BREAKING NEWS

दिल्ली-NCR में 4.7 रिक्टर स्केल तीव्रता भूकंप के झटके, राजस्थान के अलवर में था भूकंप का केंद्र◾सीएम योगी का ऐलान - शहीद पुलिसकर्मियों के परिवार को सरकारी नौकरी और एक करोड़ रुपये का मुआवजा ◾चीन से सीमा विवाद पर भारत के समर्थन में आया जापान, कहा- LAC की यथास्थिति बदलने के एकतरफा प्रयास का करेंगे विरोध◾पीएम मोदी ने गलवान घाटी झड़प में घायल सैनिकों से कहा- ‘आपने करारा जवाब दिया’◾लद्दाख में अतिक्रमण को लेकर राहुल ने ट्वीट किया वीडियो, कहा-कोई तो बोल रहा है झूठ◾लेह से चीन को PM मोदी का सख्त सन्देश, बोले- इतिहास गवाह है कि विस्तारवादी ताकतों को हमेशा मिली हार◾PM मोदी के लेह दौरे से तिलमिलाया ड्रैगन, कहा-कोई पक्ष हालात न बिगाड़े ◾चीन और पाकिस्तान से बिजली उपकरणों का आयात नहीं करेगा भारत ◾PM मोदी के लेह दौरे पर सियासत शुरू, मनीष तिवारी बोले- जब इंदिरा गई थीं तो पाक के दो टुकड़े किए थे◾World Corona : दुनियाभर में संक्रमितों का आंकड़ा 1 करोड़ 8 लाख के पार, सवा पांच लाख के करीब लोगों की मौत◾कानपुर में शहीद हुए पुलिसकर्मियों को CM योगी ने दी श्रद्धांजलि, कहा-व्यर्थ नहीं जाएगा यह बलिदान ◾चीन के साथ तनाव के बीच PM मोदी का औचक लेह दौरा, अग्रिम पोस्ट पर जवानों से की मुलाकात◾देश में एक दिन में 20 हजार से अधिक कोरोना मामलों की पुष्टि, संक्रमितों का आंकड़ा सवा छह लाख के पार◾15 अगस्त को लॉन्च हो सकती है स्वदेशी कोरोना वैक्सीन COVAXIN, 7 जुलाई से शुरू होगा ह्यूमन ट्रायल◾जम्मू-कश्मीर : श्रीनगर में मुठभेड़ में CRPF का एक जवान शहीद, एक आतंकवादी भी ढेर◾कानपुर में अपराधियों को पकड़ने गई पुलिस पर हमला, मुठभेड़ में आठ पुलिसकर्मी शहीद◾मुंबई : बॉलीवुड की मशहूर कोरियोग्राफर सरोज खान का कार्डियक अरेस्ट के चलते निधन◾Covid 19 : अमेरिका में संक्रमितों की संख्या 27 लाख के पार, सवा एक लाख से अधिक लोगों की मौत ◾महाराष्ट्र में कोरोना ने तोड़े सारे रिकॉर्ड, एक दिन में 6,330 नए मामलों के साथ राज्य में मौत का आंकड़ा 8,178◾गूगल प्ले स्टोर, एपल ऐप स्टोर से हटी भारत सरकार द्वारा बैन चीन की 59 ऐप, कंपनियों ने रोया दुखड़ा ◾

भारत में कोरोना के आँकड़े #GharBaithoNaIndiaSource : Ministry of Health and Family Welfare

कोरोना की पुष्टि

इलाज चल रहा है

ठीक हो चुके

मृत लोग

आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस में दुनिया का अग्रणी बन सकता है भारत

वाशिंगटन : भारत में कृत्रिम मेधा (आर्टिफिशयल इंटेलीजेंस-एआई) क्षेत्र का वैश्विक अगुआ बनने की क्षमता है। लेकिन इसके लिए जरूरी है कि एआई को बड़े पैमाने पर देश की शिक्षा व्यवस्था में शामिल किया जाए। इंफोसिस के पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी विशाल सिक्का ने एक विशेष बातचीत में यह बात कही। हाल ही में पांच करोड़ डॉलर के कोष वाले एआई स्टार्टअप वायनाय सिस्टम की घोषणा करने वाले सिक्का ने कहा कि एआई या कृत्रिम मेधा के मामले में भारत एक महत्वपूर्ण मोड़ पर है। उन्होंने कहा कि अगले 20-25 सालों में, कृत्रिम मेधा भारतीय समाज के लिए एक बहुत बड़ा परिवर्तन लाने वाला सिद्ध होने जा रही है। ऑटोमेशन (स्वचालन) की अभी शुरुआत ही हुई है। 

उन्होंने कहा कि यदि हम शिक्षा में कृत्रिम मेधा को लाने में सफल रहे तो देश में एआई प्रणाली बनाने की क्षमता बड़े पैमाने पर है। यह भारत की एक लंबी छलांग हो सकती है और यह भारत को कृत्रिम मेधा, एआई कौशल और एआई प्रतिभा में विश्व में अग्रणी बना सकती है। ऐसा करने के लिए हमें कई दिशाओं में एक साथ काम करने की जरूरत है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अनुरोध पर सिक्का ने पिछले महीने नीति आयोग के समक्ष प्रस्तुतीकरण दिया था। इसमें बताया था कि कैसे बड़े पैमाने पर भारतीय समाज में कृत्रिम मेधा की पहुंच को बढ़ाया जा सकता है। 

एआई पर सिक्का के प्रस्तुतीकरण के दौरान 20 केंद्रीय मंत्रालयों के प्रतिनिधि मौजूद रहे। सिक्का के मुताबिक प्रधानमंत्री ने मजाक में कहा था कि उन्होंने जब भी छात्रों को डिजिटल कक्षा में पढ़ते देखा तो पाया कि वे उसमें इतने तल्लीन हो जाते हैं कि दोपहर का खाना खाना भी भूल जाते हैं। सिक्का ने कहा कि यह बहुत ही प्रोत्साहित करने वाला था लेकिन मुझे लगता है इस दिशा में बहुत कुछ करने की जरूरत है। उन्होंने डिजिटल कक्षाओं की तरह देशव्यापी बहुआयामी कार्यक्रमों का सुझाव दिया है।