BREAKING NEWS

गुजरात : मतदान से पहले BJP उम्मीदवार पर जानलेवा हमला, कांग्रेस पर लगा गंभीर आरोप◾Shraddha Murder Case: नार्को में सवालों के जवाब उगलेगा आफताब, अस्पताल के बाहर कड़ी सुरक्षा◾गुजरात चुनाव 2022 : जानिये कौन है साइकिल पर गैस सिलेंडर लेकर वोट डालने पहुंचे कांग्रेस उम्मीदवार◾श्रद्धा मर्डर केस : आज होगा आफताब का नार्को टेस्ट, आरोपी को अंबेडकर अस्पताल लेकर पहुंची पुलिस◾कोविड-19 : देश में पिछले 24 घंटो में 291 नए मामले दर्ज, उपचाराधीन मरीजों की संख्या घटकर 4,767 ◾गुजरात विधानसभा चुनाव : पहले चरण के लिए मतदान शुरू, 788 उम्मीदवारों की किस्मत का होगा फैसला ◾गुजरात चुनाव के पहले चरण का मतदान शुरू, PM मोदी व गृहमंत्री ने की बड़ी संख्या में मतदान की अपील◾आज का राशिफल (01 दिसंबर 2022)◾खुद के विकास में जुटे नेता, एमसीडी चुनाव दोबारा लड़ रहे 75 पार्षदों की संपत्ति में तीन से 4,437% तक की वृद्धि : ADR◾SC ने कहा- सबसे महत्वपूर्ण सवाल, क्या ‘जल्लीकट्टू’ को किसी भी रूप में अनुमति दी जा सकती◾सीएम योगी ने कहा- सैनी ने मुजफ्फरनगर की गरिमा बचाने के लिए खोई विधानसभा सदस्यता◾Congress ने कहा- तीसरी तिमाही में आर्थिक वृद्धि दर और गिरने का डर, सच्चाई से मुंह नहीं मोड़ें PM◾Delhi Excise Policy: अमित अरोड़ा की बढ़ी मुश्किलें, कोर्ट ने 7 दिन के लिए ईडी हिरासत में भेजा◾धामी सरकार का कट्टरपंथियों पर प्रहार, विधानसभा में सख्त प्रावधान वाला धर्मांतरण रोधी संशोधन ​विधेयक पारित◾गुजरात पर चुनाव पूर्व सर्वेक्षण से कांग्रेस को तकलीफ, EC से कार्रवाई की मांग की◾GDP growth rate दूसरी तिमाही में घटकर 6.3% रही, विनिर्माण, खनन क्षेत्रों में गिरावट का असर◾Border dispute: महाराष्ट्र-कर्नाटक सीमा विवाद के बीच बेलगावी जिले में सुरक्षा सख्त◾Bihar: तेजस्वी यादव ने कहा- 5 दिसंबर को होगा लालू प्रसाद यादव का प्रतिरोपण◾भाजपा ने PM मोदी के खिलाफ ‘आपत्तिजनक शब्दों’ के इस्तेमाल पर कांग्रेस को लिया आड़े हाथ ◾दिल्ली: चांदनी चौक हुई धुंआ-धुंआ! एक दुकान में लगी भीषण आग, दमकल विभाग ने संभाला मोर्चा ◾

सरकार के पास अटका 20,000 करोड़ का जीएसटी रिफंड

नई दिल्ली : निर्यातकों के प्रमुख संगठन फेडरेशन आफ इंडियन एक्सपोर्ट आर्गेनाइजेशन (फियो) ने कहा कि निर्यातकों का सरकार के पास करीब 20,000 करोड़ रुपये का माल एवं सेवा कर (जीएसटी) रिफंड अटका हुआ है। इससे निर्यातकों को नकदी का संकट हो गया है। फियो के अध्यक्ष गणेश गुप्ता ने कहा कि रिफंड में देरी की वजह से मुख्य रूप से छोटे निर्यातक प्रभावित हो रहे हैं, जो श्रम आधारित रोजगार के अवसर उपलब्ध कराते हैं। गुप्ता ने कहा कि निर्यातकों विशेषरूप से एमएसएमई क्षेत्र के निर्यातकों के समक्ष तरलता प्रमुख संकट है।गहन रोजगार वाले क्ष्रेत्रों के निर्यात में इसका प्रमुख योगदान रहता है।

उन्होंने कहा कि जीएसटी के मोर्चे पर चुनौतियां जारी हैं, हालांकि एक पखवाड़े में मंजूरी का अभियान काफी सफल रहा है। इससे हमें उम्मीद बंधी है कि रिफंड तत्काल आधार पर मिल सकेगा। उन्होंने बताया कि मार्च में करीब 7,000 करोड़ रुपये का रिफंड दिया गया। अप्रैल में यह राशि एक हजार करोड़ रुपये से कुछ अधिक रही। गुप्ता ने कहा कि हमारे अनुमान के अनुसार एकीकृत जीएसटी (आईजीएसटी) और इनपुट कर क्रेडिट (आईटीसी) के रूप में 20,000 करोड़ रुपये से अधिक का रिफंड अटका है।

तकनीकी दिक्कतों की वजह से कई निर्यातक आईटीसी रिफंड को दाखिल नहीं कर पाए हैं। उन्होंने कहा कि इनपुट कर क्रेडिट और निर्यात अलग अलग महीनों के दौरान होने की वजह से इसमें दिक्कत आ रही है। उन्होंने कहा कि जीएसटी रिफंड की प्रक्रिया काफी धीमी हो गई है। फेडरेशन ने वित्त मंत्री से रिफंड की समस्या पर ध्यान देने की अपील की है। गुप्ता ने कहा कि ज्यादा समस्या आईटीसी रिफंड के मामले में है। यह रिफंड राज्यों में भी होना है। रिफंड की प्रक्रिया में मानव हस्तक्षेप होने की वजह से निर्यातकों के लिये लेनदेन समय और लागत बढ़ रही है।

24X7  नई खबरों से अवगत रहने के लिए यहाँ क्लिक करें।