BREAKING NEWS

भाजपा के नकारेपन के चलते जीतेंगे झारखंड : कांग्रेस◾UP में मुआवजे के लिए किसानों का प्रदर्शन हुआ उग्र ◾भाजपा के नकारेपन के चलते जीतेंगे झारखंड : कांग्रेस◾अयोध्या फैसले पर बोले यशवंत सिन्हा, कहा- इस फैसले में कुछ खामियां हैं, लेकिन हमें आगे बढ़ने की जरूरत◾UEA के नागरिकों को अब भारत आने पर सीधे मिलेगा वीजा◾महाराष्ट्र सरकार गठन : सोमवार को पवार सोनिया गांधी से करेंगे मुलाकात ◾विपक्ष ने संसद में अपनी संख्या बढ़ाई ◾बाल ठाकरे की पुण्यतिथि पर तेज हुई राजनीति◾PM मोदी ने राजपक्षे को भारत आने का दिया निमंत्रण◾प्रदूषण के मुद्दे पर केंद्र सोमवार को उत्तरी राज्यों के अधिकारियों के साथ करेगा उच्च स्तरीय बैठक ◾कर्नाटक उपचुनावों में उम्मीदवारों को भविष्य के मंत्री के तौर पर पेश कर रही है भाजपा ◾किसानो पर पुलिस बर्बरता शर्मनाक : प्रियंका◾नागरिकता विधेयक से लेकर आर्थिक सुस्ती पर विपक्ष के विरोध से शीतकालीन सत्र के गर्माने की संभावना ◾TOP 20 NEWS 17 November : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾मंत्री स्वाती सिंह के कथित आडियो पर प्रियंका गांधी ने सरकार को घेरा ◾अयोध्या मामले पर पुनर्विचार याचिका दाखिल करेगा मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड◾उपभोक्ता खर्च के आंकड़े छिपाने के आरोपों में चिदंबरम का केंद्र सरकार पर निशाना◾प्रियंका गांधी ने कांग्रेस कार्यकर्ताओं को वास्तविक मुद्दों पर फोकस करने का दिया निर्देश ◾सर्वदलीय बैठक में बोले PM मोदी- सभी मुद्दों पर चर्चा के लिए हैं तैयार ◾गोताबेया राजपक्षे ने जीता श्रीलंका के राष्ट्रपति का चुनाव, PM मोदी ने दी बधाई◾

बॉलीवुड केसरी

फिल्म सेक्शन 375 के लेखक ने किया खुलासा - फिल्म इस अभिनेता के रेप केस से प्रेरित थी !

हाल ही में रिलीज़ फिल्म सेक्शन 375 अपनी शानदार कोर्टरूम ड्रामा कहानी और अक्षय खन्ना - ऋचा चड्ढा की प्रभावी एक्टिंग के लिए लगातार पॉजिटिव रिव्यु प्राप्त कर रही है। हालांकि कई आलोचकों ने फिल्म को #MeToo मूवमेंट को चोट पहुँचाने वाला भी बताया हैं। 

अब फिल्म के लेखक ने एक बेहद चौंकाने वाला खुलासा किया है और बताया है की फिल्म की कहानी 'वो लम्हे' अभिनेता शाइनी आहूजा के चर्चित रेप केस से प्रेरित थी।  बता दें बलात्कार के मामले में बरी होने से पहले शाइनी आहूजा को 7 साल के कठोर कारावास की सजा सुनाई गई थी। 

अभिनेता शाइनी आहूजा पर उनके घर काम करने वाली मेड का रेप करने का आरोप लगा था। सेक्शन 375  लेखक मनीष गुप्ता ने कहा , '“यह शाइनी आहूजा मामले से पूरी तरह प्रेरित है क्योंकि मैं शाइनी को व्यक्तिगत रूप से जानता था। साल 2009 में, मैं शाइनी के साथ एक फिल्म करने वाला था। यह गैंगस्टर चार्ल्स शोभराज पर एक फिल्म बनने वाली थी। फिल्म के सिलसिले में उनके ओशिवारा स्थित घर पर उनसे और उनकी पत्नी अनुपमा से मिलने जाता था। 

मनीष गुप्ता ने आगे बताया, " अनुपमा शाइनी की मैनेजर थी और उनके साथ मेरी काफ़ी बातचीत हुई थी। उनके घर पर एक कम उम्र की मेड थी। जब मैं वहां जाता था तो वही मेड मुझे  पानी वगैरह दिया करती थी। एक शाम मुझे अचानक पता चला , शाइनी को उस लड़की के साथ बलात्कार करने के लिए गिरफ्तार किया गया है। 

मनीष गुप्ता ने बताया, 'घटना की सूचना का पता चलते ही मैं ओशिवारा थाने पहुंचा था। वहां पहुंच कर मैंने डीसीपी से बात की और शाइनी को रिहा करने का अनुरोध किया पर उन्होंने मना कर दिया। बाद में शाइनी की पत्नी ने मनीष को समझाया कि डीएनए रिपोर्ट में भी कई बार गलतियां हो सकती है।

मनीष ने यह भी स्वीकार किया कि पीड़िता से बात करने के बाद, जिसने उन्हें  हर मिनट विस्तार से उसके साथ हुई वारदात को समझाया, वह चौंक गए और यह मानने लगे कि शायद शाइनी ये जघन्य अपराध कर सकता है। लेखक ने अंत में कहा, "अब मुझे नहीं पता था कि किस बात पर विश्वास करना है।"

मनीष के मुताबिक, "एक तरफ अनुपमा, जो एक महिला है और उसके पति पर बलात्कार का आरोप लगाया गया है। उसका जीवन तबाह हो जाता है, भले ही वह सहमति से किया गया सेक्स हो। दूसरी ओर, यह लड़की है जिसका बलात्कार हुआ है, उसका शोषण किया गया है, इसलिए यह मेरे लिए परेशान करने वाला था।  यही से उन्हें फिल्म की कहानी का बेस मिला।

 

बिग बॉस का सीजन 13 में बतौर कंटेस्टेंट भाग लेगा ये मशहूर यूट्यूब स्टार, मिलेगा कंट्रोवर्सी का डबल डोज