BREAKING NEWS

कर्नाटक में 31 जनवरी से नाइट कर्फ्यू हटाने का फैसला, इस खबर में जाने किन-किन चीजों में मिली है ढील ◾PM मोदी दो फरवरी को BJP कार्यकर्ताओं से करेंगे संवाद, बजट से जुड़ी तमाम उपलब्धियों के बारे में देंगे जानकारी ◾राजस्थान: हनीट्रैप के मामले में महिला गिरफ्तार, दुष्कर्म का मामला दर्ज करवा कर 40 लाख रुपये की मांग की◾मुजफ्फरनगर में बोले शाह-सपा की सरकार बन गई तो जयंत चौधरी को धोखा देंगे अखिलेश ◾ रविवार को गोवा दौरे पर रहेंगे गृह मंत्री अमित शाह, तीन जनसभाओं को करेंगे संबोधित◾'चौकीदार ही जासूस है' Pegasus पर खुलासे को लेकर मोदी सरकार पर हमलावर हुई कांग्रेस◾यूपी : CM योगी ने 'हज हाउस' को लेकर SP पर साधा निशाना, 'कैलाश मानसरोवर भवन' के बारे में कही यह बात ◾NYT की रिपोर्ट में दावा, भारत ने इजरायल से डिफेंस डील में खरीदा था Pegasus◾बजट सत्र : संसद के दोनों सदनों में 31 जनवरी और 1 फरवरी को नहीं होगा शून्य काल◾अखिलेश को न कोरोना का टीका पसंद, न माथे का टीका : केशव प्रसाद मौर्य◾यूपी चुनाव : गृहमंत्री शाह और BJP अध्यक्ष समेत यह बड़े नेता करेंगे प्रचार, जानिए कौन किस जगह मांगेगा वोट ◾UP विधानसभा चुनाव : शाह-नड्डा के बाद अब PM भरेंगे हुंकार, 31 जनवरी को पहली वर्चुअल रैली◾देश में 24 घंटे में कोरोना संक्रमित 871 लोगों ने तोड़ा दम, नए मामलों में गिरावट◾वैश्विक स्तर पर कोरोना के मामलों में जारी है वृद्धि, 36.94 करोड़ हुआ संक्रमितों का आंकड़ा ◾अखिलेश ने बीजेपी पर साधा निशाना - BJP से सावधान रहें, वोट की खातिर उसने कृषि कानून वापस लिए◾कांग्रेस का दावा - हम फिर से बनाएंगे सरकार◾बंगाल चुनाव बाद हिंसा: भाजपा कार्यकर्ता की मौत मामले में CBI ने सात लोगों को किया गिरफ्तार ◾दिल्ली कोविड : बीते 24 घंटों में आए 4,044 नए मामले, कल के मुकाबले कम हुई मौतें ◾वी.अनंत नागेश्वरन ने संभाला देश के नए मुख्य आर्थिक सलाहकार का पद, आम बजट से पहले केंद्र सरकार ने किया ऐलान◾मिसाइल आपूर्ति करने वाले देशों के प्रतिष्ठित क्लब में शामिल हुआ भारत, इस देश को देगा शक्तिशाली ब्रह्मोस ◾

गौतम अडाणी ने 2030 तक दुनिया की सबसे बड़ी अक्षय ऊर्जा कंपनी बनने का खाका पेश किया

अरबपति उद्योगपति गौतम अडाणी ने बुधवार को अडाणी सूमह को 2025 तक दुनिया की सबसे बड़ी सौर ऊर्जा कंपनी और 2030 तक सबसे बड़ी अक्षय ऊर्जा कंपनी बनाने के लिए रूपरेखा पेश की। इसके लिए समूह ने आक्रामक तरीके से क्षमता विस्तार की योजना बनाई है। 

अडाणी समूह के चेयरमैन ने लिंक्डइन पोस्ट में लिखा है कि अक्षय ऊर्जा क्षेत्र का दौर उम्मीद से अधिक तेजी से उभरा है। अक्षय ऊर्जा में मुख्य रूप से सौर ऊर्जा, पवन ऊर्जा शामिल होतीं हैं। उन्होंने कहा, ‘‘अभी हमारा अक्षय ऊर्जा उत्पादन संपत्तियों का पोर्टफोलियो 2.5 गीगावॉट का है। 2.9 गीगावॉट की निर्माणाधीन क्षमता जुड़ने के बाद यह 2020 तक दोगुने से अधिक हो जाएगा। उसके बाद यह तीन गुना वृद्धि के साथ 2025 तक 18 गीगावॉट तक पहुंच जायेगी।’’ 

उन्होंने लिखा है, ‘‘हमारा दृष्टिकोण 2025 तक दुनिया की सबसे बड़ी सौर ऊर्जा कंपनी बनने का है। इसके बाद 2030 तक हमारा लक्ष्य दुनिया की सबसे बड़ी अक्षय ऊर्जा कंपनी बनने का है।’’ कुल मिलाकर 15 अरब डॉलर के अडाणी समूह की उपस्थिति ऊर्जा, कृषि कारोबार, रियल एस्टेट और रक्षा तथा अन्य क्षेत्रों में है। 

अडाणी समूह के पास न केवल कोयला आधारित बिजली संयंत्र हैं, बल्कि उसके पास भारत और आस्ट्रेलिया में कोयला खदानें भी हैं। समूह ने कोयले में बड़ा निवेश किया है। अडाणी समूह का खान, ढुलाई जहाज, बंदरगाह और बिजली संयंत्र का साम्राज्य काफी हद तक कोयले पर निर्भर है। 

अडाणी ने कहा कि समूह अब ऐसी स्थिति में पहुंच गया है जहां यह न सिर्फ भारत बल्कि वैश्विक स्तर पर भी स्वच्छ ऊर्जा की ओर बदलाव में महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकता है। वर्ष 2019 में अडाणी समूह सौर ऊर्जा के क्षेत्र में दुनिया की छठी सबसे बड़ी कंपनी बन गई है। 

अडाणी ने कहा, ‘‘हम 2020 तक देश की सबसे बड़ी अक्षय ऊर्जा कंपनी बनने की ओर अग्रसर हैं। 2021 तक हम दुनिया की शीर्ष सौर ऊर्जा कंपनियों में शामिल होंगे।’’ अडाणी ने कहा कि इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए हम अपने ऊर्जा क्षेत्र के लिए तय निवेश का 70 प्रतिशत स्वच्छ ऊर्जा और ऊर्जा दक्ष प्रणालियों में करेंगे। 

उन्होंने कहा, ‘‘हमारी इस यात्रा में जिस एक अन्य परियोजना ने आकार लेना शुरू कर दिया है, वह गुजरात के मुंदड़ा में 1.3 गीगावॉट के अत्याधुनिक सोलर सेल और मॉड्यूल विनिर्माण संयंत्र का विस्तार कर 3.5 गीगावॉट के विनिर्माण संयंत्र में बदलना है।’’