BREAKING NEWS

पीएम मोदी के सामने मंत्री देंगे प्रजेंटेशन, हो सकता है कैबिनेट विस्तार◾मध्यम आय वर्ग वाला देश बनना चाहते हैं हम : राष्ट्रपति ◾कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने रैली में पकौड़े बेच सत्ताधारियों का मजाक उड़ाया ◾भाजपा ने किया कांग्रेस सरकार के खिलाफ प्रदर्शन : किसानों के प्रति असंवेदनशील होने का लगाया आरोप ◾कांग्रेस जवाब दे कि न्यायालय में उसने भगवान राम के अस्तित्व पर क्यों सवाल उठाए : ईरानी◾दिल्ली के रामलीला मैदान में 22 दिसंबर को रैली कर दिल्ली विधानसभा चुनाव के लिए प्रचार शुरू करेंगे PM मोदी ◾जामिया के छात्रों ने आंदोलन फिलहाल वापस लिया◾सीएए के खिलाफ जनहित याचिका दायर की, एआईएमआईएम हरसंभव तरीके से कानून के खिलाफ लडे़गी : औवेसी◾गंगा बैराज की सीढियों पर अचानक फिसले प्रधानमंत्री मोदी ◾संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ पूर्वोत्तर, बंगाल में प्रदर्शन जारी◾PM मोदी ने कानपुर में वायुसेना कर्मियों के साथ की बातचीत ◾कानपुर : नमामि गंगे की बैठक के बाद PM मोदी ने नाव पर बैठकर गंगा की सफाई का लिया जायजा ◾राहुल गांधी के लिए ‘राहुल जिन्ना’ अधिक उपयुक्त नाम : भाजपा ◾TOP 20 NEWS 14 December : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾उत्तर प्रदेश : फतेहपुर में दोहराया गया 'उन्नाव कांड', बलात्कार के बाद पीड़िता को जिंदा जलाया ◾साबित हो गया कि मोदी ने झूठे वादे किए थे : मनमोहन सिंह◾जम्मू-कश्मीर : फारुक अब्दुल्ला की हिरासत अवधि 3 महीने और बढ़ी◾झारखंड : अमित शाह बोले- CAB कानून के खिलाफ कांग्रेस भड़का रही है हिंसा◾मेरा नाम राहुल सावरकर नहीं, कभी माफी नहीं मांगने वाला : राहुल गांधी◾'भारत बचाओ रैली' में बोलीं सोनिया गांधी- भारत की आत्मा को तार-तार कर देगा नागरिकता संशोधन कानून◾

व्यापार

बैंकिंग, सरकारी संस्थानों पर हुए सबसे अधिक साइबर हमले

 cyber crime

नई दिल्ली : साइबर अपराधियों ने वित्त वर्ष 2018-19 में भारत में सबसे अधिक बैंकिंग, वित्तीय, सरकारी एवं महत्वपूर्ण संस्थाओं को निशाना बनाया। प्रौद्योगिकी क्षेत्र की प्रमुख कंपनी सिस्को की एक रपट में यह कहा गया है। सिस्को इंडिया और सार्क के निदेशक (सुरक्षा कारोबार) विशक रमण ने कहा, 'हैकरों की गतिविधियां लगातार जारी हैं। उनके अभियान बहुत लक्षित हैं। हमने पाया है कि बैंकिंग एवं वित्तीय क्षेत्र पर सबसे अधिक (20.1 प्रतिशत), सरकार (19.6 प्रतिशत) और महत्वपूर्ण संस्थानों (15.1%) को सबसे अधिक साइबर हमले झेलने पड़े हैं।' 

उन्होंने कहा कि साइबर अपराधी रक्षा, सूचना-प्रौद्योगिकी, दूरसंचार एवं स्वास्थ्य सेवाओं पर भी हमले तेज कर रहे हैं। रिटेल, आतिथ्य सेवा, एंटरटेनमेंट और ई-वाणिज्य जैसे क्षेत्रों पर पीओएस मालवेयर के जरिए हमले किये जा रहे हैं। वहीं सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों, परिवहन के साथ-साथ बैंकिंग और वित्तीय क्षेत्रों पर रैंसमवेयर से निशाना बनाया जा रहा है।