BREAKING NEWS

निगमबोध घाट पर होगा पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली का अंतिम संस्कार◾भाजपा और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए मुख्य संकटमोचक थे अरुण जेटली◾PM मोदी को बहरीन ने 'द किंग हमाद ऑर्डर ऑफ द रेनेसां' से नवाजा, खलीफा के साथ हुई द्विपक्षीय वार्ता◾मोदी ने जेटली को दी श्रद्धांजलि, सत्ता में आने के बाद गरीबों का कल्याण किया : प्रधानमंत्री मोदी◾जेटली के आवास पर तीन घंटे से अधिक समय तक रुके रहे अमित शाह ◾भाजपा को हर कठिनाई से उबारने वाले शख्स थे अरुण जेटली◾राहुल और अन्य विपक्षी नेता श्रीनगर हवाईअड्डे पर रोके गये, सभी को भेजा वापिस ◾अरूण जेटली का पार्थिव शरीर उनके आवास पर लाया गया, भाजपा और विपक्षी नेताओं ने दी श्रद्धांजलि ◾वरिष्ठ नेता अरुण जेटली के निधन पर प्रधानमंत्री ने कहा : मैंने मूल्यवान मित्र खो दिया ◾क्रिेकेटरों ने पूर्व केन्द्रीय मंत्री अरूण जेटली के निधन पर शोक व्यक्त किया ◾पूर्व केन्द्रीय मंत्री अरुण जेटली का निधन : राजनीतिक खेमे में दुख की लहर◾प्रधानमंत्री मोदी द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत बनाने के लिए UAE पहुंचे ◾बिहार के विवादास्पद विधायक अनंत सिंह ने दिल्ली की अदालत में आत्मसमर्पण किया ◾सत्य और न्याय की स्थापना के लिए हुआ श्रीकृष्ण का अवतार : योगी◾अर्थव्यवस्था की रफ्तार बढ़ाने के लिए कई उपायों की घोषणा, एफपीआई पर ऊंचा कर अधिभार वापस ◾आईएनएक्स मीडिया मामला : चिदम्बरम ने उच्चतम न्यायालय में नयी अर्जी लगायी ◾विपक्ष के 9 नेताओं के साथ राहुल गांधी कल करेंगे कश्मीर का दौरा ◾TOP 20 NEWS 23 August : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾अर्थव्यवस्था की बिगड़ी हालत पर निर्मला सीतारमण बोली- भारत की आर्थिक स्थिति बेहतर◾सरकार के आर्थिक सलाहकारों ने भी माना कि संकट में है अर्थव्यवस्था : राहुल गांधी◾

बिहार

तेजस्वी यादव ने लोगों से फर्जी राष्ट्रवाद, दुष्प्रचार से सतर्क रहने की अपील की

राजद नेता तेजस्वी यादव ने मतदाताओं से, “हिंदू बनाम मुसलमान और फर्जी राष्ट्रवाद जैसे मुद्दों” से सतर्क रहने तथा दुष्प्रचार से प्रभावित हुए बिना सरकार चुनने की अपील की। बिहार में हाल में संपन्न हुए विधानसभा सत्र से अपनी गैर मौजूदगी को लेकर सत्ता पक्ष की आलोचनाओं का बार-बार शिकार हो रहे नेता प्रतिपक्ष ने बृहस्पतिवार को एक लंबे फेसबुक पोस्ट में अपने विचार साझा किए। 

लोकसभा चुनावों में पार्टी का खाता भी नहीं खुल पाने के बाद से ही वह निराश चल रहे हैं। यादव ने ‘दिल की बात’ शीर्षक से लिखे पोस्ट में कहा, “लोगों को दुष्प्रचार से प्रभावित हुए बिना उनकी रोजमर्रा की जिंदगी को प्रभावित करने वाले मुद्दों को जहन में रखते हुए सरकार चुननी चाहिए।” बिहार में विधानसभा चुनाव अगले साल होने हैं। 

हरसिमरत कौर ने सिख विरोधी दंगे और जलियांवाला बाग नरसंहार को लेकर कांग्रेस पर साधा निशाना

यादव ने लिखा, “अगर लोग हिंदू बनाम मुसलमान और फर्जी राष्ट्रवाद जैसे मुद्दों में उलझे रहेंगे, महज 6,000 रुपये सालाना जैसे प्रलोभनों में आ जाएंगे जो प्रतिदिन के लिहाज से मात्र 17 रुपये है तो किसी भी सरकार को उनकी समस्याओं को सुलझाने की जरूरत क्यों महसूस होगी।” उनका इशारा भाजपा नीत केंद्र सरकार की ‘किसान सम्मान निधि योजना’ की तरफ था जिसके तहत छोटे एवं वंचित किसान परिवारों को सालाना 6,000 रुपये का आय समर्थन दिया जाएगा जिनके पास भूमि का संयुक्त स्वामित्व है या दो हेक्टेयर भूमि का स्वामित्व है। साथ ही यादव ने नीतीश कुमार सरकार द्वारा हर बार 25-30 साल पहले की स्थिति का हवाला देने को लेकर भी शिकायती लहजा अपनाया जब राज्य में उनके पिता लालू यादव और बाद में उनकी मां राबड़ी देवी का शासन था।