BREAKING NEWS

Pakistan: इमरान खान ने कहा- वजीराबाद में तीन शूटरों मुझे जाने से मारने की कोशिश की थी◾भाजपा का दावा, केजरीवाल के करीबी लोग सत्येंद्र जैन के वीडियो करा रहे हैं लीक◾बीजेपी सरकारें बिना तुष्टीकरण के सशक्तीकरण करती हैं: मुख्तार अब्बास नकवी◾ब्लेक गोवर्स की शानदार हैट्रिक से पस्त हुई टीम इंडिया, ऑस्ट्रेलिया ने 7-4 से दी पटखनी◾UP News: गाजीपुर में बड़ी सड़क दुर्घटना, अज्ञात वाहन ने कार को बुरी तरह कुचला, मौके पर 3 की मौत◾गुजरात ATS का एक्शन, पीएम मोदी को आपत्तिजनक ई-मेल भेजने वाले बदायूं के युवक को पकड़ा ◾कनाडा में भारतीय छात्र की मौत, रोड क्रॉस करते हुए ट्रक ने साइकिल को कुचला, पुलिस ने लिया तुरंत एक्शन◾अशोक गहलोत और सचिन पायलट के मसले को सुलझाने के लिए जयराम लेंगे कठोर निर्णय◾आजम खान का गंभीर आरोप, कहा- सपा कार्यकर्ताओं को धमकाने के लिए पुलिस, प्रशासन का उपयोग कर रही भाजपा◾Delhi News : भागीरथ पैलेस में लगी आग को बुझाने का अभियान चौथे दिन भी जारी◾दिल्ली: MCD चुनाव पर भाजपा की रणनीति, BJP अध्यक्ष आदेश गुप्ता ने कहा- संविदा शिक्षकों को करेंगे नियमित◾सियासी पिच पर जीतने का प्रयास, ओडिशा के पदमपुर उपचुनाव के लिए तेज हुआ प्रचार◾हिमाचल में फिर खिलेगा कमल? पूर्व सीएम धूमल ने ठोका दावा- कांग्रेस खोखले दावे जनता के सामने परोस रही ◾महाराष्ट्र राज्य महिला आयोग ने स्वामी रामदेव को भेजा नोटिस, रामदेव ने महिलाओं को लेकर दिया था बयान ◾Maharashtra: फसल नष्ट होने के बाद बीमा की नगण्य राशि मिलने से निराश हैं किसान, क्या सरकार सुनेगी फरियाद?◾Gujarat: गुजरात चुनाव में सियासत गर्म! ओवैसी ने केजरीवाल पर जमकर साधा निशाना- कह डाली यह बात◾जेपी नड्डा ने किया दावा, कहा- AAP से तंग आकर एमसीडी चुनाव में BJP को वोट देने को बेताब लोग◾सीएम केजरीवाल ने कहा, BJP Video बनाने वाली कंपनी है, हर वार्ड में खोलेगी दुकान◾जनसंख्या नियंत्रण पर गरजे गिरिराज सिंह, कहा- चीन से मुकाबला करना है तो लाना ही पड़ेगा विधेयक◾Belarus: बेलारूस के विदेश मंत्री व्लादिमीर मेकी का निधन, 64 वर्ष में ली आखिरी सांस, देश में शोक की लहर ◾

विदेश व्यापार नीति की मध्यावधि समीक्षा मंगल को

नई दिल्ली: सरकार विदेश व्यापार नीति (एफटीपी) की बहुप्रतीक्षित मध्यावधि समीक्षा मंगलवार को जारी करेगी। एफटीपी में निर्यातकों की दिक्कतों को दूर करने का प्रयास किया जाएगा। जिससे निर्यात में आ रही गिरावट को रोका जा सके। निर्यातक माल एवं सेवा कर (जीएसटी) के क्रियान्वयन के बाद पेश आने वाली चुनौतियों को लेकर चिंतित हैं। उनका यहां तक कहना है कि उन्हें इस नई अप्रत्यक्ष कर व्यवस्था से बाहर रखा जाना चाहिए। इसके अलावा निर्यातकों की मांग है कि ड्रॉबैक रिफंड के काम को तेज किया जाए क्योंकि इससे उनकी कार्यशील पूंजी अटक रही है।

पहले एफटीपी की मध्यावधि समीक्षा एक जुलाई को जीएसटी के क्रियान्वयन के साथ की जानी थी। हालांकि, उस समय इसे टाल दिया गया था क्योंकि सरकार इसमें जीएसटी के क्रियान्वयन के बाद निर्यातकों के अनुभव को शामिल करना चाहती थी। विदेश व्यापार महानिदेशालय (डीजीएफटी) ने अपने कार्यालय आदेश में कहा है कि डीजीएफटी (मुख्यालय) नई दिल्ली, दो और तीन दिसंबर (शनिवार और रविवार) को भी खुला रहेगा जिससे एफटीपी की मध्यावधि समीक्षा की तैयारियां की जा सकें।

डीजीएफटी मुख्यालय ने सभी अधिकारियों को शनिवार और रविवार को कार्यालय आने का आदेश जारी किया है। अक्तूबर में निर्यात नकारात्मक दायरे में आ गया है। अक्तूबर में निर्यात 1.12 प्रतिशत गिरा है। जीएसटी के क्रियान्वयन के बाद निर्यातकों के समक्ष आ रही तरलता की समस्या की वजह से निर्यात नीचे आ रहा है। पांच वर्षीय एफटीपी की घोषणा एक अप्रैल, 2015 को की गई थी। इसमें देश के वस्तुओं और सेवाओं के निर्यात को 2020 तक 900 अरब डॉलर पर पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। इसमें विश्व के निर्यात में भारत का हिस्सा दो प्रतिशत से बढ़कर 3.5 प्रतिशत करने का लक्ष्य रखा गया है।