BREAKING NEWS

Tamil Nadu: मुख्यमंत्री स्टालिन ने द्रमुक अध्यक्ष पद के लिए दाखिल किया नामांकन◾सजा पूरी होने के बावजूद 6 भारतीय कैदियों को मार चुका हैं पाकिस्तान, भारत ने जताई चिंता◾अमेरिका की अपने नागरिकों को सलाह, कहा -पाकिस्तान जाने से करे परहेज, हो सकता हैं आतंकी हमला ◾कांग्रेस ने केंद्र पर कसा तंज, कहा- गरीबी भयावह रूप ले रही है और सरकार बेख़बर है◾नशे में धुत कांग्रेस के दो विधायकों ने चलती ट्रेन में महिला से की बदसलूकी, रिपोर्ट दर्ज ◾अधिकार कार्यकर्ता एलेस बियालियात्स्की को शांति का नोबेल पुरस्कार, रूसी समूह व यूक्रेन संगठन का भी नाम◾ अफ्रीका से पहले 'कफ सीरफ' जम्मू कश्मीर में लील चुका हैं 12 मासूम की जान, NHRC ने ठोका था 36 लाख का जुर्माना ◾ज्ञानवापी : शिवलिंग की कार्बन डेटिंग पर टला फैसला, 11 अक्टूबर को होगी अगली सुनवाई◾चरमपंथ से शिक्षा का मंदिर स्कूल भी अछूता नहीं, मरम्मत के पैसे से कट्टरपंथी प्राचार्य ने बनवा दी मजार◾आदेश गुप्ता ने केजरीवाल पर साधा निशाना, कहा- AAP का इतिहास हमेशा से ही हिंदू धर्म के अपमान करने का रहा ◾पाकिस्तान में बाढ़ से हाहाकार! नहीं थम रहा प्रकोप, मरने वालों की संख्या इतने हजारों तक पहुंची ◾ हरियाणा उपचुनाव : आदमपुर जीतने के लिए 'आप' ने झोंकी ताकत, प्रचार के लिए भारी संख्या में उतारेंगी विधायक ◾लद्दाख : भूस्खलन की चपेट में आए सेना के तीन वाहन, 6 जवानों की मौत◾एंटीलिया मामले में सचिन वाजे पर UAPA के तहत चलेगा केस, दिल्ली HC ने खारिज की याचिका ◾हिंदुओं पर हमलों करने वालों के खिलाफ संयुक्त होकर लड़ना होगा - सांसद स्टारर ◾क्या है कर्नाटक में कांग्रेस का 'प्लान 60'? 'भारत जोड़ो यात्रा' में सोनिया के शामिल होने का खुला राज◾BJP सांसद की याचिका पर JMM नेता शिबू सोरेन को दिल्ली हाई कोर्ट का नोटिस◾केजरीवाल के मंत्री पर बीजेपी ने लगाया बड़ा आरोप, कहा - राम और कृष्ण की पूजा ना करने की दिलाई शपथ◾दिल्ली : केंद्रीय विद्यालय में 11 साल की छात्रा के साथ गैंगरेप, आरोपियों के खिलाफ POCSO एक्ट के तहत केस दर्ज◾गहलोत गुट के मंत्रियों पर सोनिया गांधी ने दिखाई नरमी, फिर टूटेगा पायलट का सपना?◾

इंडिया मोबाइल कांग्रेस-19 में कंपनियों ने पेश किए 5जी समाधान

देश की सबसे प्रमुख डिजिटल प्रौद्योगिकी प्रदर्शनी ‘इंडिया मोबाइल कांग्रेस-2019’ (आईएमसी-19) में अधिकतर कंपनियों ने भविष्य की 5जी प्रौद्योगिकी से जुड़े समाधान प्रदर्शित किए गए। हुवावेई, नोकिया, एरिक्सन, जेडटीई जैसी 5जी उपकरण निर्माता कंपनियों के साथ-साथ दूरसंचार सेवाप्रदाता कंपनी एयरटेल, जियो और वोडाफोन आइडिया ने भी यहां अपनी सेवाओं को प्रदर्शित किया। 


इंडिया मोबाइल कांग्रेस में 5जी उत्पाद प्रदर्शन के लिए कंपनियों को तीन दिन के लिए विशेष तौर पर 5जी स्पेक्ट्रम उपलब्ध कराया गया था। यह प्रदर्शनी दिल्ली के एरोसिटी में 14 से 16 अक्टूबर तक चली। 

अमेरिकी प्रतिबंधों का सामना कर रही चीनी कंपनी हुवावेई ने भी यहां अपने 5जी उत्पाद पेश किए। दूरसंचार विभाग ने पिछले हफ्ते ही नोकिया, एरिक्सन और जेडटीई समेत हुवावेई को भी आईएमसी में अपने उत्पाद पेश करने के लिए तीन दिन की विशेष अनुमति दे दी थी। 

इस अनुमति का स्वागत करते हुए कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी जे चेन ने कहा था, ‘‘इससे एक सकारात्मक संदेश मिला है। साथ ही कंपनी के साथ काम करने को लेकर दूरसंचार उद्योग जगत का विश्वास भी बढ़ा है। इस अनुमति के बाद कंपनी को उसे देश में 5जी के परीक्षण की अनुमति मिलने का भी भरोसा बढ़ा है।’’ 

तीन दिन की इस प्रदर्शनी में जेडटीई के स्टॉल पर प्रदर्शित रोबोट ने दर्शकों का सबसे ज्यादा ध्यान खींचा। नोकिया ने इसमें 5जी आधारित स्मार्ट सिटी परिकल्पना और कृषि में 5जी प्रौद्योगिकी के उपयोग को प्रदर्शित किया। दुनिया की सबसे बड़ी दूरसंचार उपकरण कंपनी हुवावेई ने भी 5जी से जुड़े विभिन्न समाधान पेश किए जिनमें स्मार्ट परिवहन (5जी हवाईअड्डे) और स्मार्ट शहर सुरक्षा प्रणाली (5जी निगरानी तंत्र) इत्यादि शामिल रहे। 

इसके अलावा दूरसंचार सेवाप्रदाता कंपनियों ने 5जी से संबद्ध भविष्य के परिवहन को प्रदर्शित किया। इसमें एयरटेल ने एमजी हैक्टर और वोडाफोन आइडिया ने किया मोटर्स की सेल्टॉस के साथ अपनी भविष्य की 5जी से जुड़ी कार परिचालन प्रणाली पेश की। 

इसके अलावा प्रदर्शनी के दौरान रिलायंस जियो का पूरा जोर उसके ‘जियो फाइबर’ उत्पाद पर रहा। इसके अलावा प्रदर्शनी के दौरान जियो के अध्यक्ष मैथ्यू ओमन ने मंगलवार को सैमसंग नेटवर्क के साथ साझेदारी में इंटरनेट प्रोटोकॉल आधारित 4जी-एलटीई का नए सिरे से दुनिया का सबसे बड़ा नेटवर्क स्थापित करने की जानकारी दी। 

इसी के साथ ही 5जी एनएसए मोड के उपयोग आधारित नए व्यावसायिक अवसरों की पेशकश की। इसके लिए प्रदर्शित किए गए मामलों में 4जी एलटीई और 5जी तकनीक को एक दोहरे जुड़े हुए नेटवर्क के रूप में उपयोग किया गया। 

प्रदर्शनी के दौरान कंपनियों ने शिक्षा, स्वास्थ्य, परिवहन, नगर प्रशासन, सुरक्षा, वाईफाई सुविधा, बिजली और पथ प्रकाश समेत 5जी से जुड़े समाधान पेश किए। इंडिया मोबाइल कांग्रेस भारत और दक्षिण एशिया की सबसे बड़ी डिजिटल प्रौद्योगिकी प्रदर्शनी है।