BREAKING NEWS

दिल्ली हिंसा में मरने वालों की संख्या 27 पर पहुंची, हालात अभी भी तनावपूर्ण ◾कांग्रेस ने प्रधानमन्त्री मोदी पर कसा तंज, कहा- अगर शाह पर भरोसा नहीं तो बर्खास्त क्यों नहीं करते◾दिल्ली हिंसा में शामिल 106 लोग गिरफ्तार सहित 18 एफआईआर दर्ज, दिल्ली पुलिस ने जारी किए हेल्पलाइन नंबर◾मुख्यमंत्री केजरीवाल ने किया हिंसाग्रस्त उत्तर-पूर्वी दिल्ली का दौरा ◾अपने दौरे के बाद एनएसए डोभाल ने गृह मंत्री अमित शाह को उत्तर पूर्वी दिल्ली में मौजूदा हालात की जानकारी दी◾एनएसए डोभाल ने किया दंगा प्रभावित क्षेत्रों का दौरा, बोले- उत्तर पूर्वी दिल्ली में हालात नियंत्रण में ◾TOP 20 NEWS 26 February : आज की 20 सबसे बड़ी खबरें◾शहीद हेड कांस्टेबल रतन लाल के परिवार को 1 करोड़ और एक सदस्य नौकरी देंगे - अरविंद केजरीवाल ◾दिल्ली HC ने पुलिस को भड़काऊ बयान देने वाले BJP नेताओं पर FIR करने की दी सलाह◾दिल्ली हिंसा : IB अफसर अंकित शर्मा का मिला शव, हिंसा ग्रस्त इलाको में जारी है तनाव ◾हिंसा पर दिल्ली हाई कोर्ट सख्त, कहा-देश में एक और 1984 नहीं होने देंगे◾दिल्ली हिंसा पर PM मोदी की लोगों से अपील, ट्वीट कर लिखा-जल्द से जल्द बहाल हो सामान्य स्थिति◾दिल्ली हिंसा : हाई कोर्ट ने कपिल मिश्रा का वीडियो क्लिप देख कर पुलिस को लगाई कड़ी फटकार ◾सीएए हिंसा पर प्रियंका गांधी ने लोगों से की अपील, बोली- हिंसा न करें, सावधानी बरतें ◾सोनिया गांधी ने दिल्ली हिंसा को बताया सुनियोजित, गृहमंत्री से की इस्तीफे की मांग◾दिल्ली हिंसा : हेड कांस्टेबल रतनलाल को दिया गया शहीद का दर्जा, पत्नी को नौकरी के साथ मिलेंगे 1 करोड़ ◾सुप्रीम कोर्ट ने सीएए हिंसा को बताया दुर्भाग्यपूर्ण, याचिकाओं पर सुनवाई से किया इनकार ◾दिल्ली में हुई हिंसा के बाद यूपी में हाई अलर्ट, संवेदनशील जिलों में पुलिस बलों के साथ पीएसी तैनात ◾राजस्थान के बूंदी में नदी में बस गिरने से 24 लोगों की मौत, मृतकों में 3 बच्चे शामिल◾दिल्ली के तनावपूर्ण इलाके छावनी में तब्दील, सुरक्षा बलों के फ्लैगमार्च के साथ स्पेशल सीपी ने किया दौरा◾

बजटीय स्तर से कम रहेगा राजकोषीय घाटा

नई दिल्ली : वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि भारत 2018-19 में राजकोषीय घाटे को बजटीय लक्ष्य 3.3 प्रतिशत के नीचे रखने में कामयाब होगा। हालांकि यह चालू वित्त वर्ष के पहले दो महीने में ही सालाना लक्ष्य के 55 प्रतिशत पर पहुंच गया है। उन्होंने कहा कि ई - वे बिल का पूरा लाभ मिलना शुरू होने के साथ मौजूदा वित्त वर्ष में माल एवं सेवा कर (जीएसटी) से राजस्व 13 लाख करोड़ रुपये से अधिक पार कर जाने की उम्मीद है। गोयल ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘यह धारणा है कि राजकोषीय घाटे का लक्ष्य पूरा नहीं हो पाएगा लेकिन मेरा मानना है कि हम वास्तव में बजट में निर्धारित राजकोषीय घाटे के लक्ष्य से बेहतर करेंगे।’’

सरकार ने चालू वित्त वर्ष में राजकोषीय घाटा सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी)का 3.3 प्रतिशत रहने का लक्ष्य रखा है। यह 2017-18 के 3.53 प्रतिशत से कम है। राजस्व और व्यय के बीच अंतर राजकोषीय घाटा अप्रैल - मई अवधि में 3.45 लाख करोड़ रुपये रहा जो 2018-19 के बजटीय लक्ष्य का 55.3 प्रतिशत है। पिछले वित्त वर्ष 2017-18 की पहली तिमाही में राजकोषीय घाटा बजटीय अनुमान का 68.3 प्रतिशत था।

गोयल ने कहा, ‘‘इस वित्त वर्ष के अंत तक हमारा जीएसटी राजस्व 13 लाख करोड़ रुपये से अधिक होगा। हमें अबतक ई - वे बिल का पूरा लाभ नहीं मिला है। इसीलिए मेरा मानना है कि राजस्व में और सुधार होगा और करों में कुछ राहत दी जा सकती है।’’ सरकार ने वित्त वर्ष 2017-18 में सरकार ने एक जुलाई में जीएसटी लागू होने के बाद कुल 7.41 लाख करोड़ रुपये का राजस्व प्राप्त किया। औसत मासिक संग्रह 89,885 करोड़ रुपये रहा। चालू वित्त वर्ष में अप्रैल में संग्रह रिकार्ड 1.03 लाख करोड़ रुपये पहुंच गया जो मई में 94,016 करोड़ रुपये तथा जून में 95,610 करोड़ रुपये था।