BREAKING NEWS

यूपी की राह पर शिवराज सरकार - ‘लव जिहाद’ के दोषी को होगी 10 साल की सजा, लाएंगे विधेयक◾यूपी में योगी सरकार ने एस्मा लागू किया, अगले 6 माह तक नहीं होगी हड़ताल ◾लखनऊ विश्वविद्यालय : सामर्थ्य के इस्तेमाल का बेहतर उदाहरण है रायबरेली का रेल कोच फैक्ट्री- PM मोदी◾असंतुष्ट नेताओं से ममता बनर्जी की अपील : पार्टी को गलत मत समझिए, हम गलतियों को सुधारेंगे◾कोरोना के खिलाफ केंद्र ने कसी कमर, 31 दिसंबर तक के लिए जारी की नई गाइडलाइंस, जानें क्या हैं नियम◾लक्ष्मी विलास बैंक के DBS बैंक में विलय को मिली मंजूरी , सरकार ने निकासी की सीमा भी हटाई ◾ललन पासवान बोले-मुझे लगा लालू जी ने बधाई देने के लिए फोन किया, लेकिन वे सरकार गिराने की बात करने लगे◾पंजाब में एक दिसंबर से नाइट कर्फ्यू, कोरोना प्रोटोकॉल का पालन नहीं करने पर 1000 का जुर्माना◾'अश्विनी मिन्ना' मेमोरियल अवार्ड में आवेदन करने के लिए क्लिक करें ◾निर्वाचित प्रतिनिधियों की अनुशासनहीनता से उन्हें चुनने वाले लोगों की भावनाएं आहत होती हैं : कोविंद◾भारत में बैन हुए 43 मोबाइल ऐप पर ड्रैगन को लगी मिर्ची, व्यापार संबंधों की दी दुहाई ◾भाजपा MP के विवादित बोल - रोहिंग्याओं, पाकिस्तानियों को भगाने के लिए भाजपा करेगी 'सर्जिकल स्ट्राइक'◾विपक्ष के जबरदस्त हंगामे के बीच NDA के विजय सिन्हा बने बिहार विधानसभा के स्पीकर◾सुशील मोदी का दावा-लालू ने BJP MLA को दिया मंत्री पद का लालच, ट्विटर पर जारी किया ऑडियो◾UN में 'झूठ का डोजियर' पेश करने के लिए भारत ने पाक को लगाई फटकार, कहा- यह उसकी पुरानी आदत ◾लव जिहाद के खिलाफ UP सरकार के फैसले का अनिल विज ने किया स्वागत, बोले-योगी जिंदाबाद◾विश्व के 191 देशों में कोरोना का कहर तेज, अब तक 14 लाख से अधिक लोगों ने गंवाई जान ◾सोनिया और राजीव के विश्वासपात्र रहे अहमद पटेल थे कांग्रेस के असली संकटमोचक◾Weather update : जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में बर्फबारी से उत्तर भारत में बढ़ी ठंड ◾देश में कोरोना एक्टिव केस में बढ़ोतरी, संक्रमितों का आंकड़ा 92 लाख के पार ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

समय पर मेडिकल सपोर्ट से बचाई जा सकती है अधिकतर ट्रॉमा पेशेंट की जान

पटना: समय पर मेडिकल सपोर्ट से अधिकतर मरीजों की जान बचायी जा सकती है। पाटलिपुत्र गोलंबर के समीप स्थित मेडिपार्क मल्टी सुपर स्पेशयलिटी हॉस्पिटल के निदेशक न्यरो सर्जन डॉ शाश्वत कुमार  ने बताया कि मेडिपार्क में ट्रामा पेशेंट के लिए इमरजेंसी की सारी सुविधाएं उपलब्ध करायी गयी हैं। सडक दुर्घटना के शिकार मरीजों को जितना जल्दी संभव हो सके, मेडिकल सपोर्ट अत्यंत आवश्यक है।

समय पर चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराकर अधिकतर मरीजों की जान बचायी जा सकती है। एक्सीडेंट के 1 घंटे को डॉक्टर गोल्डेन पीरियड मानते हैं, चूंकि यही वो बहुमूल्य समय है, जिसमें मरीजों को समय पर हॉस्पिटल पहुंचा दिया जाए तो पेशेंट को नुकसान से बचाया जा सकता है। ऐसे पेशेंट के लिए मेडिपार्क में न्यूरो, स्पाईन और ऑर्थो के चिकित्सकों ने मिलकर एक योजना बनाई है, ताकि एक्सीडेंट के केस में इमरजेंसी में एडमिट मरीज का इलाज तुरंत प्रारंभ किया जा सके। 

ट्रॉमा सेंटर के रुप में मेडिपार्क हॉस्पिटल को विकसित किये जाने के संबंध में निदेशक न्यूरो सर्जन  डॉ शाश्वत कुमार ने बताया कि यातायात के नियमों की अनदेखी, युवाओं की तेज स्पीड बाइकिंग और बिना हेलमेट के गाडी चलाने जैसी थोडी सी लापरवाही से न सिर्फ उन्हें जान गंवानी पडती है, बल्कि किसी मां बाप और परिवार के वे एकमात्र सहारा होते हैं और अगर वे रोड एक्सीडेंट के शिकार हो गये और समय पर चिकित्सा सुविधा नहीं मिली, ऐसे में उस परिवार या मां बाप की परेशानियों को समझा जा सकता है।

डॉ शाश्वत की टीम में ऑर्थो के डॉ नीरज कुमार भी शामिल  हैं।

 डॉ शाश्वत ने बताया कि ट्रॉमा पेशेंट के लिए मेडिपार्क 24 घंटे खुला है। साथ ही गाईनी में डॉ जया, जीआई सर्जरी में डॉ एनके राय, यूरोलॉजी में डॉ पंकज, नेफ्रोलॉजी में डॉ गोविन्द के अनुभव का लाभ मरीजों को ओपीडी में सुबह 9 से शाम 5 बजे तक मिलेगा। लॉकडाउन में छूट के कारण मरीजों की बढ़ती संख्या को देखते हुए डायलिसिस, डिलीवरी, आईसीयू और नीकु की सुविघाएं भी प्रारंभ कर दी गयी हैं।