BREAKING NEWS

संसद में स्वस्थ चर्चा चाहती है सरकार, बैठक में महत्वपूर्ण मुद्दों को हरी झंडी दिखाई गई: राजनाथ सिंह ◾त्रिपुरा के लोगों ने स्पष्ट संदेश दिया है कि वे सुशासन की राजनीति को तरजीह देते हैं : PM मोदी◾कांग्रेस ने हमेशा लोगों के मुद्दों की लड़ाई लड़ी, BJP ब्रिटिश शासकों की तरह जनता को बांट रही है: भूपेश बघेल ◾आजादी के 75 वर्ष बाद भी खत्म नहीं हुआ जातिवाद, ऑनर किलिंग पर बोला SC- यह सही समय है ◾त्रिपुरा नगर निकाय चुनाव में BJP का दमदार प्रदर्शन, TMC और CPI का नहीं खुला खाता ◾केन्द्र सरकार की नीतियों से राज्यों का वित्तीय प्रबंधन गड़बढ़ा रहा है, महंगाई बढ़ी है : अशोक गहलोत◾NFHS के सर्वे से खुलासा, 30 फीसदी से अधिक महिलाओं ने पति के हाथों पत्नी की पिटाई को उचित ठहराया◾कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रॉन को लेकर सरकार सख्त, केंद्र ने लिखा राज्यों को पत्र, जानें क्या है नई सावधानियां ◾AIIMS चीफ गुलेरिया बोले- 'ओमिक्रोन' के स्पाइक प्रोटीन में अधिक परिवर्तन, वैक्सीन की प्रभावशीलता हो सकती है कम◾मन की बात में बोले मोदी -मेरे लिए प्रधानमंत्री पद सत्ता के लिए नहीं, सेवा के लिए है ◾केजरीवाल ने PM मोदी को लिखा पत्र, कोरोना के नए स्वरूप से प्रभावित देशों से उड़ानों पर रोक लगाने का किया आग्रह◾शीतकालीन सत्र को लेकर मायावती की केंद्र को नसीहत- सदन को विश्वास में लेकर काम करे सरकार तो बेहतर होगा ◾संजय सिंह ने सरकार पर लगाया बोलने नहीं देने का आरोप, सर्वदलीय बैठक से किया वॉकआउट◾TMC के दावे खोखले, चुनाव परिणामों ने बता दिया कि त्रिपुरा के लोगों को BJP पर भरोसा है: दिलीप घोष◾'मन की बात' में प्रधानमंत्री ने स्टार्टअप्स के महत्व पर दिया जोर, कहा- भारत की विकास गाथा के लिए है 'टर्निग पॉइंट' ◾शीतकालीन सत्र से पूर्व विपक्ष में आई दरार, कल होने वाली कांग्रेस नेता खड़गे की बैठक से TMC ने बनाई दूरियां ◾उद्धव ठाकरे की सरकार के दो साल के कार्यकाल में विपक्ष पूरी तरह से दिशाहीन रहा : संजय राउत◾कांग्रेस Vs कांग्रेस : अधीर रंजन चौधरी के वार पर मनीष तिवारी का पलटवार◾कल से शुरू हो रहा है संसद का शीतकालीन सत्र, पेश होंगे ये 30 विधेयक◾BJP प्रवक्ता ने फूलन देवी को कहा 'डकैत', अखिलेश ने बताया 'निषाद समाज' का अपमान ◾

वो बॉलीवुड एक्टर्स, जो इंडियन आर्मी बैकग्राउंड से फिल्मों में आए

बॉलीवुड में पिछले कुछ समय से नेपोटिज़्म को लेकर काफी हल्ला मचा हुआ है। हर ओर स्टारकिड्स और उनके प्रीविलेज की बात हो रही है। लेकिन स्टारकिड्स को विरासत में सिर्फ मौके मिल सकते हैं, टैलेंट नहीं। हिंदी फिल्म इंडस्ट्री में एक ऐसा लॉट है, जो इंडियन आर्मी बैकग्राउंड से आता है। इन्होंने एक्टिंग की कोई फॉर्मल एजुकेशन नहीं ली लेकिन फिलहाल देश के सबसे अच्छे कलाकारों में गिने जाते हैं।  बॉलीवुड के वो 8 एक्टर्स, जिनके परिवारवालों ने न सिर्फ भारतीय सेना में काम किया है बल्कि देश के लिए अपनी ने जान तक दे दी। 

1 अक्षय कुमार 

जैसे बहुत से लोग नहीं जानते कि अक्षय कुमार का असली नाम राजीव भाटिया है, वैसे ही आपको यह जानने में दिलचस्पी हो सकती है कि अक्षय एक आर्मी बैकग्राउंड से आते हैं। 


2 सुष्मिता सेन 

भारत की पहली मिस यूनिवर्स, सुष्मिता सेन ने अपनी स्कूली शिक्षा नई दिल्ली में वायु सेना स्वर्ण जयंती संस्थान से की।

3 प्रियंका चोपड़ा 

आर्मी करियर– प्रियंका के पापा अशोक और मां मधु, दोनों ही इंडियन आर्मी में फिज़िशियन थे। 2013 में कैंसर की वजह से अशोक चोपड़ा की डेथ हो गई।  प्रियंका अपनी मां के साथ मिलकर अपना प्रोडक्शन हाउस पर्पल पेबल पिक्चर्स चलाती हैं। 

4 अनुष्का शर्मा 

अनुष्का के पिता का नाम अजय कुमार शर्मा है। अजय की पोस्टिंग जब अयोध्या में थी, तब अनुष्का पैदा हुई थीं। हालांकि उनकी स्कूल जाने की उम्र होते, तब पिता का ट्रांसफर बैंगलोर हो गया। यहीं से अनुष्का की ग्रैजुएशन तक की पढ़ाई-लिखाई हुई। अजय, कर्नल के पोस्ट पर थे, जब वो इंडियन आर्मी से रिटायर हुए। 

5 प्रीति ज़िंटा

प्रीति ज़िंटा के पिता एक आर्मी ऑफिसर थे। जब प्रीति 13 साल की थीं, तब एक भयानक कार एक्सीडेंट में उनके पिता की मौत हो गई। 

6 लारा दत्ता 

लारा दत्ता के पिता एल.के दत्ता इंडियन एयर फोर्स से रिटायर्ड विंग कमांडर दत्ता के अलावा उनकी बेटियां भी भारतीय एयर फोर्स का हिस्सा रह चुकी हैं। 

7 निमरत कौर

एक्ट्रेस के पिता मेजर भूपिंदर सिंह आर्मी में इंजीनियर थे। 1994 में उनकी पोस्टिंग पटियाला से कश्मीर हो गई। बकौल निमरत हिज्ब-उल-मुजाहिदीन के कुछ आतंकवादियों ने उन्हें किडनैप कर दूसरे आतंकियों को छुड़ाने की मांग की। मांगें पूरी नहीं की जाने पर उन्होंने भूपिंदर सिंह को जान से मार दिया।