BREAKING NEWS

6 जून से शुरू हो सकता है नयी लोकसभा का पहला सत्र◾लड़ाई कितनी भी लंबी हो, कभी पीछे नहीं हटूंगी : सोनिया गांधी◾BJP के पास अगले साल तक राज्यसभा में हो जाएगा बहुमत , जानिए ! Modi का ये फॉर्मूला ◾MP की घटना में शामिल लोग BJP और Modi के हैं मतदाता : ओवैसी◾ADR रिपोर्ट : नयी लोकसभा में 475 सांसद करोड़पति, ये सांसद है सबसे आमिर◾सीबीआई ने कोलकाता के पूर्व पुलिस प्रमुख पूछताछ के लिए तलब किया ◾दाभोलकर हत्याकांड में गिरफ्तार 2 लोगों को एक जून तक CBI हिरासत में भेजा गया ◾PM मोदी ने माँ हीराबेन से लिया आशीर्वाद◾जेटली का स्वास्थ्य बिगड़ने संबंधी खबरें झूठी, निराधार : सरकार ◾आतंकवादी भारत के खिलाफ कोई कदम नहीं उठाएं, इसलिए किया गया था बालाकोट हमला : जनरल रावत ◾अमेठी में सुरेन्द्र सिंह की हत्या पर स्मृति ईरानी बोली - दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दिलवायी जाएगी◾राफेल सौदे में FIR या CBI जांच का कोई सवाल ही नहीं है : केंद्र ◾नरेन्द्र मोदी 30 मई को लेंगे प्रधानमंत्री पद एवं गोपनीयता की शपथ ◾इमरान खान ने की प्रधानमंत्री मोदी से बात, मिलकर काम करने की इच्छा जताई ◾मोदी सरकार से जनता की अपेक्षायें बढ़ी : बाबा रामदेव◾TOP 20 News 26 MAY : आज की 20 सबसे बड़ी ख़बरें◾अमेठी पहुंची स्मृति ईरानी, करीबी पूर्व ग्राम प्रधान सुरेंद्र सिंह की अर्थी को दिया कंधा◾राजस्थान, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ में पार्टी के सफाए से राहुल गांधी ज्यादा नाराज !◾अमेठी : सुरेंद्र सिंह के भाई ने बताया- राजनीतिक रंजिश में हुई हत्या◾शारदा घोटाला : सीबीआई ने जारी किया राजीव कुमार के खिलाफ लुकआउट नोटिस ◾

व्यापार

बजटीय स्तर से कम रहेगा राजकोषीय घाटा

नई दिल्ली : वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि भारत 2018-19 में राजकोषीय घाटे को बजटीय लक्ष्य 3.3 प्रतिशत के नीचे रखने में कामयाब होगा। हालांकि यह चालू वित्त वर्ष के पहले दो महीने में ही सालाना लक्ष्य के 55 प्रतिशत पर पहुंच गया है। उन्होंने कहा कि ई - वे बिल का पूरा लाभ मिलना शुरू होने के साथ मौजूदा वित्त वर्ष में माल एवं सेवा कर (जीएसटी) से राजस्व 13 लाख करोड़ रुपये से अधिक पार कर जाने की उम्मीद है। गोयल ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘यह धारणा है कि राजकोषीय घाटे का लक्ष्य पूरा नहीं हो पाएगा लेकिन मेरा मानना है कि हम वास्तव में बजट में निर्धारित राजकोषीय घाटे के लक्ष्य से बेहतर करेंगे।’’

सरकार ने चालू वित्त वर्ष में राजकोषीय घाटा सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी)का 3.3 प्रतिशत रहने का लक्ष्य रखा है। यह 2017-18 के 3.53 प्रतिशत से कम है। राजस्व और व्यय के बीच अंतर राजकोषीय घाटा अप्रैल - मई अवधि में 3.45 लाख करोड़ रुपये रहा जो 2018-19 के बजटीय लक्ष्य का 55.3 प्रतिशत है। पिछले वित्त वर्ष 2017-18 की पहली तिमाही में राजकोषीय घाटा बजटीय अनुमान का 68.3 प्रतिशत था।

गोयल ने कहा, ‘‘इस वित्त वर्ष के अंत तक हमारा जीएसटी राजस्व 13 लाख करोड़ रुपये से अधिक होगा। हमें अबतक ई - वे बिल का पूरा लाभ नहीं मिला है। इसीलिए मेरा मानना है कि राजस्व में और सुधार होगा और करों में कुछ राहत दी जा सकती है।’’ सरकार ने वित्त वर्ष 2017-18 में सरकार ने एक जुलाई में जीएसटी लागू होने के बाद कुल 7.41 लाख करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त किया। औसत मासिक संग्रह 89,885 करोड़ रुपये रहा। चालू वित्त वर्ष में अप्रैल में संग्रह रिकार्ड 1.03 लाख करोड़ रुपये पहुंच गया जो मई में 94,016 करोड़ रुपये तथा जून में 95,610 करोड़ रुपये था।