BREAKING NEWS

Maharashtra Politics: मुख्यमंत्री शिंदे के साथ शिवसेना के बागी विधायक गोवा से मुंबई के लिए रवाना◾ बडा़ खुलासा : कन्हैया का सर कलम करने वाले मौहम्मद रियाज ने की थी बीजेपी दफ्तर की रेकी, गौस ने पाक में ली आतंकी ट्रेनिंग ◾ IPS Transfer list: यूपी में 21 IPS अधिकारियों का हुआ ट्रांसफर, इन जिलों के SP बदले गए, देखें पूरी सूची◾आंख निकालने, सिर काटने की धमकी देने वाले जहरीले मौलाना को गिरफ्तारी के दो दिन बाद ही मिली जमानत ◾वकीलों ने की कन्हैया के कसाईयों की धुनाई, जबरदस्त पिटाई, वीडीयो सोशल मीडीया पर वायरल ◾भाजपा की राष्ट्रीय कार्यसमिति की बैठक शुरु, प्रधानमंत्री मोदी भी मौजूद◾ कन्हैयालाल के परिवार को एक करोड़ की आर्थिक सहायता देंगे भाजपा नेता कपिल मिश्रा◾ बिहार में नीतीश कुमार NDA के चेहरा थे, हैं और रहेंगे, JDU नेता उपेंद्र कुशवाहा का बड़ा बयान ◾ Nupur Sharma: सस्पेंड BJP नेता नूपुर के खिलाफ कोलकाता पुलिस ने जारी किया लुकआउट नोटिस, 10 FIR हैं दर्ज◾ presidential election : चुनाव दो विचारधाराओं की लड़ाई बन गया है: यशवंत सिन्हा◾KCR की बीजेपी को खुली चुनौती- मेरी सरकार गिराकर दिखाओ मैं केंद्र सरकार गिरा दूंगा ◾मोहम्मद जुबैर को लगा बड़ा झटका, जमानत याचिका खारिज, हिरासत में भेजा गया ◾कन्हैयालाल की हत्या का आरोपी BJP का सदस्य नहीं, बीजेपी अल्पसंख्यक मोर्चा ने सभी दावों का किया खंडन◾शिंदे को शिवसेना से निकालने पर भड़के बागी, कहा - हमारी भी एक सीमा ◾ Amravati Murder Case: अमरावती में हुई उदयपुर जैसी घटना, 54 साल के केमिस्ट की गला काटकर हत्या◾ Udaipur Murder Case: कांग्रेस का बड़ा दावा, कन्हैया हत्याकांड में आरोपी रियाज के BJP नेताओं से संबंध◾पाकिस्तानी सैन्य जनरलों को प्रोपर्टी डीलर बोलने वाले पत्रकार पर हमला ◾सीएम रह चुके फडणवीस कैसे डिप्टी सीएम बनने के लिए हो गए राजी ! भाजपा ने कैसे मनाया ◾महाराष्ट्र : विधानसभा अध्यक्ष पद के लिए MVA ने राजन साल्वी को बनाया उम्मीदवार, कल होगा चुनाव◾वायनाड में बोले राहुल- मनरेगा की गहराई को नहीं समझ पाए प्रधानमंत्री मोदी◾

बॉलीवुड ने जगाया लोगो में देशभक्ति का जूनून, ये 5 पेट्रियोटिक फिल्में नहीं देखी तो क्या खाक मनाया रिपब्लिक डे का जश्न!

वैसे तो बॉलीवुड में हर साल सैकड़ों अलग-अलग तरह की फिल्‍में बनाई जाती हैं। जिनमें ज़्यादातर कॉमेडी, रोमांस, ड्रामा, ऐक्‍शन और थ्रिलर फिल्‍में होती हैं। लेकिन इन सब के बीच भारत जैसे देश में जहां देशप्रेम और देशभक्ति जैसे शब्‍द बेहद आम होते हैं और हर नागरिक देशभक्‍त होना पसंद करता है। वहां देशभक्ति पर बनी फिल्‍में भी कॉफी पसंद की जाती हैं और अच्‍छा बिज़नेस भी करती हैं। ऐसे में रिपब्लिक डे के मौके पर आज हम आपको ऐसी 5 देशप्रेम और देशभक्ति से भरी की फिल्मों के बारे में बताने जा रहे है जो आपको भी एक भारतीय होने पर गर्व महसूस करा देगी।

शेरशाह 

इस फिल्म में कैप्टन विक्रम बत्रा की वीरता की कहानी बयां की गई है। शेरशाह बाकी फिल्मों से अलग है क्योंकि यह पूरी तरह एक शहीद की असली बहादुरी पर केंद्रित है। फिल्म शेरशाह खास तौर पर दिखाती है कि हमारी सेना के जांबाजों ने कैसे 16 हजार से 18 हजार फीट ऊंची ठंडी-बर्फीली चोटियों पर चढ़ते-बढ़ते हुए दुश्मन पाकिस्तानी फौज को हार का मज़ा चखा दिया था। वह कैप्टन विक्रम बत्रा और उनके जैसे बहादुर ही थे, जिनकी बदौलत देश ने हमारी सीमा में घुसी पाकिस्तानी सेना को ठिकाने लगाया। पाकिस्तान का झूठा एहंकार ऐसा था कि उसने युद्ध छेड़ने के आरोप से इंकार करते हुए अपने सैनिकों की लाशें स्वीकारने तक से इंकार कर दिया था। तब हमारी सेना ने पूरे सम्मान के साथ उन्हीं चोटियों पर दुश्मन सिपाहियों को दफन किया। फिल्म में यह बात बताई गई है, जो निश्चित ही पाकिस्तान को आईना दिखाएगी। 

सरदार उधम

अमेजन प्राइम पर रिलीज हुई यह फिल्म तथ्यों के साथ सरदार उधम की जिंदगी की कहानी बताती है। जो निश्चित ही जानने और देखने लायक है। भारत के स्वतंत्रता आंदोलन के कई शहीदों को अभी न्याय और सम्मान मिलना बाकी है। वह जो इतिहास के पन्नों में कुछ पंक्तियों में सिमट गए। इस फिल्म में दिखाया गया है कि सरदार उधम सिंह ने कैसे अपने देश के लिए अपनी परवाह न करते हुए आज़ादी का जज़्बा दिखाया है। 

रंग दे बसंती 

राकेश ओमप्रकाश मेहरा द्वारा निर्देशित इस फिल्म में पांच लड़कों की कहानी बताई गई है, जो अपनी ही सरकार के भ्रष्टाचार के खिलाफ लड़ते हैं। फिल्म 'रंग दे बसंती' में आमिर खान, सिद्धार्थ, कुणाल कपूर, शरमन जोशी, अतुल कुलकर्णी और आर माधवन मुख्य भूमिका में नजर आये थे।

लगान 

आशुतोष गोवारिकर के निर्देशन में बनी लगान एक काल्पनिक फिल्म है। इस फिल्म में दिखाया जाता है कि कैसे भुवन नाम का एक किसान ब्रिटिश राज के दौरान कप्तान एंड्रयू रसेल की चुनौती को स्वीकार करता है और खुद को ब्रिटिश कर से मुक्त कराते हैं।

राज़ी

यह फिल्म हरिंदर सिक्का के 2008 में लिखे उपन्यास का एक नाट्य रूपांतरण है, जो एक भारतीय अनुसंधान और विश्लेषण विंग (रॉ) एजेंट की एक सच्ची कहानी बतलाती है, जो 1971 के भारत-पाकिस्तान युद्ध के समय अपने पिता के फैसले पर, पाकिस्तान में सैन्य अधिकारियों के परिवार में शादी कर लेती है, ताकि भारत को खुफिया जानकारी मिल सके। इस फिल्म के गाने से लेकर डॉयलोग तक सब आपके मन में देशभक्ति का जज़्बा एक बार फिर से जगा देंगे।