BREAKING NEWS

गोवा चुनाव 2022: BJP ने जारी की उम्मीदवारों की दूसरी सूची, जानें किसे कहा से मिला टिकट◾बिहार: गया में नाराज छात्रों ने ट्रेन की बोगी में लगाई आग, श्रमजीवी एक्सप्रेस पर किया पथराव◾गणतंत्र दिवस 2022: अग्रिम मोर्चे के कर्मी, मजदूर और ऑटो ड्राइवर बने स्पेशल गेस्ट, मिला बड़ा सम्मान◾गणतंत्र दिवस परेड: राजपथ पर 75 विमानों का शानदार फ्लाईपास्ट, वायुसेना की शक्ति देख दर्शक हुए दंग ◾गणतंत्र दिवस 2022: परेड में वायुसेना की झांकी का हिस्सा बनीं देश की पहली महिला राफेल विमान पायलट◾गणतंत्र दिवस 2022: परेड में होवित्जर तोप से लेकर वॉरफेयर की दिखी झलक, राजपथ बना शक्तिपथ◾गणतंत्र दिवस समारोह: PM मोदी उत्तराखंड की टोपी और मणिपुरी स्टोल में आए नजर, दिया ये संकेत◾यूपी: रायबरेली में जहरीली शराब पीने से चार की मौत, 6 लोगों की हालत नाजुक◾RPN सिंह के भाजपा में शामिल होने पर शशि थरूर का कटाक्ष, बोले- छोड़कर जा रहे हैं घर अपना, उधर भी सब अपने हैं◾दिल्ली में ठंड का कहर जारी, फिलहाल बारिश होने के आसार नहीं: आईएमडी◾RRB-NTPC Exam: परीक्षार्थियों के विरोध प्रदर्शन के बाद रेलवे ने भर्ती परीक्षा पर लगाई रोक, जांच के लिए बनाई समिति◾विधानसभा चुनाव तक चलेगी हिंदू-मुसलमानको लेकर तीखी बयानबाजी: राकेश टिकैत◾World Corona: दुनियाभर में जारी है कोरोना का कोहराम, संक्रमित मरीजों का आंकड़ा पहुंचा 35.79 करोड़ के पार◾Corona Update: देश में तीसरी लहर का सितम जारी, संक्रमण के 2 लाख 85 हजार से अधिक नए केस, 665 लोगों की मौत ◾दिल्ली: गणतंत्र दिवस समारोह के मद्देनजर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम, 27,000 से अधिक पुलिसकर्मी तैनात◾गणतंत्र दिवस पर पीएम मोदी समेत कई नेताओं ने दी देशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं◾PM मोदी असली नायकों का सम्मान करने के लिए प्रतिबद्ध : केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने पद्म पुरस्कार पर कहा ◾बुद्धदेव को पद्म पुरस्कार देने की घोषणा से पहले उनकी पत्नी को इसके बारे में सूचित किया गया था : सूत्र ◾प्रधानमंत्री ने पद्म पुरस्कार विजेताओं को दी बधाई ◾गणतंत्र दिवस : 189 वीरता पदक सहित 939 पुलिस पदक दिये जाने की घोषणा ◾

'भीख' कमेंट विवाद पर कंगना रनौत ने तोड़ी चुप्पी, गलत साबित कर दे तो लौटा दूंगी पद्मश्री सम्मान

कंगना रनौत और विवाद का रिश्ता बहुत गहरा है। ऐसा लगता है दोनों एक दूसरे के पूरक हैं। कंगना ने हाल ही में आजादी पर एक विवादित बयान देकर सबको चौका दिया था। उनके बयान के बाद पॉलिटिकल पार्टीज के साथ-साथ सोशल मीडिया पर कई लोग भी उनके पीछे पड़ गए हैं। उन्होंने इंस्टाग्राम पर स्टोरी लगा अपने बयान पर सफाई दी है। 

उनके इस बयान पर हर तरफ आलोचना हो रही है। कई जगह तो उन पर एफआईआर भी कर दिया गया है। कई पॉलिटिकल पार्टीज का कहना है कि उनपर देशद्रोह का मुकदमा चलाया जाए। लगातार हो रहे विवाद के बीच कंगना ने लंबी इंस्टाग्राम स्टोरी लगा कर अपने बयान को सही बताया है। उन्होंने लिखा है कि वह अपना पद्मश्री सम्मान वापस कर देंगी अगर कोई उन्हें ये बताएगा कि 1947 में क्या हुआ था। 

कंगना ने अपने आधिकारिक इंस्टाग्राम अकाउंट पर कहा कि अगर कोई साबित कर सकता है कि उसने स्वतंत्रता सेनानियों का अपमान किया है तो वह अपना पद्म श्री वापस करने के लिए तैयार हैं। "सब कुछ स्पष्ट रूप से उसी साक्षात्कार 1857 में स्वतंत्रता के लिए पहली सामूहिक लड़ाई ... सुभाष चंद्र बोस, रानी लक्ष्मीबाई और वीर सावरकर जी जैसे महान लोगों के बलिदान के साथ उल्लेख किया गया है। 1857 मुझे पता है, लेकिन 1947 में कौन सा युद्ध हुआ था, मुझे पता नहीं है, अगर कोई मेरी जागरूकता ला सकता है तो मैं अपना पद्म श्री वापस कर दूंगा और माफी भी मांगूंगा … 

कंगना ने आगे लिखा है कि मैंने रानी लक्ष्मीबाई पर बनी फिल्म में काम किया है। 1857 की क्रांति पर काफी रिसर्च किया है। राष्ट्रवाद के साथ दक्षिणपंथ का भी उभार हुआ लेकिन अचानक से ये गायब कैसे हो गया? और गांधी ने भगत सिंह को क्यों मरने दिया.. आखिर क्यों नेता बोस की हत्या हुई और उन्हें गांधी जी सपोर्ट क्यों नहीं मिला। क्यों बंटवारे की रेखा अंग्रेज द्वारा खींची गई आजादी की खुशियां मनाने के बजाय भारतीय एक दूसरे को मार रहे थे। मुझे इन सभी सवालों के जवाब चाहिए जिसके लिए मुझे मदद की जरूरत है। 

कंगना ने लंबा चौड़ा पोस्ट किया है और भी कई सारी बातें लिखीं हैं। कंगना रनौत को पद्म श्री से सम्मानित किए जाने के कुछ ही दिनों बाद, अभिनेता खुद को एक नए संकट में डाल दिया। इसके बाद से सभी पोलिटिकल पार्टीज कंगना के पीछे लगे हुए हैं। कांग्रेस आम आदमी पार्टी और शिवसेना जैसी पार्टियां उन पर देशद्रोह का मामला दर्ज कराए जाने की मांग कर रही हैं।