BREAKING NEWS

BJP ने कांग्रेस पर ट्रैक्टर परेड के दौरान किसानों को उकसाने का आरोप लगाया ◾ट्रैक्टर परेड हिंसा : योगेन्द्र यादव, टिकैत, पाटकर सहित 37 किसान नेताओं के खिलाफ नामजद प्राथमिकी ◾राजनाथ ने अमेरिका के नये रक्षा मंत्री ऑस्टिन से क्षेत्रीय, वैश्विक मुद्दों पर बात की ◾बंगाल विधानसभा का दो दिवसीय सत्र शुरू, कृषि कानूनों के खिलाफ प्रस्ताव लाएगी तृणमूल ◾हिंसा में शामिल थे किसान नेता, शर्तों को नहीं मानकर किया विश्वासघात : पुलिस कमिश्नर◾केंद्र सरकार ने जारी की नई गाइडलाइंस,1 फरवरी से खुलेंगे सिनेमा हॉल और स्वीमिंग पूल◾आप नेता राघव चड्डा ने हिंसा के मुद्दे पर बीजेपी को घेरा, लगाए कई गंभीर आरोप◾दिल्ली में हिंसा के लिए गृह मंत्री जिम्मेदार, कांग्रेस ने कहा- केवल 30 से 40 ट्रैक्टर लेकर उपद्रवी लाल किले में कैसे घुस पाए?◾हिंसा के बाद किसान आंदोलन में पड़ी दरार, दो संगठनों ने खुद को किया अलग◾26 जनवरी हिंसा: राकेश टिकैत, अन्य किसान नेताओं के खिलाफ एफआईआर दर्ज◾गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा के बाद गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में कानून-व्यवस्था की समीक्षा की ◾संयुक्त किसान मोर्चा की सफाई - असामाजिक तत्वों ने शांतिपूर्ण प्रदर्शनों को नष्ट करने की कोशिश की◾दिल्ली पुलिस ने ट्रैक्टर परेड में हिंसा के संबंध 200 लोगों को हिरासत में लिया, पूछताछ जारी ◾BCCI प्रमुख सौरव गांगुली को सीने में दर्द, अपोलो हॉस्पिटल में कराया गया एडमिट ◾नेपाल में कोविड टीकाकरण का पहला चरण शुरू, भारत ने तोहफे में दी है 10 लाख वैक्सीन डोज◾ किसान ट्रैक्टर परेड: गणतंत्र दिवस पर हिंसा की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल◾दो दिवसीय दौरे पर केरल पहुंचे राहुल, मलप्पुरम में गर्ल्स स्कूल के भवन का किया उद्घाटन ◾किसान आंदोलन को बदनाम करने की साजिश हुई कामयाब : हन्नान मोल्लाह◾किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान भड़की हिंसा में 300 पुलिसकर्मी हुए घायल, क्राइम ब्रांच करेगी जांच◾ट्रैक्टर परेड हिंसा : संयुक्त किसान मोर्चा ने बुलाई बैठक, सभी पहलुओं पर होगी चर्चा ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

पटना में होने के बावजूद अपने घर नहीं जा रहे तेजप्रताप, मांगा नया बंगला

लालू यादव के पुत्र तेजप्रताप यादव आजकल सुर्खियों में है। तेजप्रताप पटना में होने के बाबजूद अपने घर नहीं जा रहे। उनको अपने घर के लिए एक अलग घर कि तलाश है। इसको लेकर तेजप्रताप ने बिहार के भवन निर्माण मंत्री ने अपने लिए एक आवास कि मांग कि। सूत्रों का कहना है कि तेजप्रताप को एक नए बंगले का इंतज़ार है। बतया जा रहा। कि तेजप्रताप ने भवन निर्माण विभाग से टलर रोड पर स्थित बंगले न दो कि मांग की है। लेकिन भवन निर्माण मंत्री माहेश्वर हजारी का कहना की विभाग केवल सेंट्रल पूल के बंगले को ही आवंटित करता।

विधायकों या विधान पार्षदों को विधानसभा या विधान परिषद सचिवालय के माध्यम से ही बंगले मिलते। बता दें कि ऐश्वर्या राय से तलाक के फैसले के बाद से ही तेजप्रताप यादव घर से बाहर रह रहे हैं। 27 दिनों तक वह पटना से बाहर। पटना आने के बाद भी तेजप्रताप घर नहीं जा रहे। ऐसे में लालू परिवार को यह चिंता हो रही है कि आखिर तेजप्रताप को घर से दूर रहने के बाद भी कोई आर्थिक रूप से मदद कर रहा है। साथ ही लालू परिवार इस बात का भी पता लगा रहे है कि वे कौन-कौन लोग हैं जो तेजप्रताप यादव की मदद कर रह हैं। पूर्व सीएम राबड़ी देवी के 10 सर्कुलर रोड स्थित आवास से लेकर पार्टी नेताओं और पार्टी कार्यकर्ताओं के बीच यह चर्चा का विषय बना हुआ है।

तलाक मामले की सुनवाई के लिए पटना लौटे तेजप्रताप यादव

बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव के पुत्र एवं राज्य के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव कुछ दिन तक ब्रजक्षेत्र में रहने के बाद बुधवार को पटना लौट गए। बताया जा रहा है कि वह वहां इसी माह की शुरुआत में दाखिल की गई तलाक संबंधी अर्जी की सुनवाई की प्रक्रिया में शामिल होंगे। गौरतलब है कि शादी के महज छह महीने बाद तेजप्रताप ने गत 1 नवम्बर को तलाक की अर्जी दाखिल की थी और उसके बाद से वह कुछ तीर्थस्थलों का भ्रमण करने के बाद अपने आधा दर्जन मित्रों की मण्डली के साथ 6 नवम्बर को अचानक वृन्दावन पहुंचे थे।

ब्रज प्रवास के दौरान उन्होंने पूरा समय या तो एक गेस्ट हाउस में एकांतवास के रूप में बिताया, या फिर अलग-अलग तीर्थस्थल का भ्रमण करते रहे। लेकिन मीडिया से पूरी तरह दूरी बनाये रखी। बताया जाता है कि वह कुछ दिन गुप्त तौर पर गौड़ीय आश्रम में भी रहे। इस बीच उन्होंने ऑटो रिक्शा में बैठकर गिरिराज पर्वत की परिक्रमा लगाई। ब्रज चैरासी कोस की यात्रा में आने वाले चारों धाम के दर्शन किए। वृन्दावन में यमुना में नौका विहार किया। टटियास्थल के दर्शन किए। बरसाना में राधारानी के मंदिर में भी दर्शन किये। इस दौरान उन्होंने बिहार वन गौशाला में गायों के साथ समय बिताया।

चमेली वन, वृंदादेवी, नंदभवन, गहवर वन, प्रिया कुण्ड, वृषभान कुण्ड, कीर्तिकुण्ड, सूर्यकुण्ड, अष्टसखी कुण्ड, खेलवन, गोकुल, महावन, दाऊजी आदि के दर्शन किए। वृन्दावन में उनके स्थानीय मित्र लक्ष्मण प्रसाद के अनुसार बुधवार को वह शेरगढ़ क्षेत्र में विहार वन होते हुए एक्सप्रेस-वे से दिल्ली की ओर निकल गए। जहां से उनका हवाई मार्ग से दिल्ली जाने का कार्यक्रम है। तेजप्रताप के मित्र ने उम्मीद जताई कि वहां मामले की पैरवी के बाद वह अपने राजनीतिक जीवन में लौट जाएंगे और पूर्ववत सभी जिम्मेदारियों को निभाने का प्रयास करेंगे। उन्होंने यह भी संभावना जताई कि वह बिहार विधानसभा के आगामी शीत सत्र में भी भाग लेंगे और क्षेत्रीय जनता के हितों के मुद्दे उठाते हुए नजर आ सकते हैं।