90 के दशक की जानी मानी Actress प्रतिभा सिंहा ने अपने कैरियर से भी ज्यादा अपने लव अफेयर को लेकर चर्चा में रहीं हैं। प्रतिभा ने अपने फिल्मी कैरियर की शुरूआत सन 1992 में आई फिल्म मेहबूब मेरे मेहबूब से की थी। प्रमिभा ने 1996 में आई आमिर खान की सुपरहिट फिल्म राजा हिंदुस्तानी में भी काम किया है।

प्रतिभा की मां माला सिन्हा उनके और नदीम के रिश्ते के सख्त खिलाफ थीं

इस फिल्म के फेमस गाने परदेसी-परदेसी में Actress प्रमिभा और आमिर खान की जोड़ी देखने को मिली। उसके बाद वह कामयाब सिंगर नदीम सैफी जिन पर गुलशन कुमार की हत्या का आरोप है उनको प्रतिभा अपना दिल दे बैठी थीं।

जबकि नदीम पहले से ही शादीशुदा थे लेकिन उसके बाद भी प्रतिभा नदीम के प्यार में बहुत पागल थी। लेकिन प्रतिभा की मां माला सिंहा नदीम और प्रतिभा के रिश्ते होने से इंकार करती रही। वहीं नदीम और प्रतिभा एक दूसरे से इशारो में बात किया करते थे ताकि इन दोनों के रिश्ते के बारे में किसी को कानो कान खबर न हो। जब मीडिया में इन दोनों के रिश्ते की अफवाह उडऩी शुरू हुई तो प्रतिभा ने सबके समाने नदीम के साथ अपने अफेयर की सारी बातें कबूल कर ली।

प्रतिभा की मां इन दोनों के रिश्ते के सख्त खिलाफ थी और वह बिल्कुल नहीं चाहती थी कि इन दोनों को रिलेशन आगे चले । ऐसे में फिर प्रतिभा की मां ने इनके रिलेशन को खत्म करने के लिए अपनी बेटी को चेन्नई भेज दिया था।

लेकिन बावजूद चेन्नई जाने के बाद भी उन्होंने एक इंटरव्यू के दौरान यह बोल का सबको चौंकाने वाली बात का खुलसा किया और बोला की में जल्द ही नदीम से  शादी कर लूंगी । उसके बात यहां तक पहुंची की माला सिंहा ने नदीम केघर फोन किया और बहुत गाली-गलौच की लेकिन उसके बाद भी प्रतिभा ने अपनी मां की तरफ से नदीम से माफी मांगी थी।

 नदीम ने इंटरव्यू में कहा था कि……

मां और बेटी मिलकर मेरे साथ गेम खेल रही हैं। वो मेरे नाम का इस्तेमाल कर ज्यादा से ज्यादा पब्लिसिटी पाना चाहती हैं।

नदीम ने यह भी कहा था कि वो सिर्फ Actress प्रतिभा सिन्हा की मदद करना चाहते थे, क्योंकि प्रतिभा एक टैलेंटेड एक्ट्रैस हैं और इसीलिए वो उनके करीब थे। मेरे और प्रतिभा के बीच अब कुछ नहीं है। मैं अपनी पत्नी के साथ खुश हूं। वह मेरी जिंदगी का एक बुरा दौर था, जो अब गुजर चुका है।

Actress  प्रतिभा सिन्हा का जन्म पश्चिम बंगाल के शहर कोलकाता में 4 जुलाई 1969 में हुआ था। बात अगर करियर की करें तो इन्होने अपने फ़िल्मी करियर की शुरुआत साल 1992 में आई फिल्म “महबूब मेरे महबूब मेरे” से की प्रतिभा ने ज्यादा फिल्मों में काम नहीं किया। उनकी आखिरी फिल्म साल 2000 की “ले चले अपने संग” थी।

 इस फिल्म के बाद उन्होने फ़िल्मी इंडस्ट्री को हमेशा के लिए अलविदा कह दिया और मीडिया से दूरी बना ली। लेकिन आज के समय की बात करें तो प्रतिभा का लुक एकदम बदल चूका है। आज हम आपको इनकी कुछ लेटेस्ट तसवीरें दिखाने जा रहे हैं, जिन्हें देख कर आपको भी यकीन नहीं होगा कि ये वही प्रतिभा सिन्हा है।