब आलोचना हुयी है, तब-तब गठबंधन मजबूत होकर उभरा है।

मुख्यमंत्री ने दोहराया कि बिहार के विकास के लिये गठबंधन हुआ और आज भी हम किसी भी सूरत में तीन चीजों- क्राइम, करप्शन और कम्यूनिलिज्म से समझौता नहीं करते। उन्होंने कहा कि वीडियो वायरल होने से क्राइम बढ़ गया, ऐसा कहना गलत है। बिहार की कानून व्यवस्था में लगातार सुधार आया है एवं बिहार में अपराध के ऑकड़ों में कमी आयी है। उन्होंने कहा कि राजनैतिक तौर पर लालू प्रसाद यादव से मतभेद हो सकते हैं लेकिन तेजस्वी यादव के प्रति हमेशा हमारे मन में स्नेह का भाव रहा है और वह आज भी है।

उन्होंने कहा कि विकास के साथ-साथ सामाजिक विकास का भी काम हो रहा है। 21 जनवरी 2017 को नशामुक्ति के समर्थन में मानव श्रृंखला बनी थी, जिसमें चार करोड़ लोगों ने भाग लिया था। उस समय जो लोग हाथ में हाथ डालकर खड़े थे, आज वही लोग इसका विरोध कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि 21 जनवरी 2018 को बाल विवाह एवं दहेज प्रथा के खिलाफ लगभग 14 हजार किलोमीटर की मानव श्रृंखला बनी थी। मुख्यमंत्री ने कहा कि शराबबंदी से बिहार को फायदा हुआ है और हम चाहते हैं कि देश में भी शराबबंदी लागू हो।

मुख्यमंत्री ने कहा कि नरेन्द्र मोदी ही 2019 के लोकसभा चुनाव के बाद प्रधानमंत्री बनेंगे। उन्होंने कहा कि बिहार की सेवा करना ही एकमात्र हमारा मकसद है और मैं बिहार की ही सेवा करना चाहता हूॅ। उन्होंने कहा कि मेरे रेल मंत्री रहते स्व. अटल बिहारी वाजपेयी ने रेलवे के एक भी प्रस्ताव को अमान्य नहीं किया। वे हमेशा लोगों को काम करने के लिये प्रेरित करते थे। मुख्यमंत्री ने आरएसएस की भी तारीफ करते हुए कहा कि 1925 में आरएसएस का गठन हुआ और उसके बाद से जनसंघ और अब भाजपा का व्यापक रूप देखने को मिला है लेकिन आरएसएस और मेरे विचार बिल्कुल अलग हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं गांधी जी, लोहिया जी और जयप्रकाश के विचारों से प्रभावित हूॅ। उन्होंने कहा कि बिहार लगातार तरक्की कर रहा है और 2009 से हमारा ग्रोथ रेट डबल डिजिट में रहा है। उन्होंने कहा कि बिहार में व्यापार बढ़ रहा है। लैंड लॉक्ड स्टेट होने के कारण बिहार में बड़े उद्योग नहीं हैं लेकिन लोगों की कमाई बढ़ी है। बिहार में न्याय के साथ विकास हो रहा है। हमने हर गांव तक बिजली पहुंचाई है। अब इस साल के अंत तक कृषि के लिये अलग फीडर पर काम पूरा कर लिया जायेगा। साथ ही जर्जर बिजली के तारों को भी बदलने का लक्ष्य भी पूरा कर लिया जायेगा।

उन्होंने कहा कि बिहार में अब लोगों को काम मिल रहा है और अब वे रोजगार के लिये बाहर जाने को मजबूर नहीं हैं। उन्होंने कहा कि पहले की सरकारों के दौरान बिहार में सडक़ें नहीं बनी। हमलोगों ने सडक़ बनाने का काम शुरू किया। उन्होंने कहा कि बिहार के लोग भीख नहीं मॉगते हैं, काम करके आगे बढ़ते हैं।

मुख्यमंत्री ने आर्थिक आधार पर गरीबों को आरक्षण देने का समर्थन करते हुये कहा कि 70 सालों में परिस्थितियॉ बदली हैं और आर्थिक आधार पर शैक्षणिक या सरकारी नौकरियों में दस प्रतिशत का आरक्षण का फैसला कहीं से भी गलत नहीं है। उन्होंने कहा कि संविधान संशोधन कर आर्थिक आधार पर 10 प्रतिशत अतिरिक्त आरक्षण की व्यवस्था की गयी है इस नई आरक्षण व्यवस्था से किसी को नुकसान नहीं है।