फिल्म ‘उरी’ में हमारी भारतीय सेना के उसी शौर्य की गाथा को दिखाने की कोशिश की गई है। फिल्म ‘उरी’ भारतीय सेना पर हुए आतंकी हमले और हमारी सेना द्वारा लिए गए इसके बदले की कहानी पर आधारित है।

फिल्म 'उरी'

18 सिंतबर 2016 को जम्मू कश्मीर के बारामूला के उरी सेना कैंप पर हमला हुआ। इस आतंकी हमले को सबसे कायराना आतंकी हमलों में गिना गया क्योंकि ये हमला कैंप में चैन की नींद में सो रहे सेना के जवानों पर हुआ था।

फिल्म 'उरी'

भारतीय सेना के 19 जवानों को सोते हुए जिंदा जला दिया गया था। इसी का बदला भारतीय सेना ने 28 और 29 सिंतबर को पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में सर्जिकल स्ट्राइक के जरिए लिया और फिल्म ‘उरी’ सेना के इसी मिशन पर आधारित है।

फिल्म 'उरी'

फिल्म ‘उरी’ में विकी कौशल और मोहित रैना ने अपनी परफॉर्मेंस से दिल जीत लिया है। निर्देशक आदित्य धार ने कहीं भी फिल्म को ओवर ड्रैमेटिक या यूं कहें कि जबरन किसी को महान या किसी को नीचा दिखाने की कोशिश नहीं की है।

फिल्म 'उरी'

फिल्म में अभिनय और निर्देशन दोनों ही लिहाज से बेहतरीन काम किया गया है। फिल्म ‘उरी’ में एक्टर रजित कपूर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के किरदार में नजर आ रहे हैं।

फिल्म 'उरी'

इसके साथ परेश रावल सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल का रोल प्ले करते नज़र आ रहे हैं. फिल्म की कहानी विक्की कौशल और मोहित रैना के एक मिशन से शुरू होती है। जिसमें वो साल 2015 में मणिपुर में सेना के काफिले पर हुए हमले का बदला लेते हुए नजर आते हैं।

फिल्म 'उरी'

इस हमले में सेना के कई जवान शहीद हो गए थे। इस आतंकी हमले के बाद सेना की एक खास टीम ने इस हमले का जवाब देते हुए वहां के कई आतंकी कैंपों को नष्ट कर दिया था।

फिल्म 'उरी'

इसके बाद साल जनवरी 2016 में हुए गुरदासपुर अटैक को भी फिल्म ‘उरी’ में जगह दी गयी हैं। फिल्म को रिव्यु के हिसाब से क्रिट्रिक्स ने 5 में 2.5 स्टार दिए है और ये फिल्म एक बार देखने लायक बनती है।

द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर देखकर अनुपम खेर की माँ ने कहा मनमोहन सिंह शरीफ था पर ..