BREAKING NEWS

अनुपम खेर ने ट्विटर पर दिया नसीरुद्दीन शाह को जवाब, कहा - कुछ पदार्थों के सेवन का नतीजा है यह बयान◾अगले दस दिन में देश में 5,000 और शाहीन बाग होंगे : आजाद ◾पुरुष घर पर रजाई में सो रहे, महिलाएं चौराहे पर : सीएए विरोध पर बोले योगी आदित्यनाथ ◾मौत की सजा पाने वाले दोषियों को सात दिन में फांसी देने के लिये केन्द्र पहुंचा न्यायालय◾नेताजी जयंती को लेकर भाजपा में उत्साह नहीं, पोते चंद्र कुमार हैरान !◾गणतंत्र दिवस परेड में गुरु नानक के साथ जयपुर के परकोटा और गुजरात की बावड़ी की झलक◾राहुल 30 जनवरी को वायनाड में करेंगे सीएए विरोधी रैली◾CAA के समर्थन में नड्डा करेंगे आगरा में रैली◾दिल्ली कांग्रेस के कई नेता आम आदमी पार्टी में शामिल◾केजरीवाल ने भाजपा,कांग्रेस समर्थकों से भी मांगे वोट◾मानवयुक्त अंतरिक्ष मिशन से पहले इसरो, महिला रोबोट ‘‘व्योममित्र’’ को अंतरिक्ष की सैर कराएगा◾रक्षामंत्री राजनाथ सिंह बोले- जो मुस्लिम भारत का नागरिक है, उसे कोई छू नहीं पाएगा◾TOP 20 NEWS 22 January : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾एटलस साइकिल की मालकिन नताशा कपूर ने खुदकुशी की, पंखे से लटका मिला शव◾एलआईसी को नुकसान पहुंचाकर करोड़ों लोगों के भविष्य को जोखिम में डाल रही है मोदी सरकार : राहुल गांधी ◾ममता ने अमित शाह से CAA की धाराओं पर मांगा स्पष्टीकरण, केन्द्र पर झूठ फैलाने का लगाया आरोप ◾CAA-NRC पर ओवैसी ने अमित शाह को दी बहस की चुनौती, कहा- ममता, राहुल और अखिलेश से क्यों, किसी दाढ़ी वाले से कीजिए◾कांग्रेस को अपना नाम बदल कर मुस्लिम लीग कांग्रेस रख लेना चाहिए : संबित पात्रा◾दिल्ली चुनाव : बादली में अरविंद केजरीवाल ने किया रोड शो, बोले- परिवार के बड़े बेटे की तरह किया काम◾पाकिस्तान और अमेरिका भी धर्मशासित देश है, केवल हम ही धर्मनिरपेक्ष : राजनाथ सिंह ◾

भारत समेत 101 देशों में बदल गई किलोग्राम की परिभाषा

नई दिल्ली : भारत समेत दुनिया के 101 देशों में सोमवार से किलोग्राम, एम्पियर, केलविन और मोल की परिभाषा बदल गई। नाप-तौल की सात मूल इकाइयों (एसआई इकाइयों) में शामिल इन चार इकाइयों की परिभाषा बदली गई है। इसके साथ ही सभी एसआई इकाइयों की परिभाषा प्राकृतिक स्थिरांकों पर आधारित हो गयी है। मीटर, सेकेंड और कैंडेला की इकाइयां पहले से ही प्राकृतिक स्थिरांकों पर आधारित थी।

यह नया मानक पूरी दुनिया में वैज्ञानिकों को सटीक माप उपलब्ध कराएगा। इसे एक बार लागू करने के बाद सभी एसआई यूनिट फंडामेंटल कंस्टेंट की प्रकृति पर आधारित होंगी, जिसके मायने हमेशा के लिए तय हो जाएंगे और ये और भी अधिक सटीक पैमाइश कर पाएगा। वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद् (सीएसआईआर) की राष्ट्रीय भौतिकी प्रयोगशाल (एनपीएल) में एक कार्यक्रम में भाभा परमाणु अनुसंधान केंद्र के पूर्व निदेशक डॉ. आर. चिदम्बरम् ने भारत में नई परिभाषा अपनाने की घोषणा की।

अंतर्राष्ट्रीय नाप-तौल विज्ञान संगठन के 60 स्थायी देशों और 41 संबद्ध देशों ने 20 मई को विश्व नाप-तौल विज्ञान दिवस के मौके पर नई परिभाषा को अपनाया। सीएसआईआर के महानिदेशक डॉ. शेखर सी. मांडे ने कहा “यह एक ऐतिहासिक दिवस है। आज से हमने अंतर्राष्ट्रीय इकाइयों को अपना लिया है।” अब सभी एसआई इकाइयां सात प्राकृतिक स्थिरांकों पर आधारित होंगे। ये स्थिरांक हैं- प्लांक स्थिरांक, निर्वात में प्रकाश की गति, हाइपरफाइन ट्रांजिशन आवृत्ति, मूल चार्ज, बोल्ट्जमैन कांस्टेंट, एवोगाद्रो स्थिरांक, ल्युमिनस एफिसियेंसी।

सेकेंड, मीटर और कैंडेला की परिभाषा पहले से ही प्राकृतिक स्थिरांकों पर आधारित थी। नई परिभाषा को पाठ्य पुस्तकों में शामिल करने के लिए राष्ट्रीय शिक्षा अनुसंधान एवं प्रशिक्षण परिषद् (एनसीईआरटी) को अनुशंसा की जायेगी जिसका प्रारूप आज जारी किया गया। अभियांत्रिकी के छात्रों के पाठ्यक्रम में मापतौल इकाइयों की परिभाषा में बदलाव के लिए भी अनुशंसा का प्रारूप जारी किया गया है।