BREAKING NEWS

नागरिकता विधेयक को संसद की मंजूरी मिलने पर भाजपा ने खुशी जताई ◾सुप्रीम कोर्ट में खारिज हो जाएगा CAB : चिदंबरम ◾नागरिकता विधेयक पारित होना संवैधानिक इतिहास का काला दिन : सोनिया गांधी◾मोदी सरकार की बड़ी जीत, नागरिकता संशोधन बिल राज्यसभा में हुआ पास◾ राज्यसभा में अमित शाह बोले- CAB मुसलमानों को नुकसान पहुंचाने वाला नहीं◾कांग्रेस का दावा- ‘भारत बचाओ रैली’ मोदी सरकार के अस्त की शुरुआत ◾राज्यसभा में शिवसेना का भाजपा पर कटाक्ष, कहा- आप जिस स्कूल में पढ़ रहे हो, हम वहां के हेडमास्टर हैं◾CM उद्धव ठाकरे बोले- महाराष्ट्र को GST मुआवजा सहित कुल 15,558 करोड़ रुपये का बकाया जल्द जारी करे केन्द्र◾TOP 20 NEWS 11 December : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾कपिल सिब्बल ने राज्यसभा में कहा- विभाजन के लिए कांग्रेस को जिम्मेदार बताने पर माफी मांगें अमित शाह◾नागरिकता विधेयक के खिलाफ असम में भड़की हिंसा, पुलिस ने चलाई रबड़ की गोलियां◾चिदंबरम ने CAB को बताया 'हिन्दुत्व का एजेंडा', कानूनी परीक्षण में नहीं टिकने का जताया भरोसा◾इसरो ने किया डिफेंस सैटेलाइट रीसैट-2BR1 लॉन्च, सेना की बढ़ेगी ताकत ◾हैदराबाद एनकाउंटर: सुप्रीम कोर्ट ने जांच के लिए पूर्व न्यायाधीश को नियुक्त करने का रखा प्रस्ताव ◾पाकिस्तान : हाफिज सईद के खिलाफ आतंकवाद वित्तपोषण के आरोप तय◾मनमोहन सिंह की सलाह पर लाया गया है नागरिकता संशोधन विधेयक : भाजपा◾कांग्रेस ने नागरिकता संशोधन विधेयक को बताया विभाजनकारी और संविधान विरूद्ध◾राज्यसभा में नागरिकता बिल पेश, अमित शाह बोले- भारतीय मुस्लिम भारतीय थे, हैं और रहेंगे◾प्रियंका का वित्त मंत्री पर वार, कहा-आप प्याज नहीं खातीं, लेकिन आपको हल निकालना होगा ◾2002 गुजरात दंगा मामले में नानावती आयोग ने PM नरेंद्र मोदी को दी क्लीन चिट ◾

व्यापार

आर्सेलर मित्तल के भारतीय बाजार में प्रवेश से नवोन्मेषण बढ़ेगा

 arcelormittal

नई दिल्ली : दुनिया की सबसे बड़ी इस्पात कंपनी आर्सेलर मित्तल के भारतीय बाजार में प्रवेश करने से बाजार में नवोन्मेष, गुणवत्ता और शोध एवं विकास गतिविधियों को बढ़ावा मिलेगा। घरेलू इस्पात कंपनियों ने यह राय जताई है। भारतीय इस्पात संघ (आईएसए) के इस्पात सम्मेलन में घरेलू इस्पात कंपनियों ने बृहस्पतिवार को यह बात कही। जेएसडब्ल्यू स्टील के चेयरमैन सज्जन जिंदल ने कहा कि  हम आर्सेलर मित्तल को चुनौती की तरह नहीं देखते हैं। 

उन्होंने कहा कि बाजार में जितनी अधिक कंपनियां होंगी उतना अधिक शोध एवं विकास गतिविधियों, नवोन्मेष और गुणवत्ता को बढ़ावा मिलेगा। जिंदल स्टील एंड पावर के चेयरमैन नवीन जिंदल ने कहा, ‘‘हम उनके प्रवेश (आर्सेलर मित्तल) को एक सकारात्मक कदम के तौर पर देखते हैं। टाटा स्टील के मुख्य वित्त अधिकारी कौशिक चटर्जी ने भी कहा कि इससे बाजार में और प्रतिस्पर्धा आएगी। 

सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी स्टील अथारिटी आफ इंडिया लि. (सेल) के चेयरमैन ए. के. चौधरी ने इसे बाजार में स्वस्थ प्रतिस्पर्धा बढ़ाने वाला कदम बताया। पिछले हफ्ते उच्चतम न्यायालय ने आर्सेलर मित्तल की 42,000 करोड़ रुपये में कर्ज में डूबी एस्सार स्टील को खरीदने के प्रस्ताव पर मुहर लगा दी और इस संबंध में राष्ट्रीय कंपनी विधि अपीलीय न्यायाधिकरण (एनसीएलएटी) के 4 जुलाई के आदेश को खारिज कर दिया। इसके बाद आर्सेलर मित्तल का भारतीय बाजार में प्रवेश पक्का हो गया है।