BREAKING NEWS

प्रदूषण को लेकर SC की AAP सरकार को फटकार, जब बड़े घर पर हैं तो बच्चों के लिए क्यों खोले स्कूल? ◾Petrol-Diesel Price : दिल्ली में आज से नई कीमत लागू, जानिए आपके शहर में पेट्रोल-डीजल के दाम◾विश्व में ओमीक्रॉन के बढ़ते प्रकोप के बीच SII ने कोविशील्ड की बूस्टर डोज के लिए DCGI से मांगी मंजूरी ◾UPTET पेपर लीक: वरुण गांधी ने किया योगी सरकार पर कटाक्ष, पूछा- कब तक सब्र करे भारत का युवा... ◾ममता के 'UPA क्या है' वाले बयान पर बोले खड़गे-हमें मिलकर BJP से लड़ना है, आपस में न लड़े विपक्ष ◾राजधानी दिल्ली में हुई प्रदूषण की वापसी, बहुत खराब श्रेणी में दर्ज हुआ AQI, हल्की बारिश की संभावना ◾Today's Corona Update : 'ओमिक्रॉन' वैरिएंट के बीच भारत में बढ़ी चिंता, एक दिन में 477 लोगों की हुई मौत◾लोकसभा में विपक्ष बनाए शांति तो कई अहम विधेयक पेश करेगी सरकार, ओमीक्रॉन वेरिएंट पर भी हो सकती है चर्चा ◾ भारत आने वाले है रुस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन, 7.5 लाख AK-203 असॉल्ट राइफल डील हो सकती है फाइनल ◾मुरादाबाद : प्रियंका गांधी आज ससुराल में करेंगी ‘प्रतिज्ञा रैली’, पार्टी कार्यकर्ताओं में भरेंगी जोश◾पंजाब कांग्रेस में घमासान जारी, राहुल तक पहुंची जाखड़ Vs सिद्धू की लड़ाई, CM चन्नी ने भी की मुलाकात ◾केंद्र सरकार ने 15 दिसंबर से शुरू होने वाली अंतरराष्ट्रीय उड़ानों पर लगाई रोक, बाद में किया जाएगा विचार ◾विदेश सचिव श्रृंगला ने अफगानिस्तान मामलों के यूरोपीय संघ के विशेष दूत से मुलाकात की◾ममता के बयान पर वेणुगोपाल का पलटवार, बोले- यह महज एक सपना है..कि कांग्रेस के बिना BJP को हरा सकते है◾मुंबई हवाई अड्डे पर पहुंचने वाले घरेलू यात्रियों को RTPCR की निगेटिव रिपोर्ट लेकर आना अनिवार्य : BMC ◾PM मोदी के कुशल नेतृत्व के चलते भारत आज वैश्विक अर्थव्यवस्था में एक ‘‘ब्राइट स्पॉट’’ के रूप में उभर रहा है: BJP◾पंजाब इलेक्शन से पहले SAD को लगा झटका, मनजिंदर सिंह सिरसा ने थामा BJP का कमल◾केजरीवाल के पेट्रोल की कीमतों पर देर से लिए फैसले से दिल्ली वासियों को करोड़ों रुपये का नुकसान हुआ : मनोज तिवारी◾कृषि कानूनों के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसानों की सुरक्षा पर केंद्र ने झाड़ा पल्ला, कहा- इसकी जिम्मेदारी राज्य सरकारों की◾प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जागरूकता मिशन की शुरुआत करेंगे ‘गोल्डन ब्वाय’ नीरज चोपड़ा ◾

4 साल में घटी GST दर, टैक्सपेयर की संख्या में हुई बढ़ोतरी, 66 करोड़ से अधिक रिटर्न दाखिल : वित्त मंत्रालय

 वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) व्यवस्था के चार साल पूरे होने के मौके पर वित्त मंत्रालय ने बुधवार को कहा कि अब तक 66 करोड़ से अधिक जीएसटी रिटर्न दाखिल किए गए, कर की दरें में कटौती हुई और करदाताओं की संख्या में बढ़ी है। पूरे देश में एक राष्ट्रव्यापी जीएसटी एक जुलाई 2017 को लागू किया गया था, जिसमें उत्पाद शुल्क, सेवा कर, वैट और 13 उपकर जैसे कुल 17 स्थानीय कर समाहित थे।

वित्त मंत्रालय ने ट्वीट कर कहा कि जीएसटी ने सभी करदाताओं के लिए अनुपालन को सरल बना दिया है और जीएसटी परिषद ने कोविड-19 महामारी के प्रकोप के मद्देनजर कई राहत उपायों की सिफारिश भी की है। जीएसटी के तहत 40 लाख रुपये तक वार्षिक कारोबार वाले व्यवसायों को कर से छूट दी गई है। इसके अतिरिक्त 1.5 करोड़ रुपये तक के टर्नओवर वाले लोग कंपोजिशन स्कीम का विकल्प चुन सकते हैं और केवल एक प्रतिशत कर का भुगतान कर सकते हैं।

इसी तरह सेवाओं के लिए एक साल में 20 लाख रुपये तक कारोबार वाले व्यवसायों को जीएसटी से छूट दी गई है। इसके बाद एक साल में 50 लाख रुपये तक का कारोबार करने वाले सेवाप्रदाता कंपोजिशन स्कीम का विकल्प चुन सकते हैं और उन्हें केवल छह प्रतिशत कर का भुगतान करना होगा।

मंत्रालय ने ट्वीट किया, ‘‘अब यह व्यापक रूप से स्वीकार कर लिया गया है कि जीएसटी उपभोक्ताओं और करदाताओं, दोनों के अनुकूल है। जीएसटी से पहले उच्च कर दरों ने कर भुगतान करने को हतोत्साहित किया, हालांकि जीएसटी के तहत कम दरों ने कर अनुपालन को बढ़ाने में मदद की। अब तक 66 करोड़ से अधिक जीएसटी रिटर्न दाखिल किए गए हैं।’’

वित्त मंत्रालय ने कहा कि जीएसटी के तहत लगभग 1.3 करोड़ करदाताओं के पंजीकरण के साथ अनुपालन में लगातार सुधार हो रहा है। वित्त मंत्रालय ने हैशटैग ‘4इयरऑफजीएसटी’ के साथ ट्वीट करते हुए कहा कि जीएसटी ने उच्च कर दरों को कम किया।

मंत्रालय ने कहा, ‘‘आरएनआर समिति द्वारा अनुशंसित राजस्व तटस्थ दर 15.3 प्रतिशत थी। इसकी तुलना में आरबीआई के अनुसार वर्तमान में भारित जीएसटी दर केवल 11.6 प्रतिशत है।’’ मंत्रालय ने आगे कहा कि जीएसटी ने जटिल अप्रत्यक्ष कर ढांचे को एक सरल, पारदर्शी और प्रौद्योगिकी संचालित कर व्यवस्था में बदल दिया है और इस तरह भारत को एक बाजार में एकजुट किया है।

भारत की देशी वैक्सीन 'Covaxin' ने अमेरिका में दिखाई धमक, कोरोना के डेल्टा वैरिएंट पर भी है प्रभावी