BREAKING NEWS

त्रिपुरा के लोगों ने स्पष्ट संदेश दिया है कि वे सुशासन की राजनीति को तरजीह देते हैं : PM मोदी◾कांग्रेस ने हमेशा लोगों के मुद्दों की लड़ाई लड़ी, BJP ब्रिटिश शासकों की तरह जनता को बांट रही है: भूपेश बघेल ◾आजादी के 75 वर्ष बाद भी खत्म नहीं हुआ जातिवाद, ऑनर किलिंग पर बोला SC- यह सही समय है ◾त्रिपुरा नगर निकाय चुनाव में BJP का दमदार प्रदर्शन, TMC और CPI का नहीं खुला खाता ◾केन्द्र सरकार की नीतियों से राज्यों का वित्तीय प्रबंधन गड़बढ़ा रहा है, महंगाई बढ़ी है : अशोक गहलोत◾NFHS के सर्वे से खुलासा, 30 फीसदी से अधिक महिलाओं ने पति के हाथों पत्नी की पिटाई को उचित ठहराया◾कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रॉन को लेकर सरकार सख्त, केंद्र ने लिखा राज्यों को पत्र, जानें क्या है नई सावधानियां ◾AIIMS चीफ गुलेरिया बोले- 'ओमिक्रोन' के स्पाइक प्रोटीन में अधिक परिवर्तन, वैक्सीन की प्रभावशीलता हो सकती है कम◾मन की बात में बोले मोदी -मेरे लिए प्रधानमंत्री पद सत्ता के लिए नहीं, सेवा के लिए है ◾केजरीवाल ने PM मोदी को लिखा पत्र, कोरोना के नए स्वरूप से प्रभावित देशों से उड़ानों पर रोक लगाने का किया आग्रह◾शीतकालीन सत्र को लेकर मायावती की केंद्र को नसीहत- सदन को विश्वास में लेकर काम करे सरकार तो बेहतर होगा ◾संजय सिंह ने सरकार पर लगाया बोलने नहीं देने का आरोप, सर्वदलीय बैठक से किया वॉकआउट◾TMC के दावे खोखले, चुनाव परिणामों ने बता दिया कि त्रिपुरा के लोगों को BJP पर भरोसा है: दिलीप घोष◾'मन की बात' में प्रधानमंत्री ने स्टार्टअप्स के महत्व पर दिया जोर, कहा- भारत की विकास गाथा के लिए है 'टर्निग पॉइंट' ◾शीतकालीन सत्र से पूर्व विपक्ष में आई दरार, कल होने वाली कांग्रेस नेता खड़गे की बैठक से TMC ने बनाई दूरियां ◾उद्धव ठाकरे की सरकार के दो साल के कार्यकाल में विपक्ष पूरी तरह से दिशाहीन रहा : संजय राउत◾कांग्रेस Vs कांग्रेस : अधीर रंजन चौधरी के वार पर मनीष तिवारी का पलटवार◾कल से शुरू हो रहा है संसद का शीतकालीन सत्र, पेश होंगे ये 30 विधेयक◾BJP प्रवक्ता ने फूलन देवी को कहा 'डकैत', अखिलेश ने बताया 'निषाद समाज' का अपमान ◾तमिलनाडु बारिश : चेन्नई के कई इलाकों में जलभराव, IMD ने तटीय जिलों के लिए जारी किया रेड अलर्ट ◾

स्‍वरा भास्‍कर के खिलाफ शिकायत दर्ज, बुजुर्ग से मारपीट केस में भड़काऊ ट्वीट का लगा आरोप

बॉलीवुड अभिनेत्री स्वरा भास्कर अपनी फिल्मों से ज्यादा सामाजिक मुद्दों की वजह से चर्चा का विषय बनी रहती हैं। अक्सर विवादों के कटघरे में रहने वाली स्वरा भास्कर नाम नई कॉन्ट्रोवर्सी से जुड़ गया है। दरअसल, इंटरनेट पर एक वायरल वीडियो अपलोड करने की वजह से उनके खिलाफ शिकायत दर्ज की गई है। इस रिपोर्ट में स्वरा सहित कुछ और लोगों के भी नाम हैं।

जारी की गयी रिपोर्ट्स के मुताबिक यह शिकायत एडवोकेट अमृता आचार्या ने दर्ज करवाई है। उनका कहना है कि उनके ट्विटर हैंडल से नागरिकों के बीच नफरत फैलाने के लिए प्रोपागैंडा शुरू किया गया। इस बात को जानते हुए भी कि उनके ट्वीट्स से समाज पर असर पड़ेगा उन्होंने बिना फैक्ट चेक किए घटना को साम्प्रदायिक रंग देने की कोशिश की। उनके ट्वीट्स धार्मिक संगठनों की शांति और एकता भंग करने के उद्देश्य से पूरे सोशल मीडिया पर घूमते रहे।

इस वीडियो को सोशल मीडिया पर पोस्ट करने के बाद स्वरा सोशल मीडिया पर काफी बुरी तरह ट्रोल हुई। वीडियो के बाद भी स्वरा ने कुछ ट्वीट्स किए थे। इसके बाद सोशल मीडिया पर स्वरा की गिरफ्तारी की मांग उठने लगी। इस बीच फिल्ममेकर अशोक पंडित ने भी स्वरा के खिलाफ ट्वीट किया था। जिसमें उन्होंने लिखा अर्बन नक्सल स्वरा भास्कर के खिलाफ भी एफआईआर होनी चाहिए। ये झूठ बोलती हैं और झूठ फैलाने में भी माहिर हैं।

इस वीडियो का स्वरा भास्कर ने एक क्लिप पोस्ट किया। जिसमें देखा जा सकता है  कि एक बुजुर्ग की दाढ़ी काटकर उन्हें 'जय श्रीराम' बोलने पर मजबूर किया गया। यह घटना गाजियाबाद की बताई जा रही थी। रिपोर्ट्स के मुताबिक, बुजुर्ग और मारपीट करने वाले लोगों के बीच जान-पहचान थी और वे एक ही समुदाय के थे। पुलिस ने इस मामले में 3 लोगों को हिरासत में ले लिया है।