BREAKING NEWS

कैग की रिपोर्ट में खुलासा: दिल्ली में लगे 44% CCTV कैमरे खराब, 20 साल पुरानी तकनीक के भरोसे पुलिस◾श्रम कानून : राहुल गांधी ने सरकार पर साधा निशाना, बोले- श्रम सुधारों से जुड़े विधेयकों को लेकर◾लफ्फाजी का लॉलीपॉप हो गए हैं राहुल गांधी : मुख्तार अब्बास नकवी◾J&K के पुलवामा में सुरक्षाबलों ने एक आतंकवादी को मार गिराया, बडगाम में 1 जवान शहीद ◾देश में पिछले 24 घंटों में कोरोना के 86,508 नए मामले दर्ज, संक्रमितों का आंकड़ा 57 लाख से अधिक◾ड्रग्स केस : बॉलीवुड की ड्रग्स मंडली का होगा खुलासा, सिमोन खंबाटा से NCB की पूछताछ जारी◾भारत और चीन तनाव के बीच आज रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह 43 पुलों का करेंगे उद्घाटन◾वैश्विक स्तर पर कोरोना संक्रमितों की संख्या 3 करोड़ 17 लाख से अधिक, 9 लाख 75 हजार से अधिक लोगों की मौत◾ ONGC प्लांट में लगी भयंकर आग, दमकल विभाग मौके पर ◾आज का राशिफल (24 सितम्बर 2020)◾भारत ने किया स्वदेशी पृथ्वी-2 मिसाइल का सफल परीक्षण◾म्यांमार के राजदूत ने की विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला से मुलाकात◾KKR vs MI (IPL 2020) : रोहित की धमाकेदार पारी, मुंबई इंडियन्स ने कोलकाता नाइटराइडर्स को 49 रन से हराया◾कोरोना वायरस संक्रमण से रेल राज्य मंत्री सुरेश अंगडी का निधन, PM मोदी ने दुख व्यक्त किया◾कोविड-19 के खिलाफ ‘मेरा परिवार- मेरी जिम्मेदारी’ अभियान शुरू किया गया - उद्धव ठाकरे◾KKR vs MI IPL 2020: मुंबई ने कोलकाता को दिया 196 रनों का टारगेट◾महाराष्ट्र में कोरोना के 21 हजार से अधिक नए केस, 479 और लोगों की मौत◾कोरोना प्रभावित राज्यों के मुख्यमंत्रियों से बोले PM मोदी- 7 दिन तक 1 घंटा लोगों से सीधे करें बात◾ड्रग केस में बड़ी कार्यवाही : NCB ने दीपिका, सारा , श्रद्धा कपूर और रकुल प्रीत सिंह को भेजा समन◾दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया की तबीयत बिगड़ी, LNJP हॉस्पिटल में भर्ती◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

भारत को निवेश का आकर्षक गंतव्य बनाने का खाका तैयार

नई दिल्ली : राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने शनिवार को कहा कि भारत ने विदेशी कंपनियों और विदेशी निवेश के लिये आकर्षक गंतव्य बनने का खाका तैयार किया है। उन्होंने कहा कि इस दिशा में हम कितने अच्छे से पारदर्शिता के साथ कंपनी कानून का क्रियान्वयन कर पाते हैं, यह महत्वपूर्ण हो जाता है। राष्ट्रपति कोविंद ने भारतीय कंपनी सचिव संस्थान (आईसीएसआई) के 51वें स्थापना दिवस को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘हमने देखा है कि कैसे कुछ उद्यमों ने लोगों का भरोसा तोड़ा है। (ऐसी) कंपनियां या तो लड़खड़ाकर भटक गयीं या ठप्प हो गयीं। इस सबमें परेशानी आम लोगों को हुई।’’ 

राष्ट्रपति ने कहा कि कंपनी सचिवों को यह देखना चाहिए कि कंपनियों के हितधारक यह समझे कि, ‘मुनाफा और मुनाफाखोरी में फर्क होता है।’’ उन्होंने कंपनी को पूरी जिम्मेदार के साथ कारोबार करने तथा आर्थिक उद्देश्यों एवं वृहद सामाजिक-आर्थिक लक्ष्यों के बीच सामंजस्य बिठा कर चलने की जरूरत पर बल दिया। राष्ट्रपति ने कहा कि कंपनी सचिव संचालन पेशेवर और आंतरिक कारोबारी भागीदार की भूमिका निभाते हैं। 

उन्होंने कहा, ‘‘उन्हें उन मुद्दों पर चर्चा करनी चाहिए जहां हमें सुधार करने की जरूरत है ताकि अतीत की गलतियों या कमियों को सही तरीके से सुधारा जा सके।’’ उन्होंने कहा कि कॉरपोरेट संचालन का विचार जटिल है, लेकिन यह जिन सिद्धांतों पर आधारित हैं वे स्पष्ट हैं। पारदर्शिता, उत्तरदायित्व, सत्यनिष्ठा और निष्पक्षता इसके चार स्तंभ हैं। 

उन्होंने कहा कि कंपनी सचिवों को यह जिम्मेदारी के साथ तय करना चाहिये कि कैसे इन सिद्धांतों को चलन में लाया जाये। इस कार्यक्रम में संसदीय मामलों के राज्य मंत्री अर्जुन राम मेघवाल और वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर भी उपस्थित रहे।