BREAKING NEWS

उत्तराखंड : PM मोदी ने फोन पर CM धामी से की बात , हरसंभव सहायता का दिया आश्वासन ◾UK : बारिश भूस्खलन से 34 की मौत, सैकड़ो पर्यटक और श्रद्धालुओं का रेस्क्यू◾अपनी पार्टी बनाएंगे, BJP के साथ सीटों के बंटवारे के लिए बातचीत को तैयार : अमरिंदर सिंह◾कैप्टन अमरिंदर सिंह ने नई राजनीतिक पार्टी बनाने का किया ऐलान◾बांग्लादेश में हिंदुओं पर हमला : भाजपा नेता दिलीप घोष हसीना पर नरम, ममता पर गरम◾केंद्र को भाजपा में सही सोचने वाले लोगों की सुननी चाहिए: किसान नेताओं ने कहा◾भारत-पाक टी-20 को लेकर 'AAP' ने की मांग, कहा- कश्मीर में नागरिकों की हत्या को देखते हुए रद्द हो मैच ◾लखीमपुर हिंसा मामले में SIT का नया पैंतरा, छह तस्वीरें जारी कर कहा- पहचान बताने वाले को देंगे इनाम◾पाकिस्तान सेना का दावा- भारत की पनडुब्बी को अपने समुद्री क्षेत्र में घुसने से रोका! जारी की वीडियो फुटेज ◾सिंघु बॉर्डर हत्याकांड: कृषि मंत्री की वायरल फोटो पर मचा बवाल, तोमर के साथ दिखे निहंग अमनदीप सिंह◾बांग्लादेश में अल्पसंख्यकों पर हो रहे हमले दोनों देशों के रिश्तों को कमजोर करने की साजिश: CM बिप्लब देब◾बांग्लादेश की PM शेख हसीना ने गृह मंत्री से कहा-हिंसा भड़काने वालों के खिलाफ जल्द करे कार्रवाई◾घोषणाओं के बजाय प्रतिज्ञा को तरजीह देगी कांग्रेस, UP की राजनीति महत्वपूर्ण मोड़ पर खड़ी : सुप्रिया श्रीनेत ◾प्रियंका के महिलाओं को टिकट देने के ऐलान को मायावती ने बताया कांग्रेस की कोरी चुनावी नाटकबाजी◾बंगाल उपचुनाव : BJP उम्मीदवार के साथ धक्का-मुक्की, कहा- प्रचार से रोकने के TMC ने की ऐसी हरकत◾पाकिस्तान की उम्मीदें एक बार फिर होंगी तार-तार! FATF की ग्रे सूची में बने रहने की संभावना◾चुनाव प्रचार के दौरान मछली मारते नजर आए तेजस्वी, RJD ने CM नीतीश पर कसा तंज ◾हिंदी ना आने पर भिड़े कस्टमर और जोमैटो का कर्मचारी, विवाद बढ़ने पर कंपनी को मांगनी पड़ी माफी ◾उत्तराखंड में भारी बारिश से मची तबाही, मरने वालों की संख्या 11 हुई, कई लोगों के मलबे में फंसे होने की आशंका◾कश्मीर में बढ़ रही हिंसा पर बोले राहुल गांधी-मोदी सरकार सुरक्षा देने में पूरी तरह से नाकाम साबित हुई◾

तेजस्वी का तंज- 'नल जल योजना' बन गई है 'नल धन योजना', थक चुके हैं CM नीतीश

बिहार में नल जल योजना के तहत उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद के रिश्तेदारों को ठेका देने का मामला अब तूल पकड़ लिया है। राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने गुरुवार को कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अब थक चुके हैं, वे क्राइम, करप्शन और कम्युनलिज्म से समझौता करने को तैयार हैं। उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा कि राज्य की नल जल योजना 'नल धन योजना' बन गई है।

पटना में तेजस्वी यादव ने एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि नल जल योजना में जमकर भ्रष्टाचार हुआ है। उन्होंने मुख्यमंत्री को चुनौती देते हुए कहा कि मुख्यमंत्री 50 पंचायतों का नाम बता दें जहां सही ढंग से काम हुआ है। राजद नेता ने कहा कि इस योजना में कैसा भ्रष्टाचार हुआ है सब जानते हैं। उन्होंने कहा कि राजद के कटिहार के नेता राम प्रकाश महतो ने इसकी जानकारी अगस्त 2020 में ही दी थी। उसके बाद मुख्यमंत्री को एक पत्र लिखकर भी उन्होंने योजना में गड़बड़ी की शिकायत की थी।

उल्लेखनीय है कि नल जल योजना में उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद के साले, बहू व रिश्तेदारों को करीब 53 करोड़ रुपये का ठेका दिए जाने का आरोप लगाया गया है। तेजस्वी यादव ने आरोप लगाया कि सिर्फ तारकिशोर प्रसाद ही नहीं कई जदयू और भाजपा के कई नेताओं और उनके संबंधियों को नल जल योजना के तहत लाभ पहुंचाया गया है।

उन्होंने कहा कि जिन कंपनियों को इस योजना के तहत कटिहार में ठेका दिया गया है उसके पत्ते पर कंपनी का कोई साइन बोर्ड तक नहीं है। उन्होंने नियम का हवाला देते हुए कहा कि ठेका उन्हीं को मिलता है जिन्हें सरकारी कार्य का अनुभव होता है कि लेकिन कटिहार में उपमुख्यमंत्री के रिश्तेदारों की जिन कंपनियों को ठेका दिया गया है, उन्हें कोई अनुभव नहीं है।

तेजस्वी ने कहा कि इस मामले के प्रकाश में आने के बाद उपमुख्यमंत्री कह रहे हैं कि बिजनेस करना बुरी बात नहीं है। ठीक है बिजनेस करना बुरी बात नहीं है, लेकिन भ्रष्टाचार करना ही इनका बिजनेस है। तेजस्वी ने मुख्यमंत्री पर निशाना साधते हुए कहा कि भ्रष्टाचार को नीतीश कुमार का प्रोटेक्शन और एक्सेप्टेंस है। इधर, तेजस्वी के आरोपों के बाद राजग में शामिल हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा (हम) ने तेजस्वी पर ही पलटवार किया है।

हम के प्रवक्ता दानिश रिजवान ने कहा कि नल जल योजना को लेकर जिस तरह तेजस्वी यादव ने बयान दिया है वह यह बताता है कि वे अभी राजनीति के क्षेत्र में अपरिपक्व हैं। उन्होंने कहा कि तेजस्वी को याद रखना चाहिए कि राजद काल में बंदूक के बल पर टेंडर लालू प्रसाद के लोगों को दे दिया जाता था। रिजवान ने कहा कि तेजस्वी जो आरोप लगा रहे हैं वहां नल जल योजना में ओपन टेंडर था, जिसमें कोई भी टेंडर डाल सकता था, इसमें उपमुख्यमंत्री का कोई हाथ नहीं हो सकता।

रामायण को नकारने वाले मांझी ने जाहिर किया अपना गुस्सा, बोले- जो कुछ भी कहा.. सदियों के दर्द का है नतीजा