BREAKING NEWS

महाराष्ट्र : सरकार बनाने की राह में आदित्य को सीएम बनाने की मांग से बाधा ◾आतंक वित्तपोषण : प्रवर्तन निदेशालय ने सलाहुद्दीन, अन्य से जुड़ी सम्पत्तियों को कब्जे में लिया ◾श्रीलंका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति 29 नवम्बर को आयेंगे भारत की यात्रा पर : जयशंकर ◾रजनीकांत, हासन ने तमिलनाडु की भलाई के लिए हाथ मिलाने के दिए संकेत◾जम्मू कश्मीर में जल्द से जल्द राजनीतिक गतिविधियां बहाल होनी चाहिये : राम माधव ◾पाक नापाक हरकतें करता रहता है : राजनाथ ◾पाक नापाक हरकतें करता रहता है : राजनाथ ◾सोनिया ने दिल्ली के वायु प्रदूषण पर चिंता जताई ◾लोकसभा में उठा प्रदूषण का मुद्दा: पराली जलाने के बजाय वाहनों, उद्योगों को ठहराया गया जिम्मेदार . संसद ◾विदेश मंत्री एस जयशंकर पहुंचे श्रीलंका , नये राष्ट्रपति से करेंगे मुलाकात◾आप' के साथ दिल्ली के 'वाटर-वार' में कूदे पासवान◾दिल्ली में भूकंप के झटके, रिक्टर स्केल पर 5.0 रही तीव्रता◾TOP 20 NEWS 19 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾अयोध्या फैसले पर ओवैसी फिर बोले- SC का फैसला किसी भी तरह से ‘पूर्ण न्याय’ नहीं ◾भाजपा के कार्यकर्ताओं ने CM केजरीवाल के गुमशुदगी पोस्टर लगाए, किया प्रदर्शन ◾ममता बनर्जी के 'अल्पसंख्यक अतिवादी' वाले बयान पर ओवैसी ने किया पटलवार ◾JNU विवाद : जीवीएल नरसिम्हा बोले-नर्सरी में एक लाख फीस देने वालों को उच्च शिक्षा के लिए 50 हजार देने में दिक्कत क्यों◾आर्थिक मंदी को लेकर 30 नवंबर को कांग्रेस की होने वाली रैली स्थगित हुई ◾महाराष्ट्र सरकार गठन पर सोनिया के घर हुई बैठक, अहमद, एंटनी और खड़गे भी हुए शामिल◾सांसदों ने आसन के समीप आकर की नारेबाजी, लोकसभा अध्यक्ष ने दी चेतावनी◾

बिहार

राजद में भाइयों के बीच शीत युद्ध समाप्त कराने में जुटीं हैं राबड़ी देवी

राष्ट्रीय जनता दल (राजद) ने अगले वर्ष होने वाले बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर भले ही तैयारी प्रारंभ कर दी है, परंतु आज भी कई नेता लोकसभा चुनाव में पार्टी उम्मीदवारों के खिलाफ मुहिम चलाने वाले राज्य के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेज प्रताप यादव के खिलाफ कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। 

इस बीच पार्टी की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में तेजस्वी यादव को राजद की ओर से मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित कर उन्हीं के नेतृत्व में चुनाव लड़ने की घोषणा कर दी गई है। तेज प्रताप ने भी बैठक में तेजस्वी को अपना 'अर्जुन' बताते हुए समर्थन की घोषणा कर दी है, परंतु राजद के कई नेता तेजप्रताप को तेजस्वी के लिए चुनौती मान रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी हालांकि अब दोनों भाइयों में उत्पन्न 'शीत युद्ध' समाप्त कराने में 'मध्यस्थ' की भूमिका निभाते नजर आ रही हैं।

राजद के एक नेता ने बताया, "बैठक में पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी अपने दोनों बेटों के बीच बैठी थीं, जैसे वह मध्यस्थ की भूमिका निभा रही हैं। वह तेज प्रताप और तेजस्वी के बीच शांति कायम करने की कोशिश कर रही हैं।" बैठक में राबड़ी देवी ने भी सभी नेताओं को क्षेत्र में जाने का निर्देश देते हुए पार्टी को फिर से मजबूत और सक्रिय करने पर जोर दिया है। 

राजद के एक नेता ने नाम नहीं प्रकाशित करने की शर्त पर कहा, "तेज प्रताप बैठक में भी सभी को साथ लेकर चलने और एकपक्षीय फैसला नहीं करने की बात कर इशारों ही इशारों में अपने तेवर स्पष्ट कर चुके हैं।" राजद ने अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए तेजस्वी को आधिकारिक रूप से अपना मुख्यमंत्री उम्मीदवार घोषित कर दिया है, परंतु तेजप्रताप ने भी पार्टी के खिलाफ जाने के स्पष्ट संकेत दे दिए हैं। 

राजद के एक अन्य नेता का दावा है कि राबड़ी देवी अपने दोनों बेटों के बीच और तेजस्वी के नेतृत्व और पार्टी के वरिष्ठों के बीच एक अच्छे संतुलन का काम कर रही हैं। इसके लिए राबड़ी कई नेताओं से बातचीत भी कर चुकी हैं। राजद सूत्रों का कहना है कि लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद कई विधायक और वरिष्ठ नेता तेज प्रताप को लेकर नाराजगी व्यक्त कर चुके हैं। जहानाबाद संसदीय क्षेत्र से पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी के खिलाफ तेज प्रताप ने अपना प्रत्याशी उतार दिया था। 

पार्टी के अधिकांश नेताओं का कहना है कि तेजप्रताप अगर अपना प्रत्याशी नहीं उतारते तो जहानाबाद से पार्टी की जीत तय थी। इस बीच राजग भी दोनों भाइयों के मनमुटाव को हवा दे रहा है। बिहार के मंत्री विजय कुमार सिन्हा ने तेजस्वी यादव के विधानसभा के मॉनसून सत्र में सदन में कम उपस्थिति के पीछे दोनों भाइयों में वर्चस्व की लड़ाई की बात कह रहे हैं। 

राजद हालांकि सिन्हा के इन आरोपों को नकारता है। राजद के विधायक भाई वीरेंद्र कहते हैं कि राजद में कहीं कोई मतभेद नहीं है। उन्होंने कहा कि राजद एकजुट है और पार्टी ने आगे के चुनाव की तैयारी प्रारंभ कर दी है।