BREAKING NEWS

कोरोना को लेकर विशेषज्ञों का दावा - अन्य बीमारियों से ग्रसित मरीजों में संक्रमण फैलने का खतरा ज्यादा◾जम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी सफलता, शोपियां से गिरफ्तार हुआ लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू◾महाराष्ट्र: ओमीक्रॉन मामलों और संक्रमण दर में आई कमी, सरकार ने 24 जनवरी से स्कूल खोलने का किया ऐलान ◾पंजाब: धुरी से चुनावी रण में हुंकार भरेंगे AAP के CM उम्मीदवार भगवंत मान, राघव चड्ढा ने किया ऐलान ◾पाकिस्तान में लाहौर के अनारकली इलाके में बम ब्लॉस्ट , 3 की मौत, 20 से ज्यादा घायल◾UP चुनाव: निर्भया मामले की वकील सीमा कुशवाहा हुईं BSP में शामिल, जानिए क्यों दे रही मायावती का साथ? ◾यूपी चुनावः जेवर से SP-RLD गठबंधन प्रत्याशी भड़ाना ने चुनाव लड़ने से इनकार किया◾SP से परिवारवाद के खात्मे के लिए अखिलेश ने व्यक्त किया BJP का आभार, साथ ही की बड़ी चुनावी घोषणाएं ◾Goa elections: उत्पल पर्रिकर को केजरीवाल ने AAP में शामिल होकर चुनाव लड़ने का दिया ऑफर ◾BJP ने उत्तराखंड चुनाव के लिए 59 उम्मीदवारों के नामों पर लगाई मोहर, खटीमा से चुनाव लड़ेंगे CM धामी◾संगरूर जिले की धुरी सीट से भगवंत मान लड़ सकते हैं चुनाव, राघव चड्डा बोले आज हो जाएगा ऐलान ◾यमन के हूती विद्रोहियों को फिर से आतंकवादी समूह घोषित करने पर विचार कर रहा है अमेरिका : बाइडन◾गोवा चुनाव के लिए BJP की पहली लिस्ट, मनोहर पर्रिकर के बेटे उत्पल को नहीं दिया गया टिकट◾UP चुनाव में आमने-सामने होंगे योगी और चंद्रशेखर, गोरखपुर सदर सीट से मैदान में उतरने का किया ऐलान ◾कांग्रेस की पोस्टर गर्ल प्रियंका BJP में शामिल, कहा-'लड़की हूं लड़ने का हुनर रखती हूं'◾लापता लड़के का पता लगाने के लिए भारतीय सेना ने हॉटलाइन पर चीन से किया संपर्क, PLA से मांगी मदद ◾UP विधानसभा चुनाव : कांग्रेस ने जारी की उम्मीदवारों की दूसरी लिस्ट, महिलाओं को 40% टिकट ◾BJP की बड़ी सेंधमारी, मुलायम के साढू प्रमोद गुप्ता ने थामा कमल, बोले- अखिलेश ने नेताजी को बना रखा बंधक◾NEET Case: SC ने कहा- पिछड़ेपन को दूर करने के लिए आरक्षण जरूरी, हाई स्‍कोर योग्‍यता का मानदंड नहीं ◾दिल्ली में सर्दी-बारिश का डबल अटैक, 21 से 23 जनवरी तक हल्की बारिश की संभावना, दृश्यता में आई कमी ◾

इंटरव्यू में छलका नोरा फतेही का दर्द, रोते हुए एक्ट्रेस ने सुनाई अपने स्ट्रगल की कहानी

दिलबर गर्ल नोरा फतेही अपनी एक मुस्कान से सबका दिल जीत लेती है लेकिन अब कुछ ऐसा हुआ जिसके बाद इस मुस्कुराते चेहरे पर उदासी छा गई। अब नोरा फतेही की आँखों में आंसू आ गए और इसका कारण बना उनका संघर्ष। अपने धमाकेदार डांस से सभी का दिल जीत चुकीं नोरा फतेही अब अपने एक इंटरव्यू को लेकर सुर्खियों में हैं।

इस इंटरव्यू में नोरा ने अपने दिल की कई बातें कही हैं। इस इंटरव्यू में नोरा फतेही अपने स्ट्रगल के बारे में बात करते दिखाई दी और इस बीच उनकी आंखे नम हो गई। दरअसल, इंटरव्यू में नोरा कहती हैं 'एक दिन मुझे एक रेडियो चैनल पर एक ऐड सुनने को मिला, इसके बाद मैं वहां गई। पोर्टफोलियो दिखाने के एक दिन पहले मेरा एपेंडिक्स का ऑपरेशन भी हुआ, मैं सही से चल नहीं पा रही थी, लेकिन मैं गई। वहां सिलेक्ट होने के बाद एक दम से मैंने जाने के लिए मना कर दिया क्योंकि मुझे मोटिवेशन नहीं मिल रहा था।'

नोरा आगे कहती हैं, 'जैसे ही मैं वहां से वापस आई, मुझे उस पाकिस्तानी एंजेंसी से कॉल आया कि क्या तुम इंडिया जाना चाहोगी, मैंने उसे तुरंत हां कह दिया। इसके बाद मैं इंडिया आ गई, यहां आकर मुझे लगा था कि मुझे लेने लिमोजीन आएगी साथ ही एक बटलर भी होगा जो कि मुझे एक सुईट में ले जाएंगे और मैं अपने ऑडिशंस के लिए इसी लिमोजीन कार से जाया करूंगी। हालांकि, जब मैं भारत पहुंची तो ऐसा कुछ नहीं था, यह मेरे लिए एक चांटे जैसा था।' 

नोरा ने इस इंटरव्यू के दौरान ये भी बताया कि उन्हें स्ट्रगल के दौरान बुलिंइंग, रिजेक्शन से लेकर ट्रामा जैसी सिचुएश्न्स का सामना करना पड़ा था। नोरा ने आगे कहा, 'काश मुझे किसी ने बताया होता कि मेरा यहां पर कैसे- कैसे लोगों से पाला पड़ेगा, मेरा पासपोर्ट चोरी होगा, लोग मेरे मुंह पर हंसा करेंगे, मेरे बोलने के तरीके का मजाक उड़ाया करेगा। मेरे साथ ये बहुत बार हुआ, मैं कई बार रोते- रोते बाहर आती थी और रिक्शे से घर जाती थी। मेरे साथ करीब पांच साल तक ऐसा हुआ कि लोग कहते थे कि देखो तुम बहुत टैलेंटिड हो.. ये दरवाजा सिर्फ तुम्हारे लिए खुला है, लेकिन जैसे ही मैं उस दरवाजे के पास जाती, कोई उसे जोर से मेरे मुंह पर बंद कर देता।'

इसके बाद इंटरव्यू में नोरा रो पड़ती हैं और कहती हैं, 'मैंने बहुत कुछ देखा है, बहुत कुछ सहा है लेकिन मैंने हार नहीं मानी और कोशिश करती गई। लेकिन मुझे उन लड़कियों के लिए सोचकर रोना आता है, जिनको मेरे जैसे ही बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ा। जिनको कई लोगों ने असफल करने की कोशिश की, कुछ ने हार मान लीं लेकिन कुछ डटी रहीं। मैं बस चाहती हूं कि कोई भी हार नहीं माने क्योंकि जब कोई इंसान हार जाता है तो पूरी इंसानियत हार जाती है।'