BREAKING NEWS

राहुल गांधी का तीखा वार : मप्र में कांग्रेस ने किसानों का कर्ज माफ किया, भाजपा ने झूठे वादे किए◾कृषि बिल पर विरोध : दिल्ली की ओर कूच कर रहे युवा कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को पुलिस ने रोका, कई हिरासत में◾धोनी पर बरसे गंभीर , कहा - सातवें नंबर पर बल्लेबाजी करना मोर्चे से अगुवाई नहीं◾DRDO ने टैंक रोधी मिसाइल का किया सफल परीक्षण, रक्षा मंत्री ने दी बधाई ◾कोविड-19: देश में स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या में लगातार तेजी, रिकवरी रेट 81.25 प्रतिशत ◾कृषि बिल पर विरोध जारी, संसद परिसर में गांधी प्रतिमा से अंबेडकर प्रतिमा तक विपक्ष का मार्च ◾कृषि बिल : विपक्ष का संसद परिसर में प्रदर्शन, आज शाम 5 बजे 5 नेताओं से मिलेंगे राष्ट्रपति◾बारिश की वजह से डूबी मुंबई, सड़क और रेल यातायात बुरी तरह प्रभावित ◾सुशांत केस : ड्रग्स मामले में रिया-शोविक की सुनवाई टली, मुंबई में बारिश के चलते आज HC की छुट्टी◾कश्मीर के मुद्दे को लेकर तुर्की के राष्ट्रपति पर भड़का भारत, कहा- आंतरिक मामलों में दखल स्वीकार नहीं◾राहुल ने पीएम मोदी पर पड़ोसी देशों के साथ संबंधों को नष्ट करने का लगाया आरोप◾कोरोना संक्रमण के फैलते प्रकोप की वजह से संसद का मानसून सत्र आज से अनिश्चित काल के लिए स्थगित ◾देश में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 56 लाख के पार, 90 हजार से अधिक लोगों ने गंवाई जान◾पीएम मोदी की 7 राज्यों के CM के साथ बैठक आज, कोरोना महामारी पर करेंगे चर्चा ◾अमेरिका में वैश्विक महामारी के नए मामलों में कमी, कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 2 लाख के पार ◾आज का राशिफल (23 सितम्बर 2020)◾बिहार DGP गुप्तेश्वर पांडे ने लिया VRS, लड़ सकते हैं आगामी विधानसभा चुनाव◾संजू सैमसन के तूफान में नरम पड़े सुपरकिंग्स, राजस्थान रायल्स ने चेन्नई को 16 रन से हराया◾भारत ने स्वदेशी हाई-स्पीड टार्गेट ड्रोन 'अभ्यास' का किया सफल परीक्षण◾LAC पर भारत-चीन के बीच नो एक्शन एग्रीमेंट, अग्रिम मोर्चे पर और अधिक सैनिक नहीं भेजेंगे दोनों देश◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

सुशांत मामले की CBI जांच की सिफारिश का विपक्ष ने किया स्वागत, तेजस्वी बोले- कोर्ट की निगरानी में होनी चाहिए जांच

बिहार के रहने वाले सुशांत सिंह राजपूत के कथित आत्महत्या मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से कराए जाने की बिहार सरकार द्वारा अनुशंसा कए जाने का राज्य के लगभग सभी राजनीतिक दलों ने स्वागत किया है। बिहार विधानसभा में विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने सीबीआई जांच की अनुशंसा पर संतोष व्यक्त करते हुए कहा कि यह जांच अदालत की निगरानी में होनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि राजद ने सबसे पहले सीबीआई जांच की मांग की थी। उन्होंने एक बार फिर राजगीर में बन रही फिल्म सिटी का नाम सुशांत सिंह राजपूत के नाम पर करने की मांग दोहराई।भाजपा के प्रवक्ता डॉ़ निखिल आनंद ने बिहार सरकार द्वारा सुशांत मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश किए जाने का स्वागत करते हुए बिहार सरकार को इस निर्णय के लिए धन्यवाद दिया है। उन्होंने आशा जताते हुए कहा कि सीबीआई इस मामले की जल्द जांच करे, तभी रहस्य से परदा उठ सकेगा।

उन्होंने कहा कि बिहार सरकार के इस फैसले से बिहार के बेटे सुशांत, उनके परिवार, शुभचिंतकों व बिहार की न्याय की उम्मीद बढ़ गई है। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र सरकार व मुंबई पुलिस शुरू से ही इस मामले में सबूत मिटाने व साक्ष्यों से छेड़छाड़ में लगी थी। इधर, जदयू के प्रवक्ता संजय सिंह ने कहा कि राजपूत की मौत और उसके पीछे की साजिश की जांच सीबीआई को सौंपकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जनभावना का ख्याल रखा है। उन्होंने कहा कि सीबीआई सुशांत सिंह की मौत के मामले में गुनहगारों को अब बेनकाब करेगी।

उन्होंने कहा, "बिहार पुलिस ने शुरुआती जांच में जिन तथ्यों को पाया, उसे सीबीआई जल्द अंजाम तक पहुंचाए, इसकी उम्मीद है। मुंबई पुलिस ने अगर बिहार पुलिस को सहयोग दिया होता तो सुशांत की मौत से जुड़ा सच सामने आ गया होता, लेकिन अब सीबीआई सच सामने लाएगी।"

बिहार सरकार ने मंगलवार को राजपूत की कथित आत्महत्या मामले की जांच सीबीआई से कराने की सिफारिश कर दी। इससे पहले, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय को निर्देश दिया कि वह सुशांत मामले में सीबीआई जांच से जुड़ी कार्रवाई जल्द शुरू करें, जिससे मामले की जांच सीबीआई के हवाले किया जा सके। इसी बीच सुशांत के पिता के.के. सिंह ने भी डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय से बात की।

पाकिस्तान में 432 नए मरीजों में कोरोना संक्रमण की पुष्टि, पॉजिटिव मामलों की संख्या 2 लाख 80 हजार के पार