बॉलीवुड की मशहूर आदाकर करिश्मा कपूर वैसे तो फिल्म इंडस्ट्री से अभी कुछ समय से दूर हैं एक समय था जब उन्हें बॅालीवुड की क्वीन कहा जाता था। फिल्म इंडस्ट्री में करिश्मा ने एक से एक हिट फिल्मों में कम किया था। लेकिन वह इन दिनों अपनी दूसरी शादी को लेकर काफी चर्चा का विषय बनी हुर्ई है ।

करिश्मा और संदीप बहुत समय से एक -दूसरे को डेट कर रहे हैं। लेकिन अब वह समय आ ही गया है कि करिश्मा अपने ब्वॉयफे्रंड संदीप तोशनीवाल से शादी करना चाहती हैं। लेकिन अभी तक उनकी पहली पत्नी से तलाक नहीं हुआ है । इस कारण करिश्मा और संदीप की शादी नहीं हो पा रही है ।

90 के दशक में करिश्मा का टॉप हीरोइनों में नाम शुमार था

करिश्मा शायद आज सिल्वर स्क्रीन दूर हो लेकिन एक समय था जब 90 के दशक में करिश्मा का टॉप हीरोइनों में नाम हुआ करता था। करिश्मा ने जब फिल्मों में एंट्री की थी तब उनकी उम्र सिर्फ 15 साल थी। 1991 में उनकी पहली फिल्म प्रेम कैदी रिलीज हुई थी। इस फिल्म में उन्होंने साउथ के हीरो हरीश कुमार के साथ काम किया था।

इस फिल्म में करिश्मा हीरोइन तो बनी लेकिन ये फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कुछ चली नहीं। मीडिया रिपोटर्स के अनुसार फिल्म में करश्मिा का ड्रेसिंग स्टायल और मेकअप दोनों ही खराब थे। करिश्मा की पहली फिल्म का दौर बहुत खराब था। कुछ सालों बाद करिश्मा ‘पुलिस ऑफिस’, ‘जागृति’ और ‘सपने साजन के’ जैसी फिल्में की।

जो बुरी तरह फ्लॉप हुई। यहीं से ही करिश्मा का कैरियर चलने से पहले ही कुछ थम सा गया था। तब करिश्मा रात-रात भर रोया करती थी। करिश्मा की मां बबिता की भी आंख भर आई जब वह उन्हें चुप कराने गई। करीना तब बहुत छोटी थी लेकिन वह भी अपनी बहन को हिम्मत देती थी । घर में कोर्ई भी सदस्य खाना नहीं खाता था । करिश्मा का फ्लॉप कैरियर देखकर धर्में ने उन्हें फिल्म में भी नहीं लिया।

साल 1994 में फिल्म राजा बाबू आई । तब से दर्शको ने करिश्मा को नोटिस करना शुरू किया । उसके बाद 1996 में फिल्म राज हिंदुस्तानी ने उनकी किस्मत का चमका डाला ।

उसके बाद करिश्मा की जिंदगी में खुशियां आई लेकिन वह अपनी जिंदगी की उन काली रातों को कभी नहीं भूल पाएंगी। करिश्मा ने अपनी मंजिल को पाने के लिए काड़ी मेहनत की है।