BREAKING NEWS

1 दिसंबर को सिंघु बॉर्डर पर किसान संगठनों की बैठक, क्या आंदोलन खत्म करने पर होगी चर्चा ?◾कोविड अनुकंपा राशि के कम दावों पर SC ने जताई चिंता, कहा- मुआवजे के लिए प्रक्रिया को सरल बनाया जाए◾जिनके घर शीशे के होते हैं, वो दूसरों पर पत्थर नहीं फेंका करते.....सिद्धू का केजरीवाल पर तंज ◾उमर अब्दुल्ला ने कांग्रेस की चुप्पी पर उठाए सवाल, बोले- अनुच्छेद 370 की बहाली के लिए NC अपने दम पर लड़ेगी◾चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने कहा- भविष्य में युद्ध जीतने के लिए नई प्रतिभाओं की भर्ती की जरूरत◾शशि थरूर की महिला सांसदों सग सेल्फी हुई वायरल, कैप्शन लिखा- कौन कहता है लोकसभा आकर्षक जगह नहीं?◾ओवैसी बोले- CAA को भी रद्द करे मोदी सरकार..पलटवार करते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा- इनको कोई गंभीरता से नहीं लेता◾ 'ओमीक्रोन' के बढ़ते खतरे के चलते जापान ने विदेशी यात्रियों के प्रवेश पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की◾IND VS NZ के बीच पहला टेस्ट मैच हुआ ड्रा, आखिरी विकेट नहीं ले पाई टीम इंडिया ◾विपक्ष को दिया बड़ा झटका, एक साथ किया इतने सारे सांसदों को राज्यसभा से निलंबित◾तीन कृषि कानून: सदन में बिल पास कराने से लेकर वापसी तक, जानिये कैसा रहा सरकार और किसानों का गतिरोध◾कृषि कानूनों की वापसी पर राहुल का केंद्र पर हमला, बोले- चर्चा से डरती है सरकार, जानती है कि उनसे गलती हुई ◾नरेंद्र तोमर ने कांग्रेस पर लगाया दोहरा रुख अपनाने का आरोप, कहा- किसानों की भलाई के लिए थे कृषि कानून ◾ तेलंगाना में कोविड़-19 ने फिर दी दस्तक, एक स्कूल में 42 छात्राएं और एक शिक्षक पाए गए कोरोना संक्रमित ◾शीतकालीन सत्र में सरकार के पास बिटक्वाइन को करेंसी के रूप में मान्यता देने का कोई प्रस्ताव नहीं: निर्मला सीतारमण◾विपक्ष के हंगामे के बीच केंद्र सरकार ने राज्यसभा से भी पारित करवाया कृषि विधि निरसन विधेयक ◾कृषि कानूनों की वापसी का बिल लोकसभा में हुआ पारित, टिकैत बोले- यह तो होना ही था... आंदोलन रहेगा जारी ◾बिना चर्चा कृषि कानून बिल वापसी को विपक्ष ने बताया लोकतंत्र के लिए काला दिन, मिला ये जवाब ◾प्रदूषण के मद्दे पर SC ने अपनाया सख्त रुख, कहा- राज्य दिशानिर्देश नहीं मानेंगे, तो हम करेंगे टास्क फोर्स का गठन ◾कांग्रेस का केंद्र पर निशाना -बिल वापसी नहीं हुई चर्चा क्योंकि सरकार को हिसाब और जवाब देना पड़ता◾

National Handloom Day के मौके पर फिल्म इंडस्ट्री की इन अभिनेत्रियों ने साड़ी में साझा की अपनी खूबसूरत तस्वीरें

राष्ट्रीय हैंडलूम दिवस 7 अगस्त को मनाया जाता है और आज यानी 7 अगस्त को इसका छठा दिवस मना रहे हैं। इस अवसर पर फैशन इंडस्ट्री ने भारतीय हैंडलूम समुदाय को अपना समर्थन दिया है। हैंडलूम का बहुत योगदान कपड़ा इंडस्ट्री में होता है। इंडस्ट्री की बुनियाद मजबूत कर सकते हैं इनमें काम कर रहे कामगारों और बुनकरों को सपोर्ट करके। बॉलीवुड कलाकारों से बेहतर इस संदेश को प्रसारित करने का काम कौन कर सकता है। 

ट्विटर पर प्रियंका चोपड़ा ने ट्वीट करते हुए लिखा, भारतीय हैंडलूम अनोखे काम और कलाकारी के लिए जाने जाते हैं। आइए, बुनकरों और इस क्षेत्र के कलाकारों की मदद के लिए हाथ बढ़ाएं। इसके अलावा प्रियंका ने अपनी साड़ी पहने एक तस्वीर भी साझा की। 

इस मौके पर एक्ट्रेस विद्या बालन ने भी ट्वीट करते हुए लिखा, राष्ट्रीय हैंडलूम दिवस पर मुश्किल वक्त में आइए देशभर में अपने बुनकरों को सपोर्ट करने की प्रतिज्ञा लें। रोज़मर्रा की ज़िंदगी में इस्तेमाल होने वाली इनकी पोशाकें ख़रीद सकते हैं। इससे भारतीय हैंडलूम की विरासत को भी सहजकर रखा जा सकेगा। मेहनत को सलाम।

सोशल मीडिया पर चरखा कातते हुए एक्ट्रेस कंगना रनौत ने भी अपनी तस्वीर सोशल मीडिया पर साझा की। कंगना ने पोस्ट में लिखा, हममें से अधिकांश के पास उससे अधिक है, जितना हमें चाहिए। फैशन इंडस्ट्री हमारे पर्यावरण को बिगाड़ने वाली इंडस्ट्री में शामिल हो गयी है। नये संकल्पों के लिए नई चुनौतियों का सामना करना होगा। आइए, अपने भारतीय ऑर्गेनिक फैब्रिक इंडस्ट्री को प्रमोट करें और ग्रह की रक्षा करें।

हालांकि कंगना ने अपनी दूसरी पोस्ट में लिखा, जब हम हैंडलूम चुनते हैं, हम एक गरीब बुनकर को गरीबी और दरिद्रता से बाहर निकालते हैं। हम लोकल के लिए वोकल होते हैं। हम अपनी धरती मां को चुनते हैं। हम इस ग्रह पर हर प्राणी के लिए अपना प्यार जाहिर करते हैं।

राष्ट्रिय हैंडलूम दिवस पर हैंडलूम की साड़ी पहनकर एक्ट्रेस जाह्नवी कपूर ने भी अपना सपोर्ट दिया। जाह्नवी ने इंस्टाग्राम पर पोस्ट करते हुए लिखा,  हमारे देश के बुनकर और कलाकार अपनी मेधा में किसी से कम नहीं हैं।

इस अवसर पर दिग्गज अभिनेत्री नीना गुप्ता ने भी अपनी साड़ी पहने तस्वीर साझा की और राष्ट्रिय हैंडलूम दिवस मनाया। 

राष्ट्रिय हैंडलूम दिवस पर केंद्रीय टेक्सटाइल मंत्री स्मृति ईरानी ने भी खास संदेश देते हुए पोस्ट किया। उन्होंने लिखा, हैंडलूम कई मायनों में हमारे जीवन स्तर और वातावरण को सुधार सकता है। कपड़ों से लेकर कोविड के दौरान मास्क। भारत में बनी हुई चीज़ों को घर लाइए।